• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • OVER 11 LAKHS GST RETURN FILLED IN ONE DAY AFTER REGISTRATION CANCELLED ORDERED PASSED BY CBIC

सरकार के एक फैसले से कारोबारियों में मचा हड़कंप, एक दिन में भरे गए 11 लाख से ज्यादा GST रिटर्न

रजिस्ट्रेशन रद्द होने के डर से रिकॉर्ड तादाद में कारोबारियों ने भरा रिटर्न

CBIC ने सभी जोनल कमिश्नर्स को निर्देश दिया था कि अगले एक हफ्ते के भीतर सभी ऐसे कारोबारियों का जिन्होंने छह या छह बार से ज्यादा जीएसटी फाइल (GST Return) नहीं किया है उनका रजिस्ट्रेशन कैंसिल कर दें.

  • Share this:
    नई दिल्ली. रजिस्ट्रेशन रद्द होने के डर से रिकॉर्ड तादाद में कारोबारियों ने गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (GST) रिटर्न भरना शुरू कर दिया है. बता दें कि सेंट्रल बोर्ड ऑफ इनडायरेक्ट टैक्सेस एंड कस्टम्स (CBIC) विभाग ने सभी जोनल कमिश्नर्स को निर्देश दिया था कि अगले एक हफ्ते के भीतर सभी ऐसे कारोबारियों जिन्होंने छह या छह बार से ज्यादा जीएसटी रिटर्न (GST Return) नहीं भरा है, उनको बड़े पैमाने पर नोटिस भेजें और उनके जीएसटी रजिस्ट्रेशन (GST Registration) कैंसिल करें.

    19 नवंबर को भरे गए 11 लाख से ज्यादा रिटर्न- GST रिटर्न नहीं दाखिल करने वाले कारोबारियों के खिलाफ सरकार द्वारा सख्त कदम उठाए जाने की खबर के बाद रिटर्न भरने में तेजी आई है. 19 नवंबर को कुल 11,52,579 GSTR 3B रिटर्न भरे गए. वहीं 20 नवंबर को 12 बजे तक 2,48,779 GSTR 3B रिटर्न भरे गए हैं.

    जीएसटी रजिस्ट्रेशन कैंसिल करने का आदेश- CBIC ने कहा था कि CGST के सेक्शन 29 के तहत रिटर्न नहीं फाइल करने वाले कारोबारियों का जीएसटी रजिस्ट्रेशन (GST Registration) कैंसिल किया जाए. सरकार की तरफ से इस वक्त बहुत ही सख्त कदम उठाने की तैयारी चल रही है और इसमें उन तमाम कारोबारियों का जीएसटी कैंसिल हो सकता है जिन्होंने जीएसटी रिटर्न नहीं भरा है.

    ये भी पढे़ें: इलाहाबाद बैंक का इंडियन बैंक में विलय की मिली मंजूरी, जानें आपके अकाउंट और पैसे का क्या होगा?



    दो या दो बार से ज्यादा रिटर्न नहीं भरने वाला बंद होगा ई- वे बिल जेनरेट- इससे पहले सरकार ने ये भी निर्देश दिया है कि जिन लोगों ने दो या दो बार से ज्यादा जीएसटी रिटर्न नहीं भरा है, उनका ई-वे बिल जेनरेट करना बंद कर दिया जाए. यानी एक तो पहले ई-वे बिल जेनरेट बंद होगा. दूसरा अगर उन्होंने जीएसटी रिटर्न नहीं भरा तो उनका रजिस्ट्रेशन भी कैंसिल हो जाएगा.

    इनडायरेक्ट टैक्स विभाग ने कहा है कि ये पूरी कार्रवाई 25 नवंबर तक कर देनी है. यानी कि 25 नवंबर तक बड़े पैमाने पर टैक्स के नोटिस जाएंगे और इस दौरान बड़े पैमाने पर रजिस्ट्रेशन भी कैंसिल होंगे.

    20 फीसदी जीएसटी रजिस्टर्ड कारोबारी नहीं भरते रिटर्न- इस समय देश में 1.20 करोड़ के करीब जीएसटी रजिस्ट्रेशन हैं, जिसमें से करीब 20 फीसदी ऐसे हैं जोकि नॉन-फाइलर हैं. यानी वे जीएसटी रिटर्न नहीं भरते हैं.

    (आलोक प्रियदर्शी, संवाददाता- CNBC आवाज़)

    ये भी पढ़ें:

    मोदी सरकार के साथ मिलकर शुरू करें ये बिजनेस, हर महीने होगी मोटी कमाई
    1 जनवरी से बदलने वाला है सोने के गहने खरीदने से जुड़ा ये नियम, सरकार ने दी मंजूरी
    First published: