Home /News /business /

open nps account under national pension scheme secure the future of the wife ndsr

NPS अकाउंट खोल करें पत्नी के भविष्य को सुरक्षित, हर महीने मिलेगी गारंटीड पेंशन

 आम तौर पर, एनपीएस में किए गए योगदान पर 12% से 14% के बीच ब्याज दर लागू होती है.

आम तौर पर, एनपीएस में किए गए योगदान पर 12% से 14% के बीच ब्याज दर लागू होती है.

NPS अकाउंट आपकी पत्नी को 60 साल की उम्र पूरी होने पर एकमुश्त रकम देगा. साथ ही उन्हें हर महीने पेंशन के रूप में रेगुलर इनकम भी मिलेगा. आज हम इस स्कीम के बारे में विस्तार से बात करेंगे.

हाइलाइट्स

NPS अकाउंट आपकी पत्नी को 60 साल की उम्र पूरी होने पर एकमुश्त रकम देगा.
हर महीने मिलेगा 45,000 रुपये के आसपास तक पेंशन.
आम तौर पर, एनपीएस में किए गए योगदान पर 12% से 14% के बीच ब्याज दर लागू होती है.

नई दिल्ली. अपने बुढ़ापे को सुरक्षित रखना हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है जिसके बारे में हम अपनी कार्य यात्रा शुरू करते ही सोचना शुरू कर देते हैं. यह हमारे सेवानिवृत्ति के वर्षों के दौरान हमें वित्तीय सुरक्षा और स्थिरता प्रदान करने में मदद करता है. इसी तरह, अगर आप अपनी पत्नी का भविष्य सुरक्षित करना चाहते हैं और चाहते हैं कि वे पैसे के लिए दूसरों पर निर्भर ना रहे तो आपको नेशनल पेंशन स्कीम में निवेश जरूर करना चाहिए.

पत्नी के नाम से खोले NPS अकाउंट
जीमीडिया की एक खबर के मुताबिक, आप अपनी पत्नी के नाम से नेशनल पेंशन स्कीम (NPS) अकाउंट खोल सकते हैं. एनपीएस अकाउंट आपकी पत्नी को 60 साल की उम्र पूरी होने पर एकमुश्त रकम देगा. साथ ही उन्हें हर महीने पेंशन के रूप में रेगुलर इनकम भी मिलेगा.

बेहद आसानी से कर सकते हैं निवेश
एनपीएस में निवेश करना बेहद आसान है. आप इसमें अपनी सुविधा के अनुसार हर महीने या सालाना पैसा जमा कर सकते हैं. आप सिर्फ 1,000 रुपये से भी पत्नी के नाम पर एनपीएसअकाउंट खोल सकते हैं. 60 वर्ष की उम्र में एनपीएस अकाउंट मैच्योर हो जाता है. नए नियमों के तहत आप चाहें तो पत्नी की उम्र 65 साल होने तक भी एनपीएस अकाउंट चला सकते हैं.

45 हजार तक हो सकती है मासिक इनकम
उदाहरण के तौर पर अगर आपकी पत्नी की उम्र 30 साल है और आप उनके एनपीएस अकाउंट में हर महीने 5000 रुपये का निवेश करते हैं. अगर उन्हें निवेश पर सालाना 10 फीसदी रिटर्न मिलता है तो 60 साल की उम्र में उनके अकाउंट में कुल 1.12 करोड़ रुपये हो जाएगा. इसके अलावा, उनको हर महीने 45,000 रुपये के आसपास पेंशन भी मिलने लगेगा. सबसे खास बात कि यह पेंशन उनको आजीवन मिलती रहेगी.

इसे भी पढ़ें – महंगाई के मोर्चे पर राहत, RBI ब्याज दरों में बढ़ोतरी को लेकर अपना सकता है नरम रवैया

क्या है एनपीएस?
यह केंद्र सरकार की सोशल सिक्योरिटी स्कीम है. इसे पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (PFRDA) द्वारा नियंत्रित किया जाता है. सब्सक्राइबर/निवेशक जो पैसा देते हैं, उसे आगे बाजार से जुड़े वित्तीय साधनों जैसे डेट और इक्विटी में निवेश किया जाता है.

गृहिणियों के लिए एनपीएस के टैक्स लाभ:
एनपीएस पर अर्जित रिटर्न को टैक्स से छूट दी गई है. हाल के संशोधनों और नए नियमों के साथ, गृहिणियों के लिए एनपीएस योजना पर अर्जित परिपक्वता पूरी तरह से टैक्स फ्री है.

Tags: National pension, New Pension Scheme, NPS, Pension fund

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर