दुनिया से महंगाई छिपाने के लिए पाकिस्तान के PM इमरान खान ने चली नई चाल!

पेरिस में होने वाली बैठक में पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट से हटाकर ब्लैक लिस्ट में डाला जा सकता है.

पेरिस में होने वाली बैठक में पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट से हटाकर ब्लैक लिस्ट में डाला जा सकता है.

पाकिस्‍तानी सांख्यिकी ब्‍यूराे (Pakistan Statistics Bureau) ने सितंबर माह की महंगाई दर (Inflation) जारी कर दी है. महंगाई दर कैलकुलेट करने के लिए नए बेस ईयर (Base Year) का इस्‍तेमाल किया गया है, जिसके मुताबिक नया महंगाई दर कम है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 3, 2019, 5:55 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कंगाली की मार से परेशान पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान (Pakistan) की महंगाई ने लोगों का हाल और बुरा कर दिया है. हाल ही में जारी आकंड़ों के मुताबिक, पाकिस्तान में साल दर साल के हिसाब से महंगाई दर (Inflation) बढ़कर 11.4 फीसदी हो गई है. पाकिस्तानी अखबार द डॉन ने अपनी एक रिपोर्ट में पाकिस्तान सांख्यिकी ब्यूरो (Pakistan Statistics Bureau) के हवाले से यह जानकारी दी है. पिछली बार की तुलना में इस बार पाकिस्तान में महंगाई 0.77 फीसदी बढ़ी है.



बेस ईयर बदलकर महंगाई कम दिखाने की कोशिश



बात दें की पाकिस्तान में महंगाई कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स (Consumer Price Index) के आधार पर कैलकुलेट की जाती है. नए बेस ईयर के आधार पर सितंबर माह में महंगाई 11.37 फीसदी रही है. पिछले माह यह 10.49 फीसदी रही थी. पाकिस्तानी सांख्यिकी विभाग (PSB) ने बेस ईयर को 2008 से बदलकर 2016 कर दिया है. एक माह पहले तक पाकिस्तान में महंगाई दर बेस ईयर 2008 के आधार पर ही तय किया जाता था. द डॉन की रिपोर्ट में कहा गया है कि पुराने में बेस ईयर के हिसाब से देखें तो सितंबर माह के दौरान पाकिस्‍तान में महंगाई दर 12.55 फीसदी होती.





ये भी पढ़ें:  अब इस रूट पर भी दौड़ेगी पीएम मोदी की ड्रीम ट्रेन, हवाई जहाज जैसी सुविधाओं से लैस है ये Train
पाकिस्तान




अब नए तरीके से महंगाई कैलकुलेट करेगा पाकिस्‍तान



बेस ईयर में बदलाव के साथ ही पाकिस्तान ने खपत पद्यार्थों की भागीदारी में भी बदलाव किया है और शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों से कीमतों के बारे में जानकारी इकट्ठा करने के लिए अलग-अलग पैनल का गठन किया है. जारी किए गए नए डेटा के मुताबिक, शहरी सीपीआई में 35 शहरों के 356 आइटम्स को शामिल किया गया है. वहीं, जबकि ग्रामीण क्षेत्रों के लिए 27 सेंटर्स में 244 आइटम्स को शामिल किया है.



IMF ने 13 फीसदी महंगाई का लगाया था अनुमान



इसके पहले अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने अनुमान लगाया था कि सितंबर माह के दौरान ​पाकिस्तान की महंगाई दर 13 फीसदी तक जा सकती है. हालांकि, पाकिस्तानी सरकार ने इसे 11 फीसदी के करीब रहने का अनुमान लगाया था. द डॉन की इस रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान में कोर महंगाई दर 8.8 फीसदी ​जोकि एक माह पहले 8.2 फीसदी था. बता दें कि कोर महंगाई दर के आधार पर ही पाकिस्तानी केंद्रीय बैंक नीतिगत ब्याज दर तय करता है.



ये भी पढ़ें: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जारी किया 150 रुपये का सिक्का, जानिए कैसे और कहां से मिलेगा...





पाकिस्तान




खाने पीने की चीजें महंगी





इस रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान के शहरी क्षेत्र में खाद्य महंगाई दर बढ़कर 15 फीसदी हो गया है जोकि साल दर साल के हिसाब से 2 फीसदी की बढ़ोतरी को दर्शाता

है. शहरी क्षेत्रों में भी इसमें 1.8 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज