Home /News /business /

paytm q4 result paytm suffered a loss of rs 762 crore the company said business on the right track

Paytm Q4 Result : पेटीएम को हुआ 762 करोड़ रुपये का घाटा, कंपनी ने कहा- सही रास्ते पर कारोबार

पेटीएम के शेयर 572 रुपये पर बंद हुए.

पेटीएम के शेयर 572 रुपये पर बंद हुए.

पेटीएम ने अपने तिमाही नतीजे जारी कर दिए हैं. मार्च तिमाही में कंपनी को 762 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है. हालांकि, कंपनी के रेवेन्यू में बढ़ोतरी हुई है. पेटीएम का कहना है कि वह इस साल के मध्य तक ब्रेक-ईवन की स्थिति में आ जाएगी.

नई दिल्ली. पेटीएम की पेरेंट कंपनी वन97 कम्युनिकेशन ने वित्त वर्ष 2021-22 की चौथी तिमाही के नतीजों की घोषणा कर दी है. नतीजों के अनुसार, वित्त वर्ष 2021-22 की चौथी तिमाही में कंपनी को वार्षिक आधार पर 762.5 करोड़ रुपये का घाटा उठाना पड़ा है. कंपनी ने इससे पिछली तिमाही में 444.4 करोड़ रुपये का घाटा उठाया था.

हालांकि इस घाटे के बावजूद कंपनी का दावा किया है कि उसका कारोबार सही रास्ते पर है और EBITDA के मामले में वो 2023 के सितंबर तिमाही के नतीजों तक ब्रेक-इवेन (जहां लागत और आय एक बराबर हो जाए) की स्थिति में आ जाएगी. कंपनी ने शुक्रवार को बाजार बंद होने के बाद नतीजे घोषित किए. बीएसई की वेबसाइट पर कंपनी के नतीजे रात को करीब 9.40 बजे अपलोड किए गए हैं. वहीं, कुछ ही मिनट बाद कंपनी ने अपने ट्विटर हैंडल पर भी नतीजे डाल दिए.

ये भी पढ़ें- Ethos IPO: खुदरा निवेशकों से नहीं मिला रिस्पॉन्स, अंतिम दिन तक सिर्फ 1.04 गुना सब्सक्राइब हुआ इश्यू

आय में हुई वृद्धि

कंपनी ने कहा है कि उसे चौथी तिमाही में परिचालन से 1541 करोड़ रुपये की आय हासिल हुई है. यह इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि के मुकाबले 89 फीसदी अधिक है. कंपनी ने यह भी बताया है कि चौथी तिमाही में उसका EBITDA घाटा (ईएसओपी की लागत से पहले) 368 करोड़ रुपये रहा, जो इसके पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 52 करोड़ रुपये ज्यादा है. 2021-22 के पूरे वित्त वर्ष के दौरान कंपनी का EBITDA घाटा (ईएसओपी की लागत को छोड़कर) 1,518 करोड़ रुपये रहा, जो वित्त वर्ष 2020-21 के 1,655 करोड़ रुपये के घाटे के मुकाबले 8 फीसदी कम है.

निवेशकों का पैसा आधे से ज्यादा डुबाया

शुक्रवार को नतीजे आने से पहले पेटीएम के शेयर 572 रुपये पर बंद हुए थे. कंपनी के शेयर इस साल की शुरुआत से अब तक 57 फीसदी से ज्यादा गिर चुके हैं. पेटीएम की पेरेंट कंपनी One97Communications नंवबर 2021 में अपना आईपीओ लेकर आई थी. तब यह भारत का सबसे बड़ा आईपीओ था. हालांकि, सब्सक्रिप्शन की धीमी रफ्तार को देखते हुए शेयरों की स्थिति का अंदाजा लगना शुरू हो गया था. बाजार जानकारों के अनुसार, कंपनी के फंडामेंटल्स बहुत कमजोर थे और वह ओवरप्राइज्ड मूल्य के साथ आईपीओ लेकर आई. कंपनी ने 2150 रुपये में जारी किए और उसके बाद पेटीएम ने निवेशकों का लगातार निराश किया. पेटीएम के निवेशकों का आधे से ज्यादा पैसा डूब चुका है.

Tags: Paytm

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर