आपके पास नहीं है पैन कार्ड तो रुक जाएंगे ये जरूरी काम, जानिए आखिर क्यों है जरूरी डॉक्युमेंट

पैन कार्ड

पैन कार्ड

फाइनेंस या बैंकिंग सेवाओं से संबंधिक कई जरूरी काम के लिए पैन कार्ड होना बेहद जरूरी है. इनकम टैक्स विभाग के जरिए पैन कार्ड जारी किया जाता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 20, 2020, 5:41 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. हर किसी को अपने जरूरी डॉक्युमेंट्स को हमेशा तैयार रखना चाहिए. आज के समय में किसी भी फाइनेंशियल या बैंकिंग से जुड़े कामकाज के लिए पैन कार्ड (Pan Card) एक बेहद जरूरी डॉक्युमेंट है. कई बार पैन कार्ड नहीं होने की वजह से जरूरी काम रुक जाता है. पैन कार्ड 10 डिजिट का एक नंबर होता है, जिसे इनकम टैक्स विभाग (Department of Income Tax) जारी करता है.

अगर आप 5 लाख रुपये या इससे अधिक की कोई अचल संपत्ति खरीदते हैं तो इसके लिए आपको अपना पैन कार्ड देना अनिवार्य होगा. इनकम टैक्स विभाग ने भी अपने आधिकारिक वेबसाइट पर इस बारे में जानकारी दी है.

यह भी पढ़ें: अमेजन, फ्लिपकार्ट जैसी कंपनियों से अभी नहीं मंगा सकेंगे TV-फ्रिज, MHA की रोक



क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करने पर देना होगा पैन नंबर
किसी भी पोस्ट ऑफिस सेविंग अकाउंट में भी 50,000 रुपए से अधिक की नकदी जमा करने पर पैन नंबर देना अनिवार्य है. क्रेडिट एवं डेबिट कार्ड के आवेदन के लिए भी पैन कार्ड दिया जाता है. होटल और रेस्त्रां में 25,000 रुपए से ऊपर के बिल के लिए भी पैन कार्ड देना अनिवार्य है.

इंश्योरेंस प्रीमियम के लिए पैन कार्ड अनिवार्य है
अगर आज जीवन बीमा प्रीमियम जमा करते हैं और यह रकम 50,000 रुपये से अधिक है तो इसके लिए भी आपको पैन नंबर देना अनिवार्य होगा. किसी भी कंपनी के शेयर्स खरीदने के लिए भी पैन कार्ड की जरूरत होती है. खासकर उस मामले में जब आप कंपनी को शेयर के बदले 50,000 रुपए या उससे ऊपर पेमेंट करते हैं. कंपनी के डिबेंचर और बॉण्ड खरीदने के लिए भी पैन देना अनिवार्य है.

यह भी पढ़ें: सेविंग अकाउंट में पैसे रखते हैं तो जान लें ये बात, रिटर्न को लग सकता है झटका!

50 हजार से अधिक के ट्रांजैक्शन के​ लिए चाहिए पैन कार्ड
अगर आप इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करना चाहते हैं तो इसके लिए जरूरी है आपका पैन कार्ड और आधार कार्ड एक दूसरे से जरूर लिंक हों. अगर आपका पैन और आधार लिंक नहीं है तो आप इनकम टैक्स रिटर्न प्रोसेस नहीं होगा. आयकर विभाग के मुताबिक बैंक ड्राफ्ट की नकद खरीद, पे ऑर्डर या एक दिन में 50,000 रुपए या उससे ऊपर के बैंकर्स चेक के लिए भी पैन कार्ड देना होता है.

TD या FD के लिए भी देना होगा पैन
अगर आप 1 लाख रुपये से अधिक कीमत की कोई सिक्योरिटीज या म्यूचुअल फंड्स यूनिट्स खरीदते हैं तो आपको अनिवार्य रूप से अपना पैन नंबर उपलब्ध कराना होगा. वित्तीय संस्थानों में टाइम डिपॉजिट या फिक्स्ड डिपॉजिट स्कीम में 50,000 रुपए से अधिक रकम जमा करने पर पैन कार्ड जरूरी है.

यह भी पढ़ें:  बैंक या शेयर में नहीं बल्कि ऐसे करें बचत, पूरा हो जाएगा करोड़पति बनने का सपना
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज