लाइव टीवी

लॉकडाउन की वजह से घटी बिजली की मांग, 22 फीसदी की गिरावट

पीटीआई
Updated: March 26, 2020, 6:35 PM IST
लॉकडाउन की वजह से घटी बिजली की मांग, 22 फीसदी की गिरावट
देश में बिजगी की मांग में बड़ी गिरावट आई है.

देशभर में लॉकडाउन की वजह से लोग घरों तक ही सीमित हैं. इसकी वजह से पीक पावर डिमांड में भारी गिरावट आई है.

  • Share this:
नई दिल्ली. देशव्यापी लॉकडाउन (Lockdown in India) की वजह से पीक पावर डिमांड (Peak Power Demand) में 22 फीसदी तक की कमी आई है. 20 मार्च को 163.72 गीगावॉट की तुलना में बुधवार को यह घटकर 127.96 गीगावॉट रहा. इसका मतलब है लॉकडाउन के बीच देश में पॉवर स्पलाई की डिमांड में 35 गीगावॉट की कमी आ चुकी है.

क्या है कारण
पीक पावर डिमांड में यह कमी इंडस्ट्रीज और स्टेट पावर डिस्ट्रीब्युशन यूटिलीटिज में बंद पड़ने की वजह से आया है. लॉकडाउन की वजह से देशभर में इडस्ट्रीयल और कॉमर्शियल ईकाईयां पूरी तरफ से बंद हैं.

यह भी पढ़ें: 80 करोड़ लोगों को 3 महीने तक 5 किलो अनाज और 1 किलो दाल मुफ्त देगी सरकार



कैसे-कैसे आई डिमांड में गिरावट
एक इंडस्ट्री सूत्र से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, '20 मार्च को पीक पावर डिमांड 163.72 गीगावॉट था. 21 मार्च को यह घटकर 161.74 गीगावॉट के स्तर पर आ गया. 22 मार्च का जनता कर्फ्यू की वजह से इस डिमांड और भी घटकर 135.20 गीगावॉट के स्तर पर आ गया.'

इसके बाद बीते सोमवार को यह 145.49 गीगावॉट के स्तर पर था. अगले दो दिन यानी मंगलवार और बुधवार को यह और भी घटकर क्रमश: 135.93 और 127.96 गीगावॉट के स्तर पर आ गया.

एनर्जी एक्सचेंज पर स्पॉट पावर प्राइस भी लुढ़का
पावर सप्लाई डिमांड की वजह से इंडियन एनर्जी एक्सचेंज पर स्पॉट पावर प्राइस में 60 पैसे प्रति यूनिट की गिरावट दर्ज की गई है. सूत्र ने जानकारी दी है कि अनुमान के मुताबिक, शुक्रवार को स्पॉट पावर प्राइस घटकर 2 रुपये प्रति यूनिट हो जाएगा. गुरुवार को यह 2.40 रुपये प्रति यूनिट के स्तर पर है.

यह भी पढ़ें: 20.50 करोड़ महिलाओं के खाते में सरकार हर महीने 500 रुपये ट्रांसफर करेगी

8 करोड़ महिलाओं को 3 महीने तक मुफ्त मिलेगा LPG रसोई गैस सिलेंडर

अन्न-धन और गैस की चिंता खत्म, किसानों-मजदूरों के लिए सरकार ने किए 10 बड़े ऐलान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 26, 2020, 6:35 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर