भारत से पंगा लेना पाकिस्तान को पड़ा भारी, बकरीद से पहले महंगाई पर हाहाकार

पाकिस्तान में पहले से ही महंगाई आसमान छू रही थी, अब बकरीद से ठीक पहले इस कदम से पाकिस्तानियों की मुश्किलें और बढ़ गई हैं.

News18Hindi
Updated: August 11, 2019, 3:24 PM IST
भारत से पंगा लेना पाकिस्तान को पड़ा भारी, बकरीद से पहले महंगाई पर हाहाकार
बकरीद से पहले पाकिस्तान में महंगाई पर हाहाकार!
News18Hindi
Updated: August 11, 2019, 3:24 PM IST
भारत से कारोबारी रिश्ता तोड़ना पाकिस्तान (Pakistan) को भारी पड़ रहा है. पाकिस्तान में पहले से ही महंगाई (Inflation) आसमान छू रही थी, अब बकरीद (Bakrid) से ठीक पहले इस कदम से पाकिस्तानियों की मुश्किलें और बढ़ गई हैं. बकरीद से पहले प्याज, अदरकर, लहसुन और टमाटर के दाम बढ़ गए हैं. इन चीजों के दाम बढ़ने से पाकिस्तान की जनता की बकरीद फीकी हो सकती है.

इन आइटम्स के दाम बढ़े

पाकिस्तानी अखबार डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक अदरक और लहुसन क्रमशः 400 रुपये व 320 रुपये किलो बिक रहा है, जबकि पहले यह 320 रुपये व 280 रुपये किलो बिक रहा था. वहीं तुरई 140 से 150 रुपये प्रति किलो, लौकी 120 रुपये प्रति किलो, बंदगोभी 80 रुपये प्रति किलो और शिमला मिर्च 120 रुपये प्रति किलो बिक रही है. इसके अलावा हरी मिर्च 100 रुपये किलो, चीन से आयात होने वाली अदरक थोक बाजार में 280 रुपये प्रति किलो, ईरान का लहसुन 240 रुपये किलो बेचा जा रहा है. कुछ दिन पहले 35 रुपये किलो बिकने वाला प्याज अब 50 रुपये किलो बिक रहा है. वहीं टमाटर की कीमतें भी बढ़कर 40 से 50 रुपये किलो हो गई है.



ब्रेड-चीनी भी हुई महंगी
नाश्ते में लिया जाने वाला ब्रेड भी महंगा हो गया है. अब छोटी ब्रेड का पैकेट 35 रुपये, मध्यम साइज की ब्रेड 56 रुपये और बड़ी ब्रेड का पैकेट 100 रुपये हो गया है. चार पीस वाला बन 55 रुपये और रस्क का पैकेट 80 रुपये का हो गया है. वहीं चीनी की कीमत 72 रुपये प्रति किलो हो गई है.

महंगाई ने तोड़ी कमर
Loading...

पाकिस्तान ब्यूरो ऑफ स्टैटिस्टिक्स की तरफ से जारी किए गए महंगाई के आंकड़ों से पता चला है कि देश में रिकॉर्ड महंगाई हो गई है. पाकिस्तान के अखबार डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक, जुलाई में कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स (CPI) आधारित महंगाई दर बढ़कर 10.34 फीसदी पर जा पहुंची है. पिछले महीने यही आंकड़ा 8.9 फीसदी रिकॉर्ड किया गया था. इसी अवधि में पिछले साल यह महंगाई दर 5.84 फीसदी रिकॉर्ड की गई थी. बीते कुछ महीनों में पेट्रोलियम प्रोडक्ट की कीमतों में लगातार तेजी के रुख और इसके बाद बिजली और गैस के टैरिफ में बढ़ोतरी से महंगाई दर आसमान छू रही है.

ये भी पढ़ें: अपनी इन करतूतों की वजह से डूब रहा है पाकिस्तान, दो वक्त की रोटी के लिए तरस रहे हैं लोग!

ये भी पढ़ें: भारत के साथ कारोबार बंद करना पाकिस्तान को पड़ा भारी! ईद मनाने के लिए नहीं है पैसे
First published: August 11, 2019, 3:11 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...