लाइव टीवी

कोरोना महामारी के संकट में आम लोगों को राहत देने के लिए पतंजलि ने साबुन समेत कई प्रोडक्ट सस्ते किए

News18Hindi
Updated: March 20, 2020, 4:21 PM IST

CNBC आवाज़ के साथ खास बातचीत में योगगुरू बाबा रामदेव ने बताया कि कोरोना महामारी के संक्रमण से निपटने के उनकी कंपनी पतंजलि आयुर्वेद ने कई प्रोडक्ट के दाम 20 फीसदी तक घटा दिए है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 20, 2020, 4:21 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. योगगुरु बाबा रामदेव ने CNBC आवाज़ के साथ हुई खास बातचीत में बताया कि कोरोना महामारी के समय में विदेशी कंपनियों ने बढ़ाए हैं. वहीं, इसके उलट पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड (Patanjali Ayurveda Limited) ने अपने कई प्रोडक्ट के दाम घटा दिए हैं. उन्होंने बताया कि साबुन  12.5 फीसदी सस्ता किया है. वहीं, एलोवेरा, हल्दी, चंदन के दाम भी 12.5 फीसदी तक घटा दिए है. उन्होंने कहा कि भारत में कोरोना से संक्रमण फैलने का खतरा बरकरार है. इस समय डरने की बजाय सावधानी बरतनी चाहिए.

ये भी पढ़ें-कोरोना की वजह से हर महीने खाते में पैसे भेजेगी सरकार, शुरू कर सकती है नई स्कीम

बाबा रामदेव कहते है कि हम देश को बाजार नहीं परिवार मानते हैं. इसीलिए प्रोडक्ट की कीमतें कम करने का फैसला किया है. उन्होंने बताया कि पतंजलि जल्द सस्ता हैंड सैनेटाइजर भी लाएगी.





रामदेव कहते है कि अब लोग का ध्यान हैंड सैनेटाइज करने पर ही नहीं है बल्कि पूरे शरीर को शुद्ध करने पर ध्यान गया है. पतंजलि सस्ते प्रोडक्ट पर भी अपना फोकस बढ़ा रहा है. जैसे की किसी भी कमोडिटी के दाम कम होते है वैसे ही हमारी कोशिश रहती है कि प्रोडक्ट के दाम घटा दिए जाए. क्योंकि हम देश को बाजार नहीं परिवार मानते है और हमारा ध्यान उन पर है.

ये भी पढ़ें:- कोरोना संकट: घर बैठे लोगों की शिकायते दूर करने के लिए EPFO लाया WhatsApp नंबर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 20, 2020, 3:32 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

भारत

  • एक्टिव केस

    5,218

     
  • कुल केस

    5,865

     
  • ठीक हुए

    477

     
  • मृत्यु

    169

     
स्रोत: स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार
अपडेटेड: April 09 (05:00 PM)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर

दुनिया

  • एक्टिव केस

    1,151,000

     
  • कुल केस

    1,603,115

    +42
  • ठीक हुए

    356,422

     
  • मृत्यु

    95,693

    +1
स्रोत: जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी, U.S. (www.jhu.edu)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर