Home /News /business /

भारत की कार्रवाई से 'बर्बादी' की कगार पर पाकिस्‍तान, चीन भी नहीं कर पा रहा मदद!

भारत की कार्रवाई से 'बर्बादी' की कगार पर पाकिस्‍तान, चीन भी नहीं कर पा रहा मदद!

प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो

इस समय एक डॉलर के मुकाबले पाकिस्तानी रुपया 139.89 के स्तर तक पहुंच गया है. आपको बता दें कि पाकिस्तानी 1 रुपया भारत के 51 पैसे के बराबर है.

    जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को आतंकी हमले में CRPF के 44 जवान शहीद हुए थे. इस हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए- मोहम्मद ने ली थी. इसके बाद भारत ने पाकिस्तान में पनाह लिए जैश-ए- मोहम्मद के कई ठिकानों पर एयरस्ट्राइक की थी. लेकिन अब विश्व स्तर पर पाकिस्तान चौतरफा घिरना शुरू हो गया है. भारत की ओर से की गई ऐसी घेराबंदी की वजह से अब पाकिस्तान आर्थिक रूप से बर्बादी की कगार पर आ रहा है.

    भारत की घेराबंदी से पाकिस्तान परेशान
    14 फरवरी को हुए पुलवामा हमले के फ़ौरन बाद भारत ने सबसे पहले पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन (MFN) का दर्जा वापस लिया था. जिसके बाद भारत ने पाकिस्तान से इम्पोर्ट होने वाले सामान पर 200% फीसदी तक टैक्स बढ़ा दिया था. इससे पाकिस्तान से भारत आने वाले सामान पर पूरी तरह से रोक लग गई, वहीं दोगुना टैक्स होने के कारण पाकिस्तान के व्यापारी भारत में अपना सामान नहीं बेच पा रहे हैं. इससे व्यापारियों को रोजाना करीब 100 करोड़ रुपए का नुकसान उठाना पड़ रहा है. आपको बता दें कि पाकिस्तान हर साल करीब 3500 करोड़ रुपए का सामान बेचता है.

    इसे भी पढ़ें :- पाकिस्‍तानी सेना का दावा, भारत के दो लड़ाकू विमान मार गिराए, एक पायलट गिरफ्तार

    पाकितानी 1 रुपया भारत के 51 पैसे के बराबर
    आतंकवाद को पनाह देने वाले पाकिस्तान पर भारत की ओर से लगाए गए आर्थिक प्रतिबंध और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हो रही किरकिरी की वजह से इस समय पाकिस्तान का रुपया अपने निचले स्तर पर चला गया है. इस समय एक डॉलर के मुकाबले पाकिस्तानी रुपया 139.89 के स्तर तक पहुंच गया है. आपको बता दें कि पाकिस्तानी 1 रुपया भारत के 51 पैसे के बराबर है.

    चार साल में सबसे ज्यादा महंगाई
    भारत की ओर से पुलवामा हमले के बाद की गई घेराबंदी का दूसरा असर हुआ कि पाकिस्तान में इस समय महंगाई दर 8.2 फीसदी हो गई है. यह पिछले 4 साल के बाद सबसे ज्यादा है. पाकिस्तानी के अख़बार 'डॉन' के अनुसार, MFN का दर्जा खत्म होने के बाद पाकिस्तान में जरूरी चीजों की किल्लत होने लगी है. कई सामानों की कीमतें आसमान छू रही हैं. जिस वजह से महंगाई दर बढ़कर 8.2 फीसदी हो गई है.

    इसे भी पढ़ें :- रेडक्रॉस के जरिए क्यों सौंपे जाते हैं युद्धबंदी, पायलट अभिनंदन को भी ऐसे ही रिहा करेगा पाक!

    150 रुपए किलो के पार पहुंचा टमाटर
    पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत के कई व्यापारियों ने पाकिस्तान एक्सपोर्ट किए जाने वाले कई जरूरी सामानों पर रोक लगा दी है. पाकिस्तानी अख़बार डॉन के मुताबिक, पाकिस्तान में टमाटर 150/- रुपए प्रति किलो तक पहुंच गए हैं.

    भारत से जंग हुई तो कंगाल हो जाएगा पाकिस्तान
    अखबार दैनिक भास्कर में छपे रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल सतीश दुआ के एक लेख के मुताबिक, पाकिस्तान विदेशी कर्जे पर गुजर बसर कर रहा है. वह हर महीने उधार लेकर विदेशी कर्ज के ब्याज का मासिक भुगतान कर रहा है. मौजूदा हालात में पाकिस्तान छह दिन का भी युद्ध नहीं झेल सकता है. अगर जंग हुई तो पाकिस्तान दिवालिया हो जाएगा.

    भारत-पाक के बीच नहीं फंसना चाहता चीन
    आतंक के खिलाफ भारत की मजबूत कार्रवाई से विश्व स्तर पर भारत की तारीफ हो रही है. तमाम अंतरराष्ट्रीय संस्थाएं पाकिस्तान को लोन देने से तक कतरा रही. अंतरराष्ट्रीय दबाव के कारण पाकिस्तान का सबसे गहरा दोस्त चीन भी उसकी मदद करने के लिए आगे नहीं आ पा रहा है. एसओएएस यूनिवर्सिटी

    ऑफ लंदन में चीन संस्थान के निदेशक स्टीव त्सांग ने कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ने पर चीन को किसी भी मोर्चे पर कोई फायदा नहीं है. उन्होंने कहा, "चीन पाकिस्तान को ऐसे विफल होते नहीं देखना चाहता है, लेकिन साथ ही मुझे नहीं लगता कि चीनी वास्तव में इस वजह से भारतीयों के साथ लड़ाई चाहते हैं,


     

    क क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

    Tags: Air Strike, India Vs Pakistan, Pulwama attack, Trending news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर