दुनिया में सबसे तेज रफ्तार से बढ़ेगी भारत की इकोनॉमी, OECD का अनुमान, 12.6 फीसदी हो सकती है FY22 में ग्रोथ रेट

वित्त वर्ष 2020-21 की तीसरी तिमाही में जीडीपी ग्रोथ 0.4 फीसदी रही.

वित्त वर्ष 2020-21 की तीसरी तिमाही में जीडीपी ग्रोथ 0.4 फीसदी रही.

ऑर्गनाइजेशन फॉर इकोनॉमिक को-ऑपरेशन एंड डेवलपमेंट (OECD) ने कहा है कि वित्त वर्ष 2021-22 के लिए भारत के जीडीपी की वृद्धि दर 12.6 फीसदी रहेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 10, 2021, 5:14 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना महामारी की वजह से मंदी की मार झेल रही भारत की इकोनॉमी साल 2021 में दुनिया की सबसे तेज रफ्तार से आगे बढ़ने वाली इकोनॉमी होगी. दरअसल, अंतरराष्ट्रीय एजेंसी ऑर्गनाइजेशन फॉर इकोनॉमिक को-ऑपरेशन एंड डेवलपमेंट यानी ओईसीडी (Organization for Economic Co-operation and Development) ने कहा है कि वित्त वर्ष 2021-22 के लिए भारत के ग्रॉस डोमेस्टिक प्रोडक्ट यानी जीडीपी (GDP) की वृद्धि दर 12.6 फीसदी रहेगी. इससे भारत की इकोनॉमी दुनिया में सबसे तेज गति से आगे बढ़ेगी.

चालू वित्त वर्ष में इकोनॉमी में 7.4 फीसदी की गिरावट का अनुमान

यह ग्रोथ प्रोजेक्शन G20 देशों के बीच सबसे ज्यादा है. यह महामारी की वजह से मंदी के बाद अतिरिक्त राजकोषीय सपोर्ट की वजह से है. पेरिस स्थित ग्रुप ओईसीडी ने भारत की आर्थिक विकास दर के लिए प्रोजेक्शन को दिसंबर 2020 में 7.9 फीसदी को 4.7 फीसदी बढ़ा दिया है. संगठन ने कहा है कि उसे उम्मीद है कि 31 मार्च को समाप्त हो रहे वित्त वर्ष में देश की इकोनॉमी में 7.4 फीसदी की गिरावट आएगी.

ये भी पढ़ें- Ration Card: राशन कार्ड में दर्ज व्यक्ति की मौत या गलत जानकारी दे कर राशन लेने पर अब होगी इतने साल की सजा
इमर्जिंग इकोनॉमी में सुधार की रफ्तार ज्यादा तेज

अपनी रिपोर्ट में ओईसीडी ने कहा कि बीते दिसंबर तिमाही में आर्थिक गतिविधियों में अच्छा-खासा सुधार आया. इस दौरान कोरोना के नए स्ट्रेन सामने आए जिसके कारण कई देशों में ज्यादा टाइट लॉकडाउन लगाए गए. वहीं, ग्लोबल आउटपुट प्री-कोविड लेवल से केवल 1 फीसदी कम है. खासकर इमर्जिंग इकोनॉमी में सुधार की रफ्तार तेज दर्ज की गई. ज्यादातर इकोनॉमी ने सुधार के मामले में उम्मीद से बेहतर प्रदर्शन किया है. चीन, भारत, तुर्की जैसे देशों में आर्थिक गतिविधि प्री-कोविड लेवल तक पहुंच चुकी है.

ये भी पढ़ें- खुशखबरी! ICICI और Flipkart अपने कर्मचारियों को लगवाएगी कोविड-19 का टीका, फ्री में मिलेगी ये सेवा



इकोनॉमी के मोर्चे पर आई थी गुड न्यूज, तीसरी तिमाही में 0.4 फीसदी रही थी जीडीपी ग्रोथ

हाल ही में केंद्र सरकार ने वित्त वर्ष (2020-21) की दिसंबर में खत्म होने वाली तीसरी तिमाही के लिए जीडीपी के आंकड़ों को जारी किया था. भारत की इकोनॉमी की ग्रोथ अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में पहले से बेहतर रही. तीसरी तिमाही में जीडीपी ग्रोथ 0.4 फीसदी रही. इससे पहले की दो तिमाहियों के दौरान कोरोना वायरस महामारी की वजह से इसमें बड़ी गिरावट दर्ज की गई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज