SBI के बाद इस सरकारी बैंक का लोन हुआ सस्ता, इतनी घटाईं ब्याज दरें

News18Hindi
Updated: July 10, 2019, 3:26 PM IST
SBI के बाद इस सरकारी बैंक का लोन हुआ सस्ता, इतनी घटाईं ब्याज दरें
SBI के बाद इस सरकारी बैंक का लोन हुआ सस्ता!

ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स ने मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड्स बेस्ड लेंडिग रेट (MCLR) में 0.10 फीसदी तक की कटौती की है. यह ब्याज दरें गुरुवार से प्रभावी होंगी.

  • Share this:
देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के बाद सार्वजनिक क्षेत्र के ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (OBC) ने ग्राहकों को राहत दी है. ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स ने मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड्स बेस्ड लेंडिग रेट (MCLR) में 0.10 फीसदी तक की कटौती की है. यह ब्याज दरें गुरुवार से प्रभावी होंगी. MCLR कम होने से आम आदमी को सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि उसका मौजूदा लोन सस्ता हो जाता है और उसे पहले की तुलना में कम ईएमआई देनी पड़ती है. मंगलवार को भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने भी ब्याज दरों में 0.05 फीसदी की कटौती की थी.

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने फरवरी से अब तक रेपो दरों में 0.75 फीसदी की कटौती की है. इसी सप्ताह रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने उम्मीद जतायी थी कि रेपो दरों में की गई कमी का लाभ बैंक जल्द ही ग्राहकों तक पहुंचाएंगे.

कितना सस्ता हुआ लोन
शेयर बाजार को दी जानकारी में बैंक ने बताया कि एक दिन और एक महीने की अवधि वाले लोन पर ब्याज दर को 0.10 फीसदी घटाकर क्रमश: 8.20 और 8.25 फीसदी कर दिया गया है. पहले यह ब्याज दरें क्रमश: 8.30 और 8.35 फीसदी थीं.

इसी तरह तीन माह, छह माह और एक वर्ष की अवधि वाले ऋण पर ब्याज दर को 0.05 प्रतिशत घटाया गया है. यह क्रमश: 8.45, 8.55 और 8.65 प्रतिशत हो गई हैं. पहले यह क्रमश: 8.5, 8.6 और 8.7 प्रतिशत थीं.

ये भी पढ़ें: दिवाली पर आसानी से मिलेगी ट्रेन की कन्फर्म टिकट, जानें कैसे?

वर्ष 2019 में रेपो दरों में अब तक 0.75 फीसदी तक की कटौती की जा चुकी है और मौजूदा समय में यह 5.75 प्रतिशत है.
Loading...

क्या होता है MCLR?
MCLR को मार्जिनल कॉस्ट ऑफ लेंडिंग रेट कहते हैं. इसमें बैंक अपने फंड की लागत के हिसाब से लोन की दरें तय करते हैं. ये बैंचमार्क दर होती है. इसके बढ़ने से आपके बैंक से लिए गए सभी तरह के लोन महंगे हो जाते हैं.

ये भी पढ़ें: जानिए 2000, 500 और 200 रुपये के नोट छापने में सरकार कितना करती हैं खर्च!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 10, 2019, 3:14 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...