लाइव टीवी

बाबा रामदेव के लिए खुशखबरी! भारी मुश्किलों के बाद पतंजलि की हुई रुचि सोया, इतने रुपए में हुई डील

News18Hindi
Updated: December 19, 2019, 9:52 AM IST
बाबा रामदेव के लिए खुशखबरी! भारी मुश्किलों के बाद पतंजलि की हुई रुचि सोया, इतने रुपए में हुई डील
4,350 करोड़ रुपए में खरीदा पतंजलि को

बाबा रामदेव (Baba Ramdev) के लिए बड़ी खुशखबरी, दिवालिया घोषित न्यूट्रीला मेकर रुचि सोया (Ruchi Soya) को खरीद लिया. रुचि सोया कंपनी अब बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि की हो गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 19, 2019, 9:52 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बाबा रामदेव (Baba Ramdev) के लिए बड़ी खुशखबरी, दिवालिया घोषित न्यूट्रीला मेकर रुचि सोया (Ruchi Soya) को खरीद लिया. रुचि सोया कंपनी अब बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि की हो गई है. रामदेव की पतंजलि आयुर्वेद (Patanjali Ayurved) ने बुधवार को 4,350 करोड़ रुपए में खरीद लिया है. बता दें कि पतंजलि आयुर्वेद का यह पहला बड़ा अधिग्रहण है. पतंजलि ने रुचि सोया का अधिग्रहण इंसाल्वेंसी प्रक्रिया का तहत किया.

2019 में अधिग्रहण करने का अप्रूवल हासिल किया था पतंजलि ने 
पतंजलि के प्रवक्ता एस के तिजारावाला का कहना है कि रुचि सोया के अधिग्रहण से जुड़ी सारी प्रक्रियाओं को पूरा कर लिया गया है और साथ में सभी राशि भी जमा कर दी है. एस के तिजारावाला के मुताबिक, रुचि सोया के अधिग्रहण के बाद रामदेव ने 125 करोड़ देशवासियों के सहयोग व समर्थन के लिए धन्यवाद दिया है.

ये भी पढ़ें: रेलवे की स्पेशल छूट! स्लीपर/सेकेंड क्लास के किराये में मिलेगा 50% का डिस्काउंट

दिसंबर 2017 में नेशनल लॉ ट्रिब्यून (एनसीएलटी) ने इनसॉल्वेंसी प्रक्रिया के तहत रुचि सोया नीलामी का आदेश दिया था. साल 2019 में पतंजलि आयुर्वेद ने रुचि सोया को अधिग्रहण करने का अप्रूवल हासिल किया था. हालांकि एनसीएलटी ने पतंजलि की ओर से जमा कराए गए 600 करोड़ रुपए के स्रोत के बारे में सही जानकारी न मिलने पर अधिग्रहण के फैसले को सुरक्षित रख लिया था.

था बकाया रुचि सोया पर बैंकों का 9,345 करोड़ रुपए 
खाद्य तेल कंपनी रुचि सोया पर बैंकों का 9,345 करोड़ रुपए का बकाया था. इसमें से भारतीय स्‍टेट बैंक के नेतृत्‍व वाले बैंकों के समूह का कुल 9,345 करोड़ रुपए बकाया था. साथ ही एसबीआई का 1800 करोड़ रुपए, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया का 816 करोड़, पंजाब नेशनल बैंक का 743 करोड़ और स्‍टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक का 608 करोड़ रुपए बकाया था. वहीं डीबीएस का 243 करोड़ रुपए का बकाया था.ये भी पढ़ें: SBI की चेतावनी! फोन चार्ज करते वक्त खाली हो सकता है आपका खाता, ऐसे रहें सेफ

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 19, 2019, 9:52 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर