लाइव टीवी

नहीं है तो बनवाना होगा नया राशन कार्ड, पुराना कार्ड ही है पूरे देश में वैलिड, सरकार ने दी इसकी पूरी जानकारी

News18Hindi
Updated: February 7, 2020, 12:28 PM IST
नहीं है तो बनवाना होगा नया राशन कार्ड, पुराना कार्ड ही है पूरे देश में वैलिड, सरकार ने दी इसकी पूरी जानकारी
‘एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड’ (One Nation, One Ration Card) योजना 1 जून 2020 से शुरू होगी.

‘एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड’ (One Nation, One Ration Card) योजना 1 जून 2020 से शुरू होगी. इस योजना में पुराना राशन कार्ड भी मान्य होगा. देश के 12 राज्यों आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, गुजरात, महाराष्ट्र, हरियाणा, राजस्थान, कर्नाटक, केरल, मध्य प्रदेश, गोवा, झारखंड और त्रिपुरा में 'एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड' सुविधा की शुरुआत हो चुकी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 7, 2020, 12:28 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय उपभोक्ता मामले,  खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री रामविलास पासवान (Ram Vilas Paswan) ने कहा है कि वन नेशन-वन राशनकार्ड के तहत कोई नया राशनकार्ड नहीं बन रहा. किसी झांसे में न आएं. आपका पुराना राशनकार्ड ही पूरे देश में मान्य है. दरअसल पिछले कुछ दिनों से राशन कार्ड को लेकर सोशल मीडिया पर कई झूठी खबरें फैलाई जा रही हैं. इसी को लेकर राम विलास पासवान ने जानकारी देते हुए अपने ट्विटर अकाउंट पर ये बातें लिखी हैं. आपको बता दें कि ‘एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड’ (One Nation, One Ration Card) योजना 1 जून 2020 से शुरू होगी. इस योजना में पुराना राशन कार्ड भी मान्य होगा. देश के 12 राज्यों आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, गुजरात, महाराष्ट्र, हरियाणा, राजस्थान, कर्नाटक, केरल, मध्य प्रदेश, गोवा, झारखंड और त्रिपुरा में 'एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड' सुविधा की शुरुआत हो चुकी है.

क्या है मामला- सोशल मीडिया पर राशन कार्ड को लेकर लगातार फर्जी खबरें चल रही हैं. इसी बात को ध्यान में रखते हुए सरकार की महत्वाकांक्षी योजना 'एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड' को लेकर प्रेस सूचना ब्यूरो (PIB) की फेक्ट चेक टीम ने जानकारी देते हुए कहा है कि आपका पुराना राशन कार्ड मान्य रहेगा. इस स्कीम के तहत किसी को भी नया राशन कार्ड बनवाने की जरुरत नहीं है. आपको बता दें कि PIB ने फर्जी खबरों से निपटने के लिए विभिन्न मंत्रालयों से संबंधित समाचारों को सत्यापित करने के लिए एक तथ्य-जांच इकाई की स्थापना की है.

ये भी पढ़ें-...तो क्या नए इनकम टैक्स रूल से मिलेगा कम पैसे में ज्यादा मुनाफा बनाने का मौका

झूठी खबरे फैलाने वालों के खिलाफ होगी FIR-रामविलास पासवान (Ram Vilas Paswan) ने अपने सोशल मीडिया पर राशन कार्ड को लेकर चल रही खबरों को गलत बताया हैं. उन्होंने एक ट्वीट के जरिए कहा है कि देशभर में नए राशनकार्ड बनाने के लिए एक फर्जी पत्र जारी हुआ है जो संलग्न है. इसे गंभीरता से लेते हुए FIR दर्ज कराई जा रही है. आपको बता दें कि ‘एक देश, एक राशन कार्ड’ योजना के पूरे देश में लागू होने के बाद कोई भी कार्डधारक राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कानून (NFSA) के तहत किसी भी राज्य में राशन की दुकान से अपना राशन ले सकेगा.
12 राज्यों में 1 जनवरी से लागू हो चुकी है राशन कार्ड की नई स्कीम- ‘एक देश, एक राशन कार्ड’ मोदी सरकार की एक महत्वाकांक्षी योजना है, जिसके तहत पूरे देश में पीडीएस धारकों को देश के किसी भी कोने में सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकानों से उनके हिस्से का राशन मिल सकेगा.

इस योजना के तहत पीडीएस के लाभार्थियों की पहचान उनके आधार कार्ड पर इलेक्ट्रॉनिक प्वाइंट ऑफ सेल (PoS) डिवाइस से की जाएगी. केंद्र सरकार राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कानून के तहत देशभर में 80 करोड़ से ज्यादा लोगों को सस्ते दामों पर खाद्यान मुहैया करवाती है.





इस योजना को पूरे देश में लागू करने के लिए सभी पीडीएस दुकानों पर पीओएस मशीनें लगाई जाएंगी. जैसे-जैसे राज्य पीडीएस दुकानों पर 100 फीसदी पीओएस मशीन की रिपोर्ट देंगे, वैसे-वैसे उन्हें 'वन नेशन,वन राशन कार्ड' योजना में शामिल किया जाएगा.

इस योजना का मकसद लाभार्थियों को स्वतंत्रता देना है ताकि वे किसी पीडीएस दुकान से बंधे नहीं रहें. इससे दुकान मालिकों पर निर्भरता घटेगी और भ्रष्टाचार में कमी आएगी.

ये भी पढ़ें-SBI के करोड़ों ग्राहकों को झटका! बैंक ने फिर कम किया FD पर मुनाफा, यहां चेक करें नए रेट्स



News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 7, 2020, 11:51 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर