अपना शहर चुनें

States

पाकिस्तान में महंगाई ने तोड़े सारे रिकॉर्ड!! एक दिन में 26 रुपये बढ़े पेट्रोल के दाम

पाकिस्तान में महंगाई अपने चरम पर है. लोगों को इस महंगाई (Pakistan Inflation) में जहां खाने के लाले पड़ रहे हैं तो वहीं इमरान सरकार ने पेट्रोल (Petrol Price in Pakistan) में लगभग 26 रुपये प्रति लीटर तक की भारी बढ़तरी करने का ऐलान कर दिया है.
पाकिस्तान में महंगाई अपने चरम पर है. लोगों को इस महंगाई (Pakistan Inflation) में जहां खाने के लाले पड़ रहे हैं तो वहीं इमरान सरकार ने पेट्रोल (Petrol Price in Pakistan) में लगभग 26 रुपये प्रति लीटर तक की भारी बढ़तरी करने का ऐलान कर दिया है.

पाकिस्तान में महंगाई अपने चरम पर है. लोगों को इस महंगाई (Pakistan Inflation) में जहां खाने के लाले पड़ रहे हैं तो वहीं इमरान सरकार ने पेट्रोल (Petrol Price in Pakistan) में लगभग 26 रुपये प्रति लीटर तक की भारी बढ़तरी करने का ऐलान कर दिया है.

  • Share this:
कराची. पाकिस्तान में बेलगाम महंगाई (Pakistan Inflation Rate 2020) ने आम आदमी की कमर तोड़कर रख दी है. पेट्रोल के दाम बढ़ने से खाने-पीने की चीजों की कीमतें सातवें आसमान पर पहुंच गई है. पाकिस्तानी अखबार डॉन के मुताबिक,  पेट्रोल की मौजूदा कीमत में एक ही बार में 25.58  रुपये (पाकिस्तानी रुपया) की भारी बढ़ोतरी कर दी गई है. अब वहां पेट्रोल के दाम 100.10 रुपये प्रति लीटर हो गए है. इससे पहले पेट्रोल के दाम 74.52 रुपये प्रति लीटर थे. आपको बता दें कि पाकिस्तान में नई कीमतें अक्सर महीने के अंतिम दिन घोषित की जाती हैं और  यह 12 बजे के बाद लागू होती हैं, लेकिन इस बार महीना खत्म होने के पहले ही कर दी गई है.

पाकिस्तान में पेट्रोल से ज्यादा महंगा है डीज़ल-हाई स्पीड डीजल (HSD) की मौजूदा कीमत में 21.31 रुपये की बढ़ोतरी के बाद लोगों को 101.46 रुपये प्रति लीटर चुकाने होंगे.

लाइट डीजल की कीमत में 17.55 रुपये की बढ़ोतरी होने से लोगों को 55.98 रुपये प्रति लीटर के दर से खर्च करने होंगे.




ये भी पढ़ें- 15 जुलाई तक नहीं चलेंगी देश में इंटरनेशनल फ्लाइट्स, उड्डयन मंत्रालय ने सस्पेंड की उड़ानें

इस साल में दुनिया में सबसे ज्यादा पाकिस्तान में महंगाई- साल 2020 में पाकिस्तानी रुपये में दुनियाभर के अन्य देशों की अपेक्षा सबसे ज्यादा गिरावट देखने को मिली है. पाकिस्तानी स्टेट बैंक (SBP) ने बताया कि हमने वित्त वर्ष 2020 में दुनिया में सबसे ज्यादा महंगाई देखी है, जिससे हमें ब्याज दर बढ़ाने के लिए मजबूर होना पड़ा है.

बैंक की अप्रैल महीने के लिए जारी मुद्रास्फीति रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान ने न केवल विकसित अर्थव्यवस्थाओं बल्कि भारत, चीन, बांग्लादेश और नेपाल जैसी उभरती अर्थव्यवस्थाओं की तुलना में भी सबसे बड़ी महंगाई दर दर्ज की है.

उद्योग संगठनों ने कहा है कि पाकिस्तानी अर्थव्यवस्था इस समय बेहद मुश्किलों में फंसी हुई है. क्योंकि, मौजूदा समय में तुरंत 3-4 खरब रुपये के निवेश की जरूरत है. जबकि, सरकाार के पास एक भी पैसा नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज