लाइव टीवी
Elec-widget

130 रुपये हुए प्याज के दाम! कीमतों को काबू करने के लिए सरकार ने लिया ये बड़ा फैसला

News18Hindi
Updated: December 4, 2019, 11:08 AM IST
130 रुपये हुए प्याज के दाम! कीमतों को काबू करने के लिए सरकार ने लिया ये बड़ा फैसला
बुधवार को देश के कई शहरों में कीमतें 130 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुंच गई.

देश के कई शहरों में प्याज (Onion Price Today in India) कीमतें 130 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुंच गई. प्याज (Onion) की जमाखोरी रोकने के लिए केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए प्याज के थोक व्यापारियों के लिए स्टॉक सीमा घटाकर 25 टन कर दी है. वहीं, फुटकर व्यापारियों के लिए नई सीमी 5 टन तय की गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 4, 2019, 11:08 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्याज (Onion Price Today) की बढ़ती कीमतों को काबू करने के लिए सरकार लगातार कदम उठा रही है. लेकिन कीमतें थमने का नाम नहीं ले रही है. बुधवार को देश के कई शहरों में कीमतें 130 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुंच गई. प्याज (Onion Hoarding India) की जमाखोरी रोकने के लिए  केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए प्याज के थोक व्यापारियों (Onion Stockists) के लिए स्टॉक सीमा घटाकर 25 टन कर दी है. वहीं, फुटकर व्यापारियों के लिए नई सीमी 5 टन तय की गई है. इसका मतलब साफ है कि अगर इससे ज्यादा प्याज किसी के पास मिलती है तो उस पर सरकार सख्त कार्रवाई करेगी. यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू होगा. हालांकि यह आयातकों पर लागू नहीं होगा.

>> एशिया की सबसे बड़ी मंडी लासलगांव (Lasalgaon Onion Rate) में प्याज की कीमत 113 रुपये प्रति किलो पहुंच गई है. ऐसे में माना जा रहा है आम उपभोक्ता के लिए प्याज की कीमतें (Onion Price in India) 140-150 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुंच सकती है.

ये भी पढ़ें-GST काउंसिल की अगली बैठक में इन चीजों पर फिर से लग सकता है टैक्स

फुल एक्शन में सरकार- APMCs (agricultural produce marketing committees) ने प्याज की कीमतें काबू में नहीं आने तक अपने राज्यों के सभी कर्मचारियों की छुट्टियां रद्द कर दी है. दरअसल देश के कई हिस्सों में प्याज के दाम 130 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुंच गए है.

>> दूसरी ओर सरकार ने सप्‍लाई पूरी बढ़ाने के लिए 11,000 टन प्याज तुर्की से मंगाने का आदेश दिया है. आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि MMTC ने तुर्की से 11,000 टन प्याज आयात करने का दूसरा अनुबंध किया है जो जल्‍द भारत आएगा.

>> इसके अलावा प्रमुख सचिव ने राज्यों के सचिवों से वीडियो प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए बात की और उनसे प्याज की जमाखोरी को लेकर कड़े कदम उठाने को कहा है.

ये भी पढ़ें-19 लाख किसानों को मिलेंगे 3000 रु/महीना, आप भी ऐसे कर सकते हैं शुरू
Loading...

>> आपको बता दें कि प्याज के प्रमुख उत्पादक राज्य महाराष्ट्र से नवंबर में सप्लाई घटकर 5 साल के निचले स्तर पर आ गई है.

>> यह 41.3 लाख क्विंटल से गिरकर 24.5 लाख क्विंटल रह गई है. वहीं, पिछले साल यानी अक्टूबर 2018 के मुकाबले यह अक्टूबर 2019 में 51 लाख टन से गिरकर 25 लाख टन रह गई थी.

(असीम मनचंदा, संवाददाता, CNBC आवाज़)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 4, 2019, 10:56 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...