पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों पर धर्मेंद्र प्रधान बोले- OPEC के प्रोडक्शन बढ़ाने के फैसले से फ्यूल प्राइस में आएगी कमी

धर्मेंद्र प्रधान (फाइल फोटो)

धर्मेंद्र प्रधान (फाइल फोटो)

पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों के बीच केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान (Dharmendra Pradhan) ने रविवार को अनुमान जताया कि ओपेक (OPEC) के कच्चे तेल का उत्पादन बढ़ाने के हाल के फैसले के बाद ईंधनों के दामों (Fuel Prices) में स्थिरता आएगी.

  • Share this:
इंदौर. देश में पेट्रोल-डीजल की कीमतों के आसमान छूने के बीच केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान (Dharmendra Pradhan) ने रविवार को अनुमान जताया कि पेट्रोलियम निर्यातक देशों के संगठन (Organization of the Petroleum Exporting Countries) के कच्चे तेल का उत्पादन बढ़ाने के हाल के फैसले के बाद ईंधनों के दामों (Fuel Prices) में स्थिरता आएगी.

OPEC बढ़ाएगा पांच लाख बैरल उत्पादन रोजाना

प्रधान ने कहा, ''ओपेक ने दो दिन पहले ही फैसला किया है कि वह कच्चे तेल का पांच लाख बैरल उत्पादन हर रोज बढ़ाएगा. इसका हमें फायदा मिलेगा और हमारा अनुमान है कि (ईंधनों के) दाम स्थिर होंगे. जब अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम बढ़ते हैं, तो यहां (भारत में) भी (ईंधनों के) दाम बढ़ते हैं."

प्रधान के मुताबिक अमेरिका के राष्ट्रपति चुनावों और कुछ अन्य देशों की अंदरूनी समस्याओं के कारण पिछले दिनों अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम बढ़े थे.
कांग्रेस ने केंद्र सरकार पर लगाया आरोप

गौरतलब है कि कांग्रेस ने केंद्र सरकार पर कोविड-19 के जारी संकट में भी पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में बढ़ोतरी करने का आरोप लगाया है. विपक्षी दल ने मांग की है कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में कमी का लाभ देश की आम जनता को देते हुए इस साल 5 मार्च के बाद पेट्रोल-डीजल के दामों में हुई सभी बढ़ोतरी वापस ली जानी चाहिए.

केंद्रीय मंत्री ने कहा, ''तेल मार्केटिंग कंपनियां 46 रुपये प्रति किलोग्राम की दर पर लंबे समय तक सीबीजी खरीदने की गारंटी दे रही हैं. गीले कचरे से सीबीजी बनाना देश भर में एक सफल उद्यम मॉडल हो सकता है." उन्होंने बताया कि पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय ने देश के शहरी इलाकों में 5,000 सीबीजी संयंत्र लगाने का बीड़ा उठाया है. ग्रामीण क्षेत्रों में भी पराली और अन्य कृषि अपशिष्टों से सीबीजी बनाए जाने की प्रचुर संभावनाएं हैं.



अवंतिका गैस लिमिटेड करेगी विस्तार

प्रधान ने यह भी बताया कि अवंतिका गैस लिमिटेड (एजीएल) इंदौर में अगले साल सीएनजी और पाइप्ड नैचुरल गैस (पीएनजी) के उपभोक्ता नेटवर्क का बड़े पैमाने पर विस्तार करेगी. इंदौर स्थित एजीएल, गेल इंडिया और हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (एचपीसीएल) का संयुक्त उपक्रम है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज