सिक्किम ने दिया बकाया देने का आश्वासन, NTPC ने बहाल की बिजली की सप्लाई

प्रतीकात्मक तस्वीर

प्रतीकात्मक तस्वीर

तीन मार्च को मध्यरात्रि में देश की सबसे बड़ी बिजली उत्पादक कंपनी एनटीपीसी (NTPC) ने बकाया का भुगतान नहीं होने की वजह से सिक्किम को 105 मेगावॉट की बिजली की आपूर्ति रोक दी थी.

  • Share this:
नई दिल्ली. सिक्किम द्वारा समयबद्ध तरीके से 89 करोड़ रुपये के बकाये के भुगतान के आश्वासन के बाद सार्वजनिक क्षेत्र की बिजली कंपनी नेशनल थर्मल पावर कॉर्पोरेशन लिमिटेड यानी एनटीपीसी (National Thermal Power Corporation) ने राज्य की बिजली आपूर्ति बहाल कर दी है. कंपनी के एक अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी.

तीन मार्च को मध्यरात्रि में देश की सबसे बड़ी बिजली उत्पादक कंपनी एनटीपीसी (NTPC) ने बकाया का भुगतान नहीं होने की वजह से सिक्किम को 105 मेगावॉट की बिजली की आपूर्ति रोक दी थी. साख पत्र उपलब्ध कराने की अनिवार्यता के बावजूद सिक्किम ऐसा नहीं कर पाया था.

अधिकारी ने बताया, ''एनटीपीसी ने सात मार्च को सिक्किम की बिजली आपूर्ति बहाल कर दी है.''



ये भी पढ़ें- LPG Gas Subsidy Status: क्या आपके अकाउंट में आ रही है गैस सब्सिडी, ऐसे आसानी से करें पता
RGPPL में गेल की 25.1 फीसदी हिस्सेदारी खरीदेगी एनटीपीसी
हाल ही में एनटीपीसी ने कहा था कि उसने रत्नागिरी गैस एंड पावर प्राइवेट लि. (आरजीपीपीएल) में गेल की 25.51 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने को लेकर शेयर खरीद समझौता किया है. आरजीपीपीएल को दाभोल परियोजना के नाम से भी जाना जाता है. इस सौदे के पूरा हो जाने के बाद एनटीपीसी की आरजीपीपीएल में 86.49 फीसदी हिस्सेदारी हो जाएगी. इससे पहले, जनवरी में कंपनी ने आरजीपीपीएल में उसको कर्ज दे रखे वित्तीय संस्थानों से 35.47 फीसदी हिस्सेदारी खरीदने की घोषणा की थी. शुरू में एनटीपीसी और गेल दोनों ने दाभोल परियोजना में 25.51-25.51 फीसदी हिस्सेदारी का अधिग्रहण किया था.

ये भी पढ़ें- बहुत आसान है Credit Card Statement समझना, जानें किन-किन चीजों की मिलती है जानकारी

समझौतों के तहत शेयरों के हस्तांतरण के साथ एनटीपीसी कोंकण एलएनजी लि. से बाहर हो जाएगी जबकि एनटीपीसी की आरजीपीपीएल में हिस्सेदारी बढ़कर 86.49 फीसदी हो जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज