अब घटेंगे पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस के दाम! जानें कैसे मिलेगी आम आदमी को बढ़ती कीमतों से राहत

इंटरनेशनल ऑयल प्राइस में कमी के साथ अब घरेलू दरों में भी कटौती होगी.

इंटरनेशनल ऑयल प्राइस में कमी के साथ अब घरेलू दरों में भी कटौती होगी.

पेट्रोल और डीजल की कीमतों (Petrol-Diesel Prices) में एक हफ्ते के भीतर तीन बार कटौती की जा चुकी है. अब रसोई गैस सिलेंडर के दाम (LPG Cylinder Prices) में जल्‍द कटौती की उम्‍मीद है. पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लंबे स्थिरता के बाद कटौती (Price Cut) से जल्‍द किसी तरह की बढ़ोतरी नहीं होने की आस बंधी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 31, 2021, 7:04 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की कीमतों (Petrol-Diesel & LPG Prices) में रिकॉर्ड बढ़ोतरी हो चुकी है. अब उम्‍मीद की जा रही है कि जल्‍द ही इन तीनों जरूरी ईंधनों के दामों में कटौती (Price Cut) की जाएगी. दरअसल, अब क्रूड ऑयल के अंतरराष्‍ट्रीय दामों (International Oil Prices) में कमी दर्ज की जा रही है. पेट्रोल-डीजल की कीमतों में एक हफ्ते के भीतर तीन बार कटौती की जा चुकी है. यही नहीं, इनमें अभी और कटौती की उम्‍मीद है. वहीं, रसोई गैस सिलेंडर के दामों में जल्‍द कमी की जा सकती है.

देश में पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस के दाम अंतरराष्‍ट्रीय कीमतों के आधार पर तय किए जाते हैं. पिछले कुछ दिन में तेल (Crude Oil) की अंतरराष्‍ट्रीय कीमतों में कमी दर्ज की गई है. हालांकि, मंगलवार यानी 30 मार्च 2021 को तेल की कीमतों में कुछ मजबूती दर्ज जरूरी की गई थी, लेकिन सामान्‍य तौर पर इसमें गिरावट का रुख बना हुआ है. एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि अंतरराष्‍ट्रीय कीमतों में गिरावट का असर घरेलू खुदरा कीमतों (Domestic Retail Prices) पर जल्‍द दिखाई देना चाहिए. बता दें कि पिछले महीने पेट्रोल-डीजल के दाम सर्वोच्‍च स्‍तर (All-Time High) पर पहुंच गए थे, जबकि रसोई गैस की कीमत में 125 रुपये प्रति सिलेंडर (LPG Cylinder Price) तक की बढ़ोतरी हो चुकी है.

ये भी पढ़ें- Gold Price Today: सोने के दाम 13 हजार रुपये से ज्‍यादा गिरकर 44 हजार रुपये के नीचे आए, देखें 10 ग्राम के नए भाव

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में होगी और कटौती
फरवरी 2021 के बाद पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया गया. क्रूड ऑयल की वैश्विक कीमतें घटने के कारण एक हफ्ते में की गई तीन कटौतियों में इनके दाम 60-61 पैसे तक घट गए हैं. इससे उम्‍मीद बन रही है कि हाल-फिलहाल में पेट्रोल-डीजल के दाम नहीं बढ़ाए जाएंगे. यही नहीं, इनकी कीमतों में अभी और कमी की पूरी उम्‍मीद की जा सकती है. दिल्‍ली में इस समय पेट्रोल 90.56 रुपये प्रति लीटर की दर से बिक रहा है. वहीं, डीजल 80.87 रुपये प्रति लीटर है. बता दें कि दिल्‍ली में पेट्रोल की कीमत 91.17 रुपये प्रति लीटर तक पहुंच गई थी.

ये भी पढ़ें- Good News: गर्मियों में 108 एयरपोर्ट से हर हफ्ते होंगी 18 हजार से ज्‍यादा फ्लाइट्स, केंद्र ने दी मंजूरी

एलपीजी सिलेंडर की अब नहीं बढ़ेगी कीमत



सऊदी अरब की कीमतों के आधार पर तय किए जाने वाले एलपीजी के दाम भी जल्‍द घटाए जा सकते हैं. जहां पेट्रोल-डीजल के दाम हर दिन संशोधित किए जाते हैं, वहीं एलपीजी के दाम हर महीने की 1 तारीख को तय किए जाते हैं. अधिकारी ने कहा कि एलपीजी के दाम में अब कोई बढ़ोतरी नहीं की जाएगी. उन्‍होंने कहा कि पिछले साल मार्च में घरेलू एलपीजी सिलेंडर की कीमत 858 रुपये थी, जो इस समय 819 रुपये है. बता दें कि नवंबर 2018 में एलपीजी की कीमत सर्वोच्‍च स्‍तर पर पहुंच गई थी. तब रसोई गैस सिलेंडर का दाम 939 रुपये था.

ये भी पढ़ें- रेलयात्री ध्‍यान दें...! घर से फुल चार्ज कर निकलें मोबाइल-लैपटॉप, ट्रेन में अब रात को नहीं मिलेगी चार्जिंग सुविधा

विधानसभा चुनावों में विपक्ष बना रहा मुद्दा

पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु और केरल समेत 5 राज्‍यों में विधानसभा चुनावों के दौरान विपक्ष ने पेट्रोल-डीजल, रसोई गैस के दामों को राजनीतिक मुद्दा भी बनाया है. विपक्ष का कहना है कि बीजेपी के नेतृत्‍व में केंद्र सरकार उपभोक्‍ताओं पर बोझ घटाने के बजाय बढ़ा रही है. पिछले महीने राजस्‍थान, मध्‍य प्रदेश और महाराष्‍ट्र में पेट्रोल की कीमत 100 रुपये प्रति लीटर के पार पहुंच गई थी. फिर अंतरराष्‍ट्रीय कीमतें घटने के साथ इनके खुदरा दामों में भी कमी दर्ज की गई. ऑयल सेक्रेटरी तरुण कपूर का कहना है कि अंतरराष्‍ट्रीय दरों में कमी के साथ देश में खुदरा कीमतें घटेंगी. साथ ही उन्‍होंने उम्‍मीद जताई कि अब अंतरराष्‍ट्रीय दरों में बढ़ोतरी नहीं होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज