इस कंपनी के पास होगा TikTok का अमेरिकी बिजनेस, ByteDance के साथ डील का ऐलान

इस कंपनी के पास होगा TikTok का अमेरिकी बिजनेस, ByteDance के साथ डील का ऐलान
टिकटॉक

Bytedance-Oracle Deal: ओरेकल ने टिकटॉक के अमेरिकी बिजनेस खरीदने के लिए डील का ऐलान कर दिया है. बाइटडांस के लिए ओरकल ट्रस्टेड टेक्नोलॉजी पार्टनर के तौर पर काम करेगी. हालांकि, इस डील पर अमेरिकी सरकार से मंजूरी लिया जाना बाकी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 14, 2020, 11:31 PM IST
  • Share this:
वॉशिंगटन. क्लाउड इन्फ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में काम करने वाली कंपनी ओरेकल (Oracle) ने सोमवार को बाइटडांस (ByteDance) के साथ डील की जानकारी दी है. हालांकि, इस डील पर अभी भी अमेरिकी सरकार द्वारा मंजूरी लिया जाना बाकी है. पॉपुलर मोबाइल ऐप टिकटॉक (TikTok US) की मालिकाना हक चीनी कंपनी बाइटडांस के पास है. ओरेकल ने सोमवार को एक बयान जारी कर कहा, 'ओरेकल सेक्रेटरी म्नुचिन के बयान की पुष्टि करता है. ट्रेजरी डिपार्टमेंट (Treasury Department) को बाइटडांस के साथ डील के लिए प्रस्ताव भेज दिया गया है. ओरेकेल इस कंपनी की भरोसावादी टेक्नोलॉजी पार्टनर (Trusted Technology Partner) के तौर पर काम करेगी.' टिकटॉक ने दावा किया है कि अमेरिका (TikTok Users in USA) में उसके करीब 10 करोड़ एक्टिव यूजर्स हैं, जिसका एक बड़ा हिस्सा युवाओं का है.

इसके पहले म्नुचिन ने कहा था कि अमेरिकी सरकार इस सप्ताह ही डील का रिव्यू करेगी. इस दौरान उन्होंने कहा था कि इस डील का एक ही लक्ष्य है. वो यह कि अमेरिकियों के डाटा को सुरक्षित किया जा सके. उनका फोन सुरक्षित हो सके. इसीलिए हमारी टेक्निकल टीम अगले कुछ दिनों में ओरेकल से बातचीत करेगी. इस डील के ऐलान के बाद अमेरिकी शेयर बाजार में भी तेजी देखने को मिल रही है.

यह भी पढें: iPhone 12 Pro की डिजाइन हुई लीक, इस वीडियो में देखें सबसे पहला लुक



अमेरिका में टिकटॉक पर प्रतिबंध का था खतरा
बता दें कि अमेरिकी लोगों के व्यक्तिगत डेटा को खतरा बताते हुए ट्रंप प्रशासन (Trump Administration) टिकटॉक की मालिकाना कंपनी को 20 सितंबर तक की डेडलाइन दी थी. कंपनी को इस अवधि के अंदर ही अमेरिका में टिकटॉक कारोबार बेचने का ऐलान करना था. ऐसा नहीं करने पर 29 सितंबर तक उसपर प्रतिबंध लगने का खतरा मंडरा रहा था. इस डील को 12 नवंबर 2020 तक पूरा किया जाना है. टिकटॉक ने कहा है कि वो चीनी सरकार के साथ यूजर डेटा को साझा नहीं करती है.

इस डील से कैसे होगा ओरेकल को फायदा
अगर बाइटडांस और ओरेकल के बीच इस डील को अमेरिकी सरकार से मंजूरी मिल जाती है तो इससे ओरेकल के क्लाउड बिजनेस को भी फायदा होगा. उम्मीद की जा रही है कि इससे युवा ग्राहकों तक ओरेकल की मौजूदगी बढ़ेगी और उन्हें विज्ञापन के लिए बेहतरी स्पेस भी मिल सकेगा.

यह भी पढ़ें: चीन को महंगा पड़ा भारत से पंगा लेना! पिछले 3 साल में घटा चीनी कंपनियों का निवेश

डील से पहले ही रिजेक्ट हो चुकी है माइक्रोसॉफ्ट
गौरतलब है कि टिकटॉक की अमेरिकी बिजनेस को खरीदने के लिए दिग्गज कंपनी माइक्रोसॉफ्ट भी रेस में थी. लेकिन माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) की बोली को रिजेक्ट कर दिया गया. इसके बाद कंपनी ने रविवार को ऐलान कर दिया कि उसने अपना नाम वापस ले लिया है. माइक्रोसॉफ्ट ने 2 अगस्त को पहली बार आधिकारिक रूप से टिकटॉक में रुचि जताई थी. इसके वॉलमार्ट (Wallmart) ने भी अपने ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म को बूस्ट करने के लिए टिकटॉक को खरीदने का इच्छा जाहिर कर चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज