Paytm को हर महीने हो रहा है 330 करोड़ का नुकसान, कंपनी ने बताई इसकी वजह

News18Hindi
Updated: September 11, 2019, 5:11 PM IST
Paytm को हर महीने हो रहा है 330 करोड़ का नुकसान, कंपनी ने बताई इसकी वजह
Paytm को हर महीने हो रहा है 330 करोड़ का नुकसान, कंपनी ने बताई इसकी वजह

मोबाइल ई-वॉलेट कंपनी पेटीएम (Paytm) को रोजाना करीब 11 करोड़ रुपये का घाटा हो रहा है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पिछले फाइनेंशियल ईयर में पेटीएम का घाटा 165 फीसदी बढ़ गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 11, 2019, 5:11 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. मोबाइल ई-वॉलेट (Mobile Wallet) कंपनी पेटीएम (Paytm) को रोजाना करीब 11 करोड़ रुपये का घाटा हो रहा है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पिछले फाइनेंशियल ईयर में पेटीएम का घाटा 165 फीसदी बढ़ गया है. यह 1,490 करोड़ रुपये से बढ़कर 3,959.6 करोड़ रुपये हो गया है. हालांकि, कंपनी की आमदनी में लगातार इजाफा हो रहा है. यह 3,229 करोड़ रुपये से बढ़कर 3,319 करोड़ रुपये हो गई है. आपको बता दें कि डिजिटल पेमेंट लीडर पेटीएम को गूगल पे और फोन पे से कड़ी टक्कर मिल रही है.
> Paytm की पेरेंट कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस है और पेटीएम के फाउंडर विजय शेखर शर्मा पेरंट कंपनी में मैनेजिंग डायरेक्टर हैं और कंपनी में उनकी 15.7 फीसदी हिस्सेदारी है.साल 2019 के शुरुआती 3 महीनों के दौरान पेटीएम से 1.2 अरब मर्चेंट ट्रांजैक्शन्स हुए, जो 1 करोड़ 40 लाख रीटेल स्टोर्स के जरिए किए.

हर महीने होता है 330 करोड़ रुपये का घाटा-  अंग्रेजी के बिजनेस अखबार इकोनॉमिक टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक, बीते फाइनेंशियल ईयर यानी 2018-19 में कंपनी की आमदनी 3,319 करोड़ रही है. जबकि, वित्त वर्ष 2017-18 के दौरान 3,229 करोड़ रुपये थी.

ये भी पढ़ें-PM-किसान मानधन योजना: 8 लाख लोगों ने सुरक्षित किया अपना बुढ़ापा!



>> वहीं, अब बात करें पूरे कारोबार की तो कन्सॉलिडेटेड आधार पर कंपनी की आमदनी बढ़कर 4,217 करोड़ रुपये हो गई है. इसमें पेटीएम मनी फॉर म्यूचुअल फंड इन्वेस्टमेंट, पेटीएम फाइनेंशियल सर्विसेस, पेटीएम एंटरटेनमेंट सर्विसेस और अन्य शामिल हैं.

ये भी पढ़ें-देश के इन बैंकों में FD कराने पर मिल रहा है 9% तक ब्याज, उठाएं फायदा
Loading...

>> Paytm के प्रवक्ता की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि पिछले 2 साल से हम देश में डिजिटल पेमेंट्स इकोसिस्टम को मजबूत करने के लिए सालाना 1 अरब डॉलर का निवेश कर रहे हैं.

>> अगले 2 साल के दौरान हम 3 अरब डॉलर का निवेश करेंगे. इंडिया डिजिटल पेमेंट्स के इन्फ्लेक्शन पॉइंट पर है और पेटीएम का पूरा फोकस मर्चेंट पेमेंट की समस्याएं सुलझाने और उन्हें वित्तीय सेवाएं मुहैया करवाने पर है. इस दिशा में हम अगले 2 साल में 20,000 करोड़ रुपये निवेश करेंगे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 11, 2019, 4:22 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...