Home /News /business /

Nykaa का स्टॉक अब गिरेगा क्या? एंकर-निवेशकों का लॉक-इन पीरियड पूरा

Nykaa का स्टॉक अब गिरेगा क्या? एंकर-निवेशकों का लॉक-इन पीरियड पूरा

नायका के एंकर-निवेशकों (Anchor Investors) का अनिवार्य लॉक-इन पीरियड (lock-in period) आज, बुधवार, को खत्म हो गया है.

नायका के एंकर-निवेशकों (Anchor Investors) का अनिवार्य लॉक-इन पीरियड (lock-in period) आज, बुधवार, को खत्म हो गया है.

नायका (Nykaa) के बारे में एक अहम जानकारी हम आपको देने जा रहे हैं, जिसे कि आपके लिए जानना बेहद जरूरी है. इस स्टॉक के एंकर-निवेशकों (Anchor Investors) का अनिवार्य लॉक-इन पीरियड (lock-in period) आज, बुधवार, को खत्म हो गया है. लॉक-इन खत्म होने के बाद अब एंकर-निवेशक इस स्टॉक को बेच सकते हैं और यदि ऐसा होता है तो इस स्टॉक का कुछ हद तक नीचे आना स्वाभाविक होगा. लेकिन कुछ एक्सपर्ट मानते हैं कि एंकर निवेशक ((Anchor Investors)) हमेशा लॉक-इन के तुरंत बाद बाहर नहीं निकलते हैं, जिससे की स्टॉक पर अचानक दबाव न आए.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. नायका (Nykaa) के आईपीओ ने शानदार रिटर्न दिया था. न सिर्फ नायका, बल्कि पिछले महीने खुले लगभग सभी आईपीओ ठीक-ठाक चले. पिछले कुछ दिनों से बाजार में आई गिरावट के साथ सभी नए लिस्ट हुए स्टॉक्स में भी बिकवाली देखी गई थी. नायका (Nykaa) के बारे में एक अहम जानकारी हम आपको देने जा रहे हैं, जिसे कि आपके लिए जानना बेहद जरूरी है. इस स्टॉक के एंकर-निवेशकों (Anchor Investors) का अनिवार्य लॉक-इन पीरियड आज, बुधवार, को खत्म हो गया है. लॉक-इन खत्म होने के बाद अब एंकर-निवेशक इस स्टॉक को बेच सकते हैं और यदि ऐसा होता है तो इस स्टॉक का कुछ हद तक नीचे आना स्वाभाविक होगा.

    10 नवम्बर 2021 को NSE पर लिस्ट हुए नायका (Nykaa) का स्टॉक लगभग 80 प्रतिशत प्रीमियम के साथ 2018 रुपये पर खुला था. 26 नवम्बर को इसने 2573.70 रुपये का हाई बनाया था. उसके बाद से शेयर में गिरावट देखी गई. बुधवार को भी स्टॉक कल के स्तर से काफी नीचे खुला, मगर बाजार के सेटिमेंट्स के साथ इसमें अच्छी खरीदारी देखी गई. बुधवार को 2049 रुपये पर खुलकर 2182 रुपये के पार बंद हुआ.

    Edelweiss Alternative Research की एक रिपोर्ट के अनुसार, नवंबर में 10 आईपीओ ने 36,000 करोड़ रुपये से अधिक रकम जुटाए और अब 8 दिसंबर से इनमें एंकर निवेशकों का लॉक-इन पीरियड खुलना शुरू हो जाएगा.

    ये भी पढ़ें – Share Market में दो दिनों से क्यों है जबरदस्त तेजी? जानिए इसके पीछे के 5 कारण

    इतिहास गवाह है बिकबाली का
    यदि हम हिस्ट्री पर नजर डालें तो नई लिस्टेड कंपनियों को एंकर लॉक-इन पीरियड खत्म होने के बाद बिकवाली के दबाव का सामना करना पड़ा है. उदाहरण के लिए, इस साल अभी तक जिन आईपीओ का एंकर लॉक-इन पीरियड खुल चुका है, उनमें से 76% शेयरों को एंकर लॉक-इन खुलने की तारीख पर बिकवाली का दबाव देखना पड़ा था. रिपोर्ट के मुताबिक, IRFC, इंडिगो पेंट्स, होम फर्स्ट फाइनेंस, MTAR टेक, इजी ट्रिप प्लानर्स और क्राफ्ट्समैन ऑटोमेशन सहित इन शेयरों में औसतन 2.6 फीसदी की गिरावट देखी गई. साथ ही एंकर के खुलने की तारीख के पांच दिनों के बाद, 61% इश्यू औसतन 3.9 प्रतिशत नीचे कारोबार कर रहे थे.

    इसमें से Easy Trip Planners और Zomato में लॉक-इन खुलने के दिन क्रमश: 10 प्रतिशत और 9 प्रतिशत की भारी गिरावट देखी गई. जबकि क्लीन साइंस एंड टेक, देवयानी इंटरनेशनल, Ami ऑर्गेनिक्स और अन्य स्टॉक में करीब 4 से 5 प्रतिशत की गिरावट देखी गई.

    ये भी पढ़ें – बड़े ब्रोकरेज हाउस ने बरकरार रखी Bharti Airtel की Buy रेटिंग, टारगेट वर्तमान से 22% अधिक

    नायका के शेयर का क्या होगा?
    उपरोक्त वजहों से निवेशकों में यह चिंता पैदा हुई है कि एंकर लॉक-इन खुलने पर हाल में लिस्ट हुए शेयर कैसा प्रदर्शन करेंगे. सबसे पहले जिस शेयर में इस महीने एंकर लॉक-इन खुल रहा है, वह नायका है. नायका में 8 दिसंबर को एंकर निवेशकों के लिए लॉक-इन पीरियड खत्म गया है. Edelweiss की रिपोर्ट के अनुसार, नायका में एंकर निवेशकों के पास कुल जारी शेयरों का करीब 4.5 प्रतिशत हिस्सा है.

    ये भी पढ़ें – Cryptocurrency Return: Terra टोकन में 10,000 रुपये एक साल में बन गए 12 लाख

    मामूली असर होने की आशंका
    First Water Capital Fund (AIF) के लीड स्पॉन्सर, रिकी कृपलानी का मानना है कि लॉक-इन खुलने से नायका के स्टॉक पर पड़ने वाला असर मामूली होगा. उन्होंने कहा, “इसका कारण यह है कि अधिकतर निवेशकों ने इसे उस इंडस्ट्री में एंट्री के रूप में देखा है. उनके पास कंपनी को लेकर एक लंबी अवधि का नजरिए है. ऐसे में उनकी तरफ से निवेश को घटाने या बेचने की संभावना कम होती है.”

    एक अन्य एक्सपर्ट ने कहा कि एंकर निवेशक हमेशा लॉक-इन के तुरंत बाद बाहर नहीं निकलते हैं, जिससे की स्टॉक पर अचानक दबाव न आए. अगर वे ऐसा करते भी हैं, तो यह अन्य निवेशकों को स्टॉक में निवेश करने का आकर्षक अवसर देता है.

    Tags: IPO, Share market, Stock market

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर