Home /News /business /

on the international womens day give financial security to the future of your daughter in five ways with a little investment kcnd

Women’s Day : पांच तरीकों से बेटियों के आर्थिक भविष्य को दे सकते हैं मजबूती, नहीं होगी शादी और पढ़ाई के लिए टेंशन

बेटी के लिए निवेश का सबसे लोकप्रिय विकल्प है सुकन्या समृद्धि योजना. किसी भी बैंक या पोस्ट ऑफिस में अधिकतम दो बेटियों के नाम से यह खाता खोल सकते हैं.

बेटी के लिए निवेश का सबसे लोकप्रिय विकल्प है सुकन्या समृद्धि योजना. किसी भी बैंक या पोस्ट ऑफिस में अधिकतम दो बेटियों के नाम से यह खाता खोल सकते हैं.

International Women Day : बेटी के जन्म के साथ ही माता-पिता को उसकी पढ़ाई-लिखाई, शादी की चिंता सताने लगती है. ऐसे में लंबी अवधि की योजना बनाकर थोड़ा-थोड़ा निवेश कर आने वाले समय में बड़ा फंड जुटा सकते हैं. ये हैं वो पांच तरीके, जिनमें निवेश कर बेटियों की आर्थिक मजबूती दे सकते हैं.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. दुनियाभर में आज यानी 8 मार्च को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (International Women’s Day) मनाया जा रहा है. ऐसे में आप अपनी बेटियों की सुरक्षा के साथ उन्हें मजबूत आर्थिक भविष्य का तोहफा दे सकते हैं. आपकी आज की शुरुआत आगे उन्हें वित्तीय रूप से सशक्त और आत्मनिर्भर बना सकती है.

दरअसल, बेटी के जन्म के साथ ही माता-पिता को उसकी पढ़ाई-लिखाई, शादी की चिंता सताने लगती है. ऐसे में लंबी अवधि की योजना बनाकर थोड़ा-थोड़ा निवेश कर आने वाले समय में बड़ा फंड जुटा सकते हैं. ये हैं वो पांच तरीके, जिनमें निवेश कर बेटियों की आर्थिक मजबूती दे सकते हैं.

ये भी पढ़ें- ब्याज से आय पर क्या है टैक्स का गणित, किसको मिलती है राहत, समझिए पूरा हिसाब-किताब

सुकन्या समृद्धि योजना
बेटी के लिए निवेश का सबसे लोकप्रिय विकल्प है सुकन्या समृद्धि योजना. किसी भी बैंक या पोस्ट ऑफिस में अधिकतम दो बेटियों के नाम से यह खाता खोल सकते हैं. इसमें 1,000 रुपये से शुरुआत कर सालाना 1.5 लाख रुपये तक जमा कर सकते हैं. इस पर 7.6 फीसदी ब्याज मिल रहा है. खाता खोलने के 21 साल पूरे होने पर यह मैच्योर हो जाएगा और पूरी रकम निकाली जा सकती है.

नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट
यह बेटियों के नाम से खुलवाई जा सकती है. इस पर अभी सालाना 7.6 फीसदी गारंटीड रिटर्न मिल रहा है. इसमें 1,000 रुपये से निवेश की शुरुआत कर सकते हैं, जबकि अधिकतम निवेश की सीमा नहीं है. मैच्योरिटी पीरियड 5 साल है, जिस पर टैक्स छूट भी मिलती है. खाते को एक से दूसरे के नाम ट्रांसफर भी कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें- 7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, मोदी सरकार एकसाथ दे सकती है 18 महीने का DA एरियर

चिल्ड्रेन गिफ्ट म्यूचुअल फंड
यह योजना खासतौर पर बेटियों के नाम से शुरू की जाती है. इसका लॉक-इन पीरियड 18 साल है, जिससे भविष्य में मोटी रकम तैयार हो जाती है. यह रकम इक्विटी और डेट फंडों में लगाई जाती है. वैसे तो इस पर फिक्स्ड ब्याज नहीं मिलती, लेकिन शेयर बाजार से जुड़े होने के कारण तगड़े रिटर्न की संभावना रहती है. अगर आप सिप के जरिये हर महीने 5 हजार रुपये निवेश करते हैं तो 12% दर से 18 साल में आपको 38,27,197 रुपये मिलेंगे. आपका कुल निवेश महज 10.80 लाख रुपये होगा.

ये भी पढ़ें- Russia-Ukraine War: देश की विकास दर और महंगाई पर पड़ेगा बुरा असर, सरकार को करने होंगे ये प्रयास

गोल्ड ईटीएफ
आप बेटी के लिए सोने के गहने या अन्य आभूषण खरीदना चाहते हैं तो इससे बेहतर विकल्प है गोल्ड ईटीएफ में निवेश. ये गोल्ड फंड स्टॉक मार्केट में ट्रेड किए जाते हैं, जिससे अन्य योजनाओं के मुकाबले ज्यादा रिटर्न की संभावना रहती है. इसे सुरक्षित रखने के लिए किसी लॉकर की जरूरत भी नहीं रहती और न ही चोरी होने का डर होता है. इसमें कोई मैच्योरिटी पीरियड भी नहीं रहता, जिससे आप जब चाहें इसे बेचकर रकम निकाल सकते हैं.

यूनिट लिंक्ड इंश्योरेंस प्लान
बीमा कंपनियों की ओर से पेश की जाने वाली योजना बेटियों को दोहरी सुरक्षा देती है. यूनिट लिंक्ड इंश्योरेंस प्लान (यूलिप) में जीवन बीमा का लाभ मिलने के साथ मोटे रिटर्न के रूप में मैच्योरिटी पर बड़ा फंड भी तैयार हो जाता है. बीमा कंपनियां यूलिप प्लान के लाभ भी अलग तय करती हैं, जिस पर 9% तक ब्याज मिलता है.

Tags: International Women Day, Investment, Personal finance, Saving

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर