लाइव टीवी

नोटों से फ़ैल सकता है कोरोना! सरकार ने कहा डिजिटल लेन-देन करें लोग, लॉकडाउन के दौरान नहीं होगी कोई दिक्कत

News18Hindi
Updated: March 26, 2020, 9:57 AM IST
नोटों से फ़ैल सकता है कोरोना! सरकार ने कहा डिजिटल लेन-देन करें लोग, लॉकडाउन के दौरान नहीं होगी कोई दिक्कत
डिजिटल लेन-देन करें लोग

भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) ने नोटों से कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने की आशंका से बचने के लिये लोगों से डिजिटल लेन-देन पर निर्भरता बढ़ाने का आग्रह किया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 26, 2020, 9:57 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) ने नोटों से कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने की आशंका से बचने के लिये लोगों से डिजिटल लेन-देन पर निर्भरता बढ़ाने का बुधवार को आग्रह किया. नियामक ने कहा कि वह कामकाज जारी रखने की अपनी योजना को बेहतर बना रहा है ताकि राष्ट्रीय बंदी (लॉकडाउन) के दौरान लोगों को दिक्कतें नहीं आये.

एनपीसीआई के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी दिलीप आस्बे ने कहा कि कामकाज जारी रखने की हमारी योजना लचीली है और इसे कोविड-19 के कारण उत्पन्न चुनौती पूर्ण परिस्थितियों में हर प्रकार की भुगतान प्रणाली की जरूरतें पूरा करने के लिये बेहतर बनाया गया है. विशेष कर हमारी संरचना यूपीआई प्लेटफॉर्म के अतिरिक्त दबाव को संभालने में मदद करेगी.

ये भी पढ़ें: 10 करोड़ों लोगों के खाते में पैसे डालेगी सरकार, इस हफ्ते हो सकती है घोषणा

उन्होंने कहा कि हम जरूरी सामानों के सभी सेवा प्रदाताओं तथा उपभोक्ताओं से आग्रह करते हैं कि सुरक्षित बने रहने के लिये डिजिटल भुगतान अपनायें.



आस्बे ने कहा कि एनपीसीआई राज्य सरकारों के साथ मिलकर काम कर रहा है, ताकि अधिक से अधिक वेंडरों को डिजिटल भुगतान से जोड़ा जा सके. उन्होंने कहा कि नियामक ने यूपीआई की प्रणाली से जुड़ने की प्रक्रिया तेज कर दी है तथा इसे पूरी तरह से संपर्क-रहित बना दिया है, ताकि वेंडरों को अपनी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी निभाते समय अलग-थलग रहने के दिशानिर्देशों के साथ समझौता नहीं करना पड़े.

ये भी पढ़ें: कर्मचारियों के लिए हैंड सैनेटाइजर बना रही है Railway, इतनी है कीमत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 26, 2020, 9:57 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर