पतंजलि फाउंडर आचार्य बालकृष्ण देश के टॉप 25 अमीरों में शामिल, दोगुनी हो चुकी है दौलत

पतंजलि फाउंडर आचार्य बालकृष्ण देश के टॉप 25 अमीरों में शामिल, दोगुनी हो चुकी है दौलत
आचार्य बालकृष्ण, प्रबंध निर्देशक, पतंजलि आयुर्वेद

योग गुरु बाबा रामदेव के सहयोगी और पतंजलि आयुर्वेद के मालिक आचार्य बालकृष्ण देश के टॉप 25 अमीरों की सूची में शामिल हो चुके हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 7, 2018, 1:37 PM IST
  • Share this:
योग गुरु बाबा रामदेव के सहयोगी और पतंजलि आयुर्वेद के मालिक आचार्य बालकृष्ण देश के टॉप 25 अमीरों की सूची में शामिल हो चुके हैं. फोर्ब्स ने हाल ही में देश के अमीरों की जो सूची शामिल की है उसमें आचार्य बालकृष्ण को शामिल किया गया है. आचार्य बालकृष्ण की दौलत 32.5 हजार करोड़ रुपए (4.4 अरब डॉलर) आंकी गई है. 2016 के मुकाबले उनकी दौलत (नेट वर्थ) में दोगुनी बढ़ोतरी हुई है.

आपको बता दें कि पिछले गुरूवार को फोर्ब्स ने भारत के टॉप रिचेस्ट लोगों की लिस्ट जारी की थी. फोर्ब्स के मुताबिक बालकृष्ण की पतंजलि आयुर्वेद कंपनी में 98.6 फीसदी हिस्सेदारी है. इस कंपनी की स्थापना उन्होंने बाबा रामदेव के साथ मिलकर की है. उनकी दौलत में बढ़ोतरी पंतजलि से होने वाली आय के कारण है. पतंजलि की सालाना आय 11.8 हजार करोड़ रुपए (1.6 अरब डॉलर) है. ये कंपनी हर्बल प्रोडक्ट, FMCG प्रोडक्ट समेत कई तरह के कारोबार करती है. बाबा रामदेव की पतंजलि में कोई हिस्सेदारी नहीं है. कंपनी का पूरा कामकाज आचार्य बालकृष्ण देखते हैं.

बाबा रामदेव की पतंजलि के साथ शुरू करें गार्मेंट बिज़नेस, होगी लाखों में कमार्इ!



कंपनी ने ऑनलाइन सामान बेचने के लिए अमेजन, फ्लिपकार्ट और बिगबास्केट जैसी बड़ी कंपनियों से करार किया हुआ. 46 साल के आचार्य बालकृष्ण 2016 में फोर्ब्स के अमीरों की सूची में 48वें स्थान पर थे. उस समय उनकी दौलत 16.5 हजार करोड़ (2.5 अरब डॉलर) आंकी गई थी. उस समय 1 डॉलर की कीमत 66 रुपए थी आज ये 74 पर पहुंच चुका है.
बाबा रामदेव दे रहे हैं बिजनेस का मौका, इस तरह फ्रेंचाइजी लेकर कर सकते हैं मोटी कमाई

आज ये दोगुनी होकर 32 हजार करोड़ से ज्यादा हो गई है. विश्व के अमीरों की सूची में वो 274 स्थान पर पहुंच चुके है. पतंजलि ने हाल ही में गाय के दूध के कारोबार में उतरने का एलान किया है. कंपनी टेलीकॉम कारोबार में भी हाथ आजमा रही है. आचार्य बालकृष्ण ने हाल ही में कहा था कि उनकी कंपनी को शेयर बाजार में लिस्ट करवाने की कोई योजना नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज