पाकिस्तान में महंगाई ने बनाया नया रिकॉर्ड, रसोई गैस की कीमतों में 200% इजाफा

पहले से महंगाई की मार झेल रहे पाकिस्तानी जनता पर अब एक और आफत टूट पड़ी है. खाद्य पदार्थों के दाम बढ़ने के बाद अब पाकिस्तानियों का खाना पकाना भी महंगा हो गया है.

News18Hindi
Updated: June 27, 2019, 7:01 PM IST
पाकिस्तान में महंगाई ने बनाया नया रिकॉर्ड, रसोई गैस की कीमतों में 200% इजाफा
पाकिस्तानी हुए बेहाल, अब खाना पकाना भी हुआ महंगा
News18Hindi
Updated: June 27, 2019, 7:01 PM IST
पहले से महंगाई की मार झेल रहे पाकिस्तान की जनता पर अब एक और आफत टूट पड़ी है. खाद्य पदार्थों के दाम बढ़ने के बाद अब पाकिस्तानियों का खाना पकाना भी महंगा हो गया है. दरअसल, पाकिस्तान कैबिनेट की इकोनॉमिक को-ऑर्डिनेशन कमिटी (ECC) ने गैस की कीमतों में 191 फीसदी तक बढ़ाने की अनुमति दे दी है. इसके साथ ही बिजली की कीमतों में इजाफा करने की मंजूरी दे दी है. यह नई कीमतें एक जुलाई से लागू होंगी.

गैस-बिजली हुए महंगे
पाकिस्तानी अखबार डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक, इमरान खान की कैबिनेट ने गैस के दाम में 191 फीसदी बढ़ोतरी करने की अनुमति दे दी है. इसके साथ ही कैबिनेट ने बिजली की कीमतों में 1.494 प्रति यूनिट का इजाफा करने की मंजूरी दे दी. सरकार ने आईएमएफ के साथ हुए समझौते के फलस्वरूप ऐसा किया है. इससे लोगों को बिजली भी महंगी मिलेगी.



अब इतनी महंगी हो गई गैस
नए टैरिफ के मुताबिक 50 घन मीटर से कम गैस खर्च करने वाले ग्राहकों के टैरिफ में कोई बदलाव नहीं किया है. 50 घन मीटर गैस की कीमत 121 रुपये होगी. वहीं 100 घन मीटर गैस के लिए 572 रुपये के मुकाबले अब 933 रुपये देने होंगे. 200 घन मीटर गैस की कीमत पहले 2,305 रुपये थी, वो अब बढ़कर 3,872 रुपये हो गई. जबकि 300 घन मीटर गैस का भाव 3589 रुपये से बढ़कर 7995 रुपये हो गया. 400 घन मीटर गैस के लिए अब 14373 रुपये चुकाने होंगे, जो पहले 13508 रुपये थे.

ये भी पढ़ें:  पाकिस्तानी रुपए में तबाही जारी, अब इमरान ने निकाला यह उपाय
Loading...



पाकिस्तानी रुपये में तबाही जारी
पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था के हालात हर दिन बदतर हुए जा रहे हैं. गुरुवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले पाकिस्तानी रुपया 163 तक चला गया. पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था संकट में घिरी जा रही है ऐसे में रुपये में आ रही गिरावट से संकट और बढ़ रहा है. बता दें कि पिछले हफ़्ते स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान (एसबीपी) के गवर्नर डॉक्टर रज़ा बक़ीर ने कहा था कि रुपये में यह गिरावट कुछ वक़्त के लिए ही है.



5 साल के हाई पर महंगाई
पाकिस्तान की जनता में महंगाई को लेकर काफी रोष है. पाकिस्तान में मार्च 2019 के दौरान महंगाई की दर 5 साल के हाई 9.41 फीसदी पर पहुंच गई थी. महंगाई का यह स्तर अप्रैल 2014 के बाद का सर्वाधिक है. उस समय महंगाई 9.2 फीसदी आंकी गई थी. मार्च महीने में ही महंगाई एक माह पहले की तुलना में 1.42 फीसदी बढ़ गई थी.

आम बजट 2019 की सही और सटीक खबरों के लिए न्यूज18 हिंदी पर आएं. वीडियो और खबरों  के लिए यहां क्लिक करें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 27, 2019, 5:26 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...