होम /न्यूज /व्यवसाय /

कंगाली की कगार पर पाकिस्तान, खाली हो रहा खजाना, विदेशी मुद्रा भंडार में रिकॉर्ड गिरावट

कंगाली की कगार पर पाकिस्तान, खाली हो रहा खजाना, विदेशी मुद्रा भंडार में रिकॉर्ड गिरावट

प्रतीकात्मक तस्वीर

प्रतीकात्मक तस्वीर

Pakistan Forex Reserves: गंभीर आर्थिक चुनौती का सामना कर रहे पाकिस्तान का विदेशी मुद्रा भंडार बड़ी गिरावट के साथ 7.83 अरब डॉलर पर आ गया है.

हाइलाइट्स

कर्ज भुगतान में वृद्धि और एक्सटर्नल फाइनेंसिंग की कमी के कारण देश का विदेशी मुद्रा भंडार घटा
7.83 अरब डॉलर पर आ गया है पाकिस्तान का विदेशी मुद्रा भंडार
एक सप्ताह पहले 5 अगस्त को पाकिस्तान का विदेशी मुद्रा भंडार 8.385 अरब डॉलर था.

नई दिल्ली. पाकिस्तान नकदी संकट का सामना कर रहा है. गंभीर आर्थिक चुनौती के बीच उसका विदेशी मुद्रा भंडार (Foreign Exchange Reserves/Forex Reserves) लगातार घट रहा है. पाकिस्तान का विदेशी मुद्रा भंडार बड़ी गिरावट के साथ 7.83 अरब डॉलर पर आ गया है. यह वर्ष 2019 के बाद पाकिस्तान में विदेशी मुद्रा का न्यूनतम स्तर है.

एक्सटर्नल फाइनेंसिंग की कमी के कारण घटा पाकिस्तान का विदेशी मुद्रा भंडार
पाकिस्तान के केंद्रीय बैंक की तरफ से शुक्रवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, इस महीने कर्ज भुगतान में वृद्धि और एक्सटर्नल फाइनेंसिंग की कमी के कारण देश का विदेशी मुद्रा भंडार घटा है. स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान (SBP) के इन आंकड़ों से पता चलता है कि देश के विदेशी भंडार में साप्ताहिक आधार पर 55.5 करोड़ डॉलर यानी 6.6 फीसदी की गिरावट आई है. ऐसा इस महीने बढ़े हुए कर्ज भुगतान और एक्सटर्नल फाइनेंसिंग की कमी के कारण हुआ है.

अक्टूबर 2019 के बाद का सबसे निचला स्तर
इस रिपोर्ट के मुताबिक, “पाकिस्तान के केंद्रीय बैंक के आंकड़ों से पता चला है कि उसका विदेशी मुद्रा भंडार लगभग तीन वर्षों में अपने सबसे निचले स्तर पर गिरकर 7.83 अरब डॉलर पर आ गया है. यह अक्टूबर 2019 के बाद का सबसे निचला स्तर है.’’

ये भी पढ़ें- ग्लोबल रेटिंग एजेंसी S&P का दावा, सुस्ती से निबटने के लिए मजबूत स्थिति में है भारत

एक सप्ताह पहले 5 अगस्त को पाकिस्तान का विदेशी मुद्रा भंडार 8.385 अरब डॉलर था. हालांकि विश्लेषकों का कहना है कि पाकिस्तान का मौजूदा विदेशी मुद्रा भंडार एक महीने के आयात खर्चों के लिए काफी है.

भारत के गोल्ड रिजर्व में 67.1 करोड़ डॉलर का हुआ इजाफा
भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में कमी आई है. 5 अगस्त, 2022 को खत्म हुए सप्ताह में यह 89.7 करोड़ डॉलर घटकर 572.978 अरब डॉलर रह गया. इस दौरान गोल्ड रिजर्व का मूल्य 67.1 करोड़ डॉलर बढ़कर 40.313 अरब डॉलर हो गया हो गया. भारतीय रिजर्व बैंक यानी आरबीआई (RBI) की ओर से शुक्रवार को जारी आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है.

Tags: Pakistan

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर