पाक ने भारत के साथ व्यापारिक रिश्ता तोड़ा, जानिए क्या होगा असर

आर्थिक तंगी से गुजर रहे पाकिस्तान (Pakistan) ने यह फैसला ऐसे समय में लिया है, जब भारत द्वारा पुलवामा हमले के बाद मोस्ट फेवर्ड नेशन (MFN) का दर्जा छीने जाने की वजह से भारत में उसका एक्सपोर्ट बहुत कम हो चुका है.

News18Hindi
Updated: August 7, 2019, 10:23 PM IST
पाक ने भारत के साथ व्यापारिक रिश्ता तोड़ा, जानिए क्या होगा असर
MFN का दर्जा छिनने के बाद कम था पाकिस्तान का एक्सपोर्ट
News18Hindi
Updated: August 7, 2019, 10:23 PM IST
जम्मू और कश्मीर से अनुच्छेद 370 (Article 370) और अनुच्छेद 35ए (Article 35A) हटाए जाने के बाद बौखलाए पाकिस्तान ने भारत के साथ व्यापारिक रिश्ते तोड़े दिए हैं. आर्थिक तंगी से गुजर रहे पाकिस्तान ने यह फैसला ऐसे समय में लिया है, जब भारत द्वारा पुलवामा हमले के बाद मोस्ट फेवर्ड नेशन (MFN) का दर्जा छीने जाने की वजह से भारत में उसका एक्सपोर्ट बहुत कम हो चुका है.

भारत के साथ द्विपक्षीय व्यापार को निलंबित किया
पाकिस्तान के अंग्रेजी अखबार डॉन की वेबसाइट के अनुसार राष्ट्रीय सुरक्षा समिति (NSC) ने बुधवार को पाकिस्तान के राजनयिक संबंधों को कम करने और भारत के साथ सभी द्विपक्षीय व्यापार को निलंबित करने का 'संकल्प' लेते हुए, कश्मीर पर कब्जे के संबंध में हालिया घटनाक्रमों के मद्देनजर कई बड़े फैसले लिए.

अब क्या होगा?

2018-19 में जुलाई-जनवरी के बीच दोनों देशों के बीच व्यापार मामूली बढ़ोतरी के साथ 1.122 अरब रहा था. कुल द्विपक्षीय व्यापार में 79.33 फीसदी हिस्सा पाकिस्तान में भारतीय निर्यात का है. दोनों देशों के बीच कारोबार अब भी बेहद कम है. 2015-16 में भारत का कुल व्‍यापार 641 अरब डॉलर रहा है. वहीं पाकिस्‍तान के साथ व्‍यापार मात्र 2.67 अरब डॉलर रहा. पाकिस्‍तान को भारत का निर्यात मात्र 2.17 अरब डॉलर रहा. भारत के कुल निर्यात में यह मात्र 0.83 फीसदी. वहीं पाकिस्‍तान से भारत का आयात 50 करोड़ डॉलर से भी कम है. यह भारत के कुल आयात का 0.13 फीसदी है.

ये भी पढ़ें: मोदी सरकार के इस ऐप में जुड़ा नया फीचर, बैंकों से पैसे का लेनदेन हुआ आसान

भारत और पाकिस्तान में आयात-निर्यात
Loading...

भारत, पाकिस्‍तान को चीनी, चाय, ऑयल केक, पेट्रोलियम ऑयल, कॉटन, टायर, रबड़, समेत 14 वस्‍तुओं का प्रमुख रूप से निर्यात करता है. वहीं भारत, पाकिस्‍तान से कुल 19 प्रमुख उत्‍पादों का आयात करता है. इन उत्‍पादों में अमरूद, आम, अनानास, फ्रेबिक कॉटन, साइक्लिक हाइड्रोकॉर्बन, पेट्रोलियम गैस, पोर्टलैंड सीमेंट, कॉपर वेस्‍ट और स्‍क्रैप, कॉटन यॉर्न जैसे उत्‍पाद शामिल हैं.

भारत ने पाकिस्तानी सामान पर 200% कस्टम ड्यूटी बढ़ाई
पुलवामा हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान से निर्यात किए जाने वाले सामानों पर बेसिक कस्टम ड्यूटी को 200 फीसदी तक बढ़ा दी थी. 200 प्रतिशत सीमा शुल्क लगाए जाने के बाद आयात में कमी आई है.

पाकिस्तान का बढ़ गया था भारत में निर्यात
पाकिस्तान से भारत में वाणिज्यिक आयात इस साल मार्च में 92 प्रतिशत घटकर 28.4 लाख डॉलर का रहा. पड़ोसी देश से आयात मार्च 2018 में 3.46 करोड़ डॉलर था. वित्त वर्ष 2018-19 के दौरान पाकिस्तान से आयात 47 प्रतिशत घटकर 5.36 करोड़ डॉलर रहा था. भारत का निर्यात भी मार्च में करीब 32 प्रतिशत घटकर 17.13 करोड़ डॉलर रहा. हालांकि, पूरे वित्त वर्ष 2018-19 के दौरान निर्यात 7.4 प्रतिशत बढ़कर 2 अरब डॉलर रहा. भारत पाकिस्तान के बीच कुल द्विपक्षीय व्यापार 2017-18 में मामूली बढ़कर 2.41 अरब डॉलर रहा था जो 2016-17 में 2.27 अरब डॉलर था. भारत ने 2017-18 में 48.85 करोड़ डॉलर का सामान पाकिस्तान से आयात किया, जबकि 1.92 अरब डॉलर का सामान निर्यात किया गया.

ये भी पढ़ें: Article 370: इस सरकारी कंपनी की नजर जम्मू-कश्मीर पर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 7, 2019, 8:47 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...