SBI में पैसे के लेनदेन का बदल चुका है ये नियम, जान लें फायदे में रहेंगे आप

देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) में पैसे के लेन-देन का नियम बदल चुका है. अगर आप इस बैंक के ग्राहक हैं तो ये बदले हुए नियम आपको जानना बहुत जरूरी है.

News18Hindi
Updated: July 29, 2019, 8:35 AM IST
SBI में पैसे के लेनदेन का बदल चुका है ये नियम, जान लें फायदे में रहेंगे आप
SBI में पैसे के लेनदेन का बदल चुका है ये नियम, जानें यहां
News18Hindi
Updated: July 29, 2019, 8:35 AM IST
देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) में पैसे के लेन-देन का नियम बदल चुका है. दरअसल, एसबीआई ने कैश निकालने और जमा करने नियमों में बदलाव किया है. अगर आप इस बैंक के ग्राहक हैं तो ये बदले हुए नियम आपको जानना बहुत जरूरी है. नए नियम के जानने पर आप फायदे में रहेंगे. हम आपको बता रहे हैं एसबीआई से कैश निकालने और जमा करने से जुड़े नियम जो बदले हैं...

दूसरे के खाते में जमा नहीं कर पाएंगे पैसे
SBI ने ग्राहकों के बैंक खातों को सुरक्षित रखने के लिए ये फैसला लिया है कि किसी के खाते में कोई दूसरा शख्स पैसे नहीं जमा करा पाएगा. यानी अगर 'A' का एसबीआई में बैंक खाता है तो केवल वही कैश काउंटर पर जाकर पैसे जमा करा पाएगा. यहां तक कि कोई पिता भी अपने बेटे के SBI खाते में पैसे नहीं जमा करा पाएगा.



SBI की किसी भी ब्रांच में जमा करें पैसे
SBI ने अपने ग्राहकों को बेहतर सुविधा देने के लिए एक और नियम बदल दिया है. इस नियम के तहत SBI ग्राहक अब देश की किसी भी ब्रांच में जाकर अपने बचत खाते में जितना चाहे पैसा जमा कर सकते हैं.

अनलिमिटेड फ्री ट्रांजैक्‍शन करें
Loading...

एसबीआई खाते में एक न्‍यूनतम बैलेंस हर महीने बरकरार रखकर आप ATM से अनलिमिटेड फ्री ट्रांजैक्‍शन कर सकते हैं. RBI ने देश के टॉप बैंकों को यह निर्देश दिया है कि वे अपने ग्राहकों को प्रति महीने एक निश्चित संख्‍या में फ्री एटीएम ट्रांजैक्‍शन की सुविधा उपलब्‍ध कराएं.



ATM से पैसा निकालने का नियम बदला
SBI ने ATM से रोजाना पैसे निकालने की लिमिट को 40,000 रुपये से घटाकर 20,000 रुपये कर दिया है. ATM से पैसे निकालने की नई लिमिट 31 अक्टूबर को लागू हुई थी. डिजिटल ट्रांजैक्शंस को बढ़ावा देने और ATM फ्रॉड के बढ़ते मामलों से निपटने के लिए ऐसा किया गया है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 29, 2019, 8:32 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...