लाइव टीवी

आज ही शुरू करें ये बिजनेस, मोदी सरकार करेगी 4 लाख रुपये की मदद

News18Hindi
Updated: December 7, 2019, 6:50 PM IST
आज ही शुरू करें ये बिजनेस, मोदी सरकार करेगी 4 लाख रुपये की मदद
2 लाख रुपये में पापड़ बनाने का बिजनेस शुरू कर सकते हैं.

मात्र 2 लाख रुपये के निवेश से खुद का बिजनेस शुरू किया जा सकता है. इसके लिए मोदी सरकार की मुद्रा योजना के तहत भी लोन लिया जा सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 7, 2019, 6:50 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अगर आप कम इन्वेस्टमेंट में कोई बिजनेस करने के बारे में सोच रहे हैं तो आज हम आपको एक खास बिजनेस के बारे में बताने जा रहे हैं. ये बिजनेस आप 2 लाख रुपये लगाकर शुरू कर सकते हैं. पापड़ बनाने के बिजनेस को सिर्फ दो लाख रुपये में किया जा सकता है. नेशनल स्मॉल इंडस्ट्रीज कॉरपोरेट (National Small Industries Corporate) ने इसके लिए एक प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार किया है, जिसके तहत आपको मुद्रा स्कीम (PM Mudra Yojna) की मदद से आपको 4 लाख रुपये का लोन सस्ते रेट में मिल जाएगा.

कितना लगेगा कुल खर्च
इस रिपोर्ट के मुताबिक, केवल 6 लाख रुपये के इन्वेस्टमेंट से करीब 30 हजार किलोग्राम की प्रोडक्शन क्षमता (Production Capacity) तैयार हो जाएगी. इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आपका कुल 6 लाख 5 हजार रुपये खर्च होगा.

ये भी पढ़ें: खुशखबरी! महज 1 दिन में ही आपके खाते में क्रेडिट हो जाएगा पीएफ का पैसा, जानिए क्या है EPFO का प्लान

फिक्स्ड कैपिटल: इस टोटल खर्च में फिक्स्ड कैपिटल (Fixed Capital) और वर्किंग कैपिटल (Working Capital) का खर्च शामिल है. फिक्स्ड कैपिटल में दो मशीन, पैकेजिंग मशीन इक्विपमेंट जैसे तमाम खर्च शामिल है.



वर्किंग कैपिटल: वर्किंग कैपिटल में स्टाफ की तीन महीने की सैलरी, तीन महीने में लगने वाली कच्चा माल और यूटिलीटी प्रोडक्ट का खर्च शामिल है. इसके अलावा इसमें किराया, बिजली, पानी और टे​लीफोन बिल जैसे खर्च भी शामिल हैं.किन चीजों की होगी जरूरत
पापड़ बनाने के बिजनेस को शुरू करने के लिए आपको शिफ्टर, दो मिक्सर, प्लेटफॉर्म बैलेंस, इलेक्ट्रिक ओवन, मार्बल टेबल टॉप, चकला बेलन, एल्युमिनियम के बर्तन जैसे मशीनरी की जरूरत होगी. पापड़ बनाने के बिजनेस के लिए कम से कम 2500 स्क्वैयर फीट की जगह की जरूरत होगी.

ये भी पढ़ें: कमाई का शानदार मौका! जानें Bharat Bond ETF से जुड़ी सभी जरूरी बातें

अगर आपके पास खुद की जगह नहीं है तो इसे किराये पर लिया जा सकता है, जिसके लिए कम से कम 5 हजार रुपये किराया आपको हर महीने देन होगा. मैनपावर की बात करें तो इसके लिए आपको 3 अनस्किल्ड लेबर, 2 स्क्ल्डि लेबर और एक सुपरवाइजर की जरूरत होगी. इन सभी की सैलरी पर 25 हजार रुपये खर्च होगा, जो वर्किंग कैपिटल में जोड़ा गया है.



मुद्रा योजना के तहत ले सकते हैं 4 लाख रुपये तक का लोन
6 लाख रुपये के कुल कैपिटल में से आपको अपने पास 2 लाख रुपये लगाने होंगे. सरकार की मुद्रा योजना के तहत आपको 4 लाख रुपये तक का लोन मिल जाएगा. इसके लिए आपको प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत आप किसी भी बैंक में आवेदन कर सकते हैं. इसके लिए आपको एक फॉर्म भरना होगा, जिसमें कई सारी ​डीटेल्स भरनी होंगी.

ऐसे बढ़ा सकते हैं सेल
इसमें किसी तरह की प्रोसेसिंग फीस या गारंटी फीस नहीं देनी होती है. आप लोन का अमाउंट 5 साल में लौटा सकते हैं. प्रोडक्ट बनने के बाद थोक में बेचना होगा. इसके लिए छोटे किराना स्टोर्स, सुपरमार्केट और बड़े रिटेलर्स से संपर्क बनाकर प्रोडक्ट की सेल बढ़ाई जा सकती है.

ये भी पढ़ें: GST स्लैब की दरों में होने जा रहा बड़ा बदलाव! महंगी हो जाएंगी ये चीजें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 7, 2019, 6:18 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर