Home /News /business /

Personal Finance : रुपये-पैसे से जुड़े मामलों में पुरुषों से आगे निकलीं महिलाएं, वित्तीय भरोसा भी ज्यादा

Personal Finance : रुपये-पैसे से जुड़े मामलों में पुरुषों से आगे निकलीं महिलाएं, वित्तीय भरोसा भी ज्यादा

पर्सनल फाइनेंस, मनी, क्रेडिट स्कोर, लोन, फ्यूल क्रेडिट कार्ड

पर्सनल फाइनेंस, मनी, क्रेडिट स्कोर, लोन, फ्यूल क्रेडिट कार्ड

Personal finance credit score women man bank bazaar, ज्यादा कर्ज लेने के बावजूद महिलाओं का क्रेडिट स्कोर बेहतर रहता है. देशभर में 36 फीसदी ही ऐसे लोग हैं, जिनका क्रेडिट स्कोर 800 से ज्यादा है. इनमें महिलाओं की हिस्सेदारी 40 फीसदी है, जबकि पुरुषों की 35.6 फीसदी ही है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. वित्तीय समझदारी और साख के प्रति पुरुषों के मुकाबले महिलाएं ज्यादा सतर्क रहती हैं. इसलिए ज्यादा लोन (Loan) लेने के बावजूद उनका क्रेडिट स्कोर (Credit Score) बेहतर रहता है. बैंक बाजार (Bank Bazaar) की मनीमूड-2022 की रिपोर्ट में कहा गया है कि देशभर में 36 फीसदी ही ऐसे लोग हैं, जिनका क्रेडिट स्कोर 800 से ज्यादा है. इनमें महिलाओं (Women) की हिस्सेदारी 40 फीसदी है, जबकि पुरुषों (Man) की 35.6 फीसदी है. आमतौर पर 800 से ज्यादा के क्रेडिट स्कोर को बेहतर माना जाता है.

रिपोर्ट के मुताबिक, महिलाएं होम लोन (Home Loan) और पर्सनल लोन (Personal Loan) लेने के मामले में भी पुरुषों से आगे हैं. अक्तूबर, 2020 से सितंबर, 2021 के बीच हर महिला ने औसतन 29.65 लाख रुपये तक का होम लोन लिया. पुरुषों ने मकान के लिए 26.99 लाख रुपये तक का लोन लिया. पसर्नल लोन के मामले में हर महिला ने जनवरी-दिसंबर, 2021 के बीच औसतन 1.87 लाख रुपये तक का लोन लिया. इस दौरान पुरुषों ने औसतन 1.86 लाख रुपये तक का पर्सनल लोन लिया.

ये भी पढ़ें- महामारी के बीच Indian Economy पर विदेशी निवेशकों का भरोसा कायम, ये ‘धनकुबेर’ डाल रहे हैं भारतीय बाजार में पैसा

क्रेडिट स्कोर को लेकर नौकरीपेशा ज्यादा सतर्क
रिपोर्ट में कहा गया है कि कुल 70 फीसदी ग्राहक (customer) ऐसे हैं, जिनका क्रेडिट स्कोर 700 से ज्यादा है. इनमें महिलाओं की हिस्सेदारी 72 फीसदी है, जबकि पुरुषों की 66 फीसदी. इसमें आगे कहा गया है कि क्रेडिट स्कोर को लेकर नौकरीपेशा वाले सेल्फ एंप्लायीड (Self Employed) वालों के मुकाबले ज्यादा सतर्क रहते हैं. 40 फीसदी नौकरीपेशा वाले लोगों का क्रेडिट स्कोर 800 से ज्यादा है, जबकि सेल्फ एंप्लायीड  के मामले में यह संख्या 27.5 फीसदी है. 69.2 फीसदी नौकरीपेशा ऐसे हैं, जिनका क्रेडिट स्कोर 700 से ज्यादा है. इस मामले में सेल्फ एंप्लायीड करने वालों की संख्या 61.25 फीसदी है.

ये भी पढ़ें- देश की GDP के लिए अहम हैं ये तीन बैंक, डूबे तो तबाह हो जाएगी Indian Economy

फ्यूल क्रेडिट कार्ड की मांग 10 गुना बढ़ी
रिपोर्ट के मुताबिक, पेट्रोल-डीजल (Petrol-Diesel) की लगातार बढ़ रही कीमतों की वजह से फ्यूल क्रेडिट कार्ड (Fuel Credit Card) की मांग 10 गुना बढ़ गई है. कुल क्रेडिट कार्ड में फ्यूल कार्ड की हिस्सेदारी 8.15 फीसदी बढ़कर 13.1 फीसदी पहुंच गई है. पिछले साल यह आंकड़ा 4.95 फीसदी था. पेट्रोल पंपों पर फ्यूल क्रेडिट कार्ड से भुगतान करने पर ग्राहकों को कीमतों में छूट के साथ रिवॉर्ड (Rewards) और अन्य लाभ मिलते हैं.

Tags: Money, Personal finance

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर