NH के दोनों किनारों पर लोगों को मिलेंगे विश्वस्तरीय सुविधाएं, NHAI अगले पांच सालों में बनाएगा 600 सुविधा केंद्र

एनएचएआई

एनएचएआई

एनएचएआई (NHAI) ने योजना बनाई है कि अगले पांच सालों में देश के 22 राज्यों में 600 से अधिक स्थानों पर जन सुविधा केंद्र खोले जाएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 24, 2021, 6:47 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश में फैली सवा लाख किलोमीटर से अधिक नेशनल हाईवे (National Highways) सड़क नेटवर्क में लोगों को अब विश्वस्तरीय अनुभव मिलने जा रहा है. एनएचएआई (NHAI) ने ऐलान किया है कि ट्रक चालकों और आम मुसाफिरों को नेशनल हाईवे के दोनों तरफ कई आधुनिक सुविधाएं मिलेगी. कंपनी ने दावा किया है कि अगले पांच सालों में नेशनल हाईवे के दोनों तरफ 600 आधुनिक सुविधा केंद्र खोले जाएंगे.

एनएचएआई ने योजना बनाई है कि अगले पांच सालों में देश के 22 राज्यों में 600 से अधिक स्थानों पर जन सुविधा केंद्र खोले जाएंगे. इन 600 में से 130 सुविधा केंद्र अगले वित्त वर्ष में तैयार हो जाएंगे. एनएचएआई ने सड़क किनारे 120 सुविधा केंद्रों को डेवलप करने के लिए बोली आमंत्रित भी कर चुकी है. योजना के मुताबिक मौजूदा और भावी राजमार्गों और एक्सप्रेस वे के प्रत्येक 30 से 50 किमी की दूरी पर सुविधा केंद्र बनाए जाएंगे.

यात्रियों को मिलेंगे ये आधुनिक सुविधाएँ

इन वे साइड एमेनिटीज में कई विश्व स्तरीय सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएगी. इन सुविधाओं में फ्यूल स्टेशन, इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन, फूड कोर्ट, खुदरा दुकानें, बैंक एटीएम, शॉवर फैसिलिटी सहित शौचालय, बच्चों के खेलने का स्थान, मेडिकल क्लिनिक, विलेज हाट और स्थानीय हस्तशिल्प के उत्पादों की बिक्री केंद्र शामिल हैं.
ये भी पढ़ें- Gold Price Today: गोल्‍ड के दाम लुढ़के, फिर सस्‍ते में खरीदने का बना है मौका, देखें 10 ग्राम का क्‍या है भाव

ट्रक चालकों के लिए अलग से होगी ये सुविधाएं

घंटों और कई दिनों तक नेशनल हाईवे में चलने वाले ट्रक चालकों की जरूरतें भी अलग-अलग होती हैं. इसके मद्देनजर अलग से ट्रकर ब्लॉक्स बनाने का भी प्रस्ताव है. इन स्थानों पर ट्रकों और ट्रेलरों की पार्किंग सुविधा भी उपलब्ध होगी. इस क्षेत्र में ऑटो वर्कशॉप, ट्रक चालकों के ठहरने के लिए डोरमेट्री, कूकिंग और वॉशिंग एरिया, शौचालय, स्नानागार, मेडिकल क्लिनिक, ढाबा और खुदरा दुकानों की सुविधा उपलब्ध होगी.



इस कदम से इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने में मिलेगी मदद

नेशनल हाईवे के दोनों तरफ इलेक्ट्रिक चार्चिंग स्टेशन के खोले जाने से इलेक्ट्रिक वाहनों के प्रचलन को बढ़ावा दिया जा सकेगा. इससे वायु प्रदूषण को नियंत्रण करने में मदद तो मिलेगी ही साथ ही ट्रांसपोर्टेशन लागत भी काफी कम होगा. इस प्रयास से स्थानीय अर्थव्यवस्था को भी गति दी जा सकेगी. इससे रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे और स्थानीय यूनिक और हैंडिक्राफ्ट के सामानों को बाजार मिल पाएगा.

ये भी पढ़ें- कर्मचारियों के लिए अच्‍छी खबर! PF में 5 लाख रुपये तक के निवेश से मिले ब्‍याज पर नहीं लगेगा टैक्‍स

3000 हेक्टेयर क्षेत्र में तैयार किया जाएगा वे साइड एमेनिटीज

साल 2025-26 तक देशभर के नेशनल हाईवे के 3000 हेक्टेयर क्षेत्र में एनएचएआई सुविधा केंद्र खोलने की योजना बना रहा है. उम्मीद की जा रही है कि इस प्रयास से निवेशकों, डेवेलपरों, संचालकों और रिटेलरों के लिए बड़े अवसर पैदा होंगे. वर्तमान में एनएचएआई पीपीपी मॉडल के तहत रोड साइड एमेनिटीज को डेवलप और ऑपरेट कर रही है. भविष्य में बनने वाले सभी ब्राउनफील्ड या ग्रीन फिल्ड नेशनल हाईवे प्रोजेक्टों के साथ ही वे साइड अमेनिटिज बनाने का प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज