• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • e-Shram पोर्टल को मिल रहा है जबरदस्त रिस्पॉन्स, अब तक एक करोड़ कामगारों ने किया रजिस्ट्रेशन

e-Shram पोर्टल को मिल रहा है जबरदस्त रिस्पॉन्स, अब तक एक करोड़ कामगारों ने किया रजिस्ट्रेशन

ई-श्रम पोर्टल: देश में 38 करोड़ से अधिक असंगठित कामगारों का फ्री रजिस्ट्रेशन होगा.

ई-श्रम पोर्टल: देश में 38 करोड़ से अधिक असंगठित कामगारों का फ्री रजिस्ट्रेशन होगा.

रामेश्वर तेली (Rameshwar Teli) ने कहा कि सिर्फ 26 दिनों में ई-श्रम पोर्टल (e-Shram Portal) पर लगभग एक करोड़ रजिस्ट्रेशन किए जा चुके हैं.

  • Share this:

    नई दिल्ली. श्रम और रोजगार राज्यमंत्री रामेश्वर तेली (Rameshwar Teli) ने शनिवार को मजदूर संगठनों से ई-श्रम पोर्टल (e-Shram Portal) के बारे में असंगठित क्षेत्र के कामगारों के बीच जागरूकता फैलाने के लिए पूरा समर्थन देने का आग्रह किया और कहा कि इस पोर्टल पर लगभग एक करोड़ श्रमिक पहले ही रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं.

    एक बयान में बताया गया कि तेली ने शनिवार को आईआईआईटी-डी जबलपुर, मध्य प्रदेश में असंगठित क्षेत्रों के श्रमिकों और पत्रकारों के साथ बातचीत की. उनके साथ केंद्रीय मुख्य श्रम आयुक्त डी पी एस नेगी भी थे. कार्यक्रम के दौरान मंत्री ने श्रमिकों को ई-श्रम कार्ड, कोविड-19 राहत योजना, अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना एवं बीड़ी श्रमिक कार्ड का वितरण किया गया.

    26 दिनों में पोर्टल पर लगभग एक करोड़ रजिस्ट्रेशन
    तेली ने कहा कि सिर्फ 26 दिनों में पोर्टल पर लगभग एक करोड़ रजिस्ट्रेशन किए जा चुके हैं. इस दौरान श्रमिकों को इस पोर्टल की जानकारी भी दी गई. केंद्रीय मंत्री ने मीडिया से भी अपील की कि वह इस पोर्टल की जानकारी को प्रदेश के कोने-कोने में पहुंचाएं.

    38 करोड़ कामगारों को होगा फायदा
    ई-श्रम पोर्टल देश में 38 करोड़ से अधिक असंगठित कामगारों का फ्री रजिस्ट्रेशन करेगा और उन्हें सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के वितरण में मदद करेगा. केंद्रीय श्रम और रोजगार मंत्री भूपेंद्र यादव ने असंगठित क्षेत्र के 38 करोड़ श्रमिकों का डेटाबेस तैयार करने और उसका रखरखाव करने के लिए पिछले महीने के अंत में ई-श्रम पोर्टल शुरू किया था.

    ये भी पढ़ें- आईपीओ से पहले Paytm का फैसला, ESOPs को शेयरों में बदलने के लिए कर्मचारियों को 22 सितंबर तक का दिया डेडलाइन

    सरकार ने पोर्टल पर पंजीकरण के इच्छुक श्रमिकों की मदद के लिए राष्ट्रीय टोल फ्री नंबर- 14434 भी जारी किया है. इस समूची कवायद का मकसद सरकार की सामाजिक सुरक्षा योजनाओं का एकीकरण है. पोर्टल पर उपलब्ध जानकारी को राज्य सरकारों के विभागों के साथ भी साझा किया जाएगा. यह पोर्टल निर्माण श्रमिकों, प्रवासी श्रमिकों, गिग और प्लेटफॉर्म श्रमिकों, रेहड़ी-पटरी वालों, घरेलू कामगारों, कृषि श्रमिकों, दूध वालों, मछुआरों, ट्रक चालकों सहित सभी असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों की मदद करेगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज