होम /न्यूज /व्यवसाय /ऑनलाइन फूड ऑर्डर करने वालों लिए बड़ी खबर, चार्जेस बढ़ाने की वजह से महंगा हुआ खाना मंगाना

ऑनलाइन फूड ऑर्डर करने वालों लिए बड़ी खबर, चार्जेस बढ़ाने की वजह से महंगा हुआ खाना मंगाना

थोड़ी-सी सावधानी से अगर व्रत में खाना खाया जाए तो न केवल इससे आपका वजन कम होगा बल्कि आपकी सेहत भी व्रत के दौरान अच्‍छी रहेगी.

थोड़ी-सी सावधानी से अगर व्रत में खाना खाया जाए तो न केवल इससे आपका वजन कम होगा बल्कि आपकी सेहत भी व्रत के दौरान अच्‍छी रहेगी.

अंग्रेजी के अखबार ईटी यानी इकनॉमिक टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक, इन कंपनियों ने डायनेमिक डिस्‍काउंटिंग भी शुरू की है. ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली. अगर आप भी ऑनलाइन खाना मंगाकर खाने के शौकीन हैं तो ये खबर आपके लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं. क्योंकि फूड डिलीवरी ऐप जोमैटो (Zomato) और स्विगी (Swiggy) ने पिछले छह महीने में डिलीवरी फीस बढ़ा दी है. अंग्रेजी के अखबार ईटी यानी इकनॉमिक टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक, इन कंपनियों ने डायनेमिक डिस्‍काउंटिंग भी शुरू की है. इसके अलावा उन्‍होंने ऑर्डर कैंसिल करने से जुड़े नियम सख्‍त कर दिए हैं. साथ ही अपने लॉयल्‍टी प्रोग्राम्‍स के दाम बढ़ा दिए हैं. आपको बता दें कि बीते हफ्ते जोमैटो ने फूड डिलीवरी कंपनी उबर ईट्स (Uber Eats) के भारतीय कारोबार को खरीद लिया है. इस डील के तहत उबर को जोमैटो के 9.99 फीसदी शेयर मिलें हैं. जोमैटो के वैल्यूएशन के हिसाब से इतने शेयरों की कीमत (35 करोड़ डॉलर) करीब 2,500 करोड़ रुपए होने का अनुमान है. उबर ने घाटे की वजह से फूड डिलीवरी बिजनेस बेचने का फैसला किया. उबर ईट्स को खरीदने से जोमैटो का मार्केट शेयर 50 फीसदी से ज्यादा हो जाएगा. मौजूदा समय में स्विगी 48 फीसदी शेयर के साथ पहले नंबर पर है.

    कितने बढ़ें दाम-जोमैटो (Zomato) ने 'ऑन टाइम ऑर फ्री डिलीवरी' शुरू किया है. इसका मतलब यह है कि अगर कोई कस्‍टमर चुनिंदा रेस्‍तरां को 10 रुपये अतिरिक्‍त चुकाए तो तय समय में डिलीवरी नहीं होने पर फ्री ऑर्डर दिया जाएगा.

    News18 Hindi

    ईटी की रिपोर्ट्स के मुताबिक, जैसे ही इन कंपनियों ने छूट घटाईं. वैसे ही ऑर्डर्स की संख्‍या में गिर गई है. जोमैटो के मामले में अक्‍टूबर से हर महीने ऑर्डर वॉल्‍यूम में 5-6 फीसदी कमी आने का अनुमान है.

    ये भी पढ़ें-चीन के जानलेवा वायरस से अब तक हुई सैकड़ों मौत, क्या आपकी पॉलिसी में मिलेगी कोरोना वायरस से सुरक्षा?

    स्विगी के मामले में दिसंबर में इतनी ही कमी का अनुमान है. ऐसा इन प्‍लेटफॉर्मों की सख्‍त की गई नीतियों के कारण हुआ है.

    News18 Hindi

    उसने अपनी गोल्‍ड मेंबरशिप के लिए दाम भी बढ़ाया है. साथ ही चेकआट्स पर क्रॉस-सेलिंग शुरू की है ताकि साइड ऑफरिंग्‍स के जरिये एवरेज ऑर्डर वैल्‍यू बढ़ाई जाए.

    ये भी पढ़ें-बड़ी खबर! फैमिली के साथ अब दोस्तों को भी कर सकेंगे अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी में शामिल

    Tags: Business news in hindi, Food and water prices, Food business

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें