Ola-Uber से सफर करने वालों के लिए बड़ी खबर- 1 सितंबर से ड्राइवर कर सकते हैं हड़ताल

कैब ड्राइवरों की ये है मांग

कैब ड्राइवरों द्वारा सर्कुलेट किए गए एक पर्चे के मुताबिक, 31 दिसंबर तक लोन मोरेटोरियम को बढ़ाने, कैब एग्रीगेटर्स द्वारा कमीशन में बढ़ोतरी और तेज गति से गाड़ी चलाने के खिलाफ जारी ई-चालान को वापस लेने की मांग की है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. ऐप आधारित कार सेवा मुहैया कराने वाली कंपनी ओला (Ola) और उबर (Uber) के ड्राइवरों ने दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) में 1 सितंबर से हड़ताल की धमकी दी है. कैब ड्राइवरों ने अपनी कई मांगों जैसे किराये में बढ़ोतरी और लोन रिपेमेंट मोरेटोरियम के विस्तार को लेकर हड़ताल जाने की धमकी दी है. दिल्ली के सर्वोदय ड्राइवर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष कमलजीत सिंह गिल ने कहा कि अगर सरकार हमारी समस्याओं को हल करने में विफल रहती है तो कैब एग्रीगेटर्स के साथ काम करने वाले लगभग 2 लाख ड्राइवर हड़ताल में शामिल होंगे.

    कैब ड्राइवरों की ये है मांग
    कैब ड्राइवरों द्वारा सर्कुलेट किए गए एक पर्चे के मुताबिक, 31 दिसंबर तक लोन मोरेटोरियम को बढ़ाने, कैब एग्रीगेटर्स द्वारा कमीशन में बढ़ोतरी और तेज गति से गाड़ी चलाने के खिलाफ जारी ई-चालान को वापस लेने की मांग की है.

    कैब एग्रीगेटर्स के ड्राइवरों द्वारा हड़ताल से बड़ी संख्या में यात्रियों को परेशानी हो सकती है क्योंकि कोविड-19 महामारी के बीच मेट्रो ट्रेन सेवाएं अभी शुरू होनी है और बसें कम क्षमता पर चल रही हैं. ओला या उबर की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है.

    गिल ने कहा कि लॉकडाउन के बाद से हमारी हालत खराब हो गई थी. ज्यादातर लोग अभी भी घर से काम कर रहें हैं जिसकी वजह से ग्राहकों की संख्या घटकर केवल 10% रह गई है. उन्होंने कहा कि रोज का टारगेट पूरा करने के लिए ड्राइवर्स काफी संघर्ष कर रहे हैं. कमलजीत ने कहा कि हमने प्रधानमंत्री, केंद्रीय वित्त और परिवहन मंत्रियों को इस साल 31 दिसंबर तक ईएमआई का भुगतान करने की छूट देने का आग्रह करने के लिए पत्र भेजा है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.