अभी और कम होने वाले हैं पेट्रोल और डीजल के दाम, ये है वजह

17 अक्टूबर से पेट्रोल का दाम करीब 5 रुपये प्रति लीटर घटा है, जबकि डीजल करीब 3 रुपये प्रति लीटर सस्ता हुआ है.

News18Hindi
Updated: November 10, 2018, 3:35 PM IST
अभी और कम होने वाले हैं पेट्रोल और डीजल के दाम, ये है वजह
सांकेतिक तस्वीर
News18Hindi
Updated: November 10, 2018, 3:35 PM IST
लगातार पेट्रोल-डीजल के दाम में गिरावट आ रही है. जो आम जनता के लिए बड़ी खुशखबरी है. पेट्रोल-डीजल की कीमतों में और कमी आने की उम्मीद की जा रही है. घरेलू बाजार में फ्यूल और सस्ता हो सकता है क्योंकि इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल का दाम पिछले तीन हफ्ते में तेजी से घटा है. दरअसल, विदेशी बाजारों में क्रूड का भाव 72 डॉलर प्रति बैरल से कम हो गया है जबकि रुपये में स्थिरता है.

इन सबके चलते 17 अक्टूबर से पेट्रोल का दाम करीब 5 रुपये प्रति लीटर घटा है, जबकि डीजल करीब 3 रुपये प्रति लीटर सस्ता हुआ है. दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 77.89 रुपये प्रति लीटर, डीजल का दाम 72.58 रुपये प्रति लीटर है. वहीं मुंबई में पेट्रोल- 83.40 रुपये जबकि  डीजल 76.05 रुपये प्रति लीटर हो गया है.

ये भी पढ़ें: पोस्ट ऑफिस में रोज सिर्फ 55 रुपये बचाकर ले सकते हैं 10 लाख रुपये तक का इंश्योरेंस

इंटरनेशनल मार्केट में क्रूड का दाम 3 अक्टूबर के 86 डॉलर प्रति बैरल से घटकर $72 प्रति बैरल से नीचे आ गया है. ईरान पर अमेरिका की आयात पाबंदी में भारत और सात अन्य देशों को ढील दिए जाने से कमोडिटी मार्केट को राहत मिली है जो सप्लाई गैप की आशंका से असहज महसूस कर रहा था.

पेट्रोल पंप खोलने और ATF बेचने देने से जुड़े नियमों में बदलाव करने का प्लान
इधर, कंपनियों को देश में पेट्रोल पंप खोलने और ATF बेचने देने से जुड़े नियमों को उदार बनाने की सिफारिश देने के वास्ते बनी एक्सपर्ट कमिटी ने अपने सुझावों को अंतिम रूप देने के लिए जनता से राय मांगी है.

ये भी पढ़ें: आम आदमी को झटका, दो हफ्ते से कम में फिर बढ़े रसोई गैस सिलिंडर के दाम
Loading...
अभी देश में फ्यूल रिटेलिंग लाइसेंस पाने के लिए कंपनियों को हाइड्रोकार्बन एक्सप्लोरेशन और प्रॉडक्शन, रिफाइनिंग, पाइपलाइन या एलएनजी टर्मिनल में 2,000 करोड़ रुपये का निवेश करना पड़ता है. समिति के गठन के लिए मंत्रालय की तरफ से जारी एक अन्य ऑर्डर के मुताबिक, एक्सपर्ट कमिटी से पेट्रोल, डीजल और एविएशन फ्यूल (ATF) की मार्केटिंग के ऑथराइजेशन के लिए तय मौजूदा गाइडलाइंस लागू करने से जुड़े मुद्दों पर विचार करने के लिए कहा गया है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर