अपना शहर चुनें

States

अमेरिका-ईरान की टेंशन से भारत में महंगा हुआ पेट्रोल, तनाव और बढ़ने पर 90 रु/लीटर तक जा सकती हैं कीमतें

पेट्रोल-डीजल की कीमतें
पेट्रोल-डीजल की कीमतें

कमोडिटी एक्सपर्ट्स का कहना है कि अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में कच्चे तेल के दाम 10 महीने के टॉप पर पहुंच गए हैं. साथ ही, भारतीय रुपये में शुक्रवार को भारी गिरावट देखने को मिली है. इसीलिए कीमतों में तेजी आई है. आने वाले दिनों में पेट्रोल-डीज़ल की कीमतों में और तेजी देखने को मिल सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 4, 2020, 10:38 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अमेरिका और ईरान के बीच बढ़ते तनाव (US-Iran Tension) के चलते घरेलू स्तर पर पेट्रोल-डीज़ल की कीमतें ( (Petrol-Diesel Price) लगातार बढ़ती जा रही है. शनिवार को देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में पेट्रोल की कीमतें फिर से 81 रुपये प्रति लीटर के पार पहुंच गई हैं. वहीं, देश के चार बड़े महानगरों में से मुंबई, चेन्नई और कोलकाता में डीज़ल के दाम 70 रुपये प्रति लीटर के ऊपर ही बने हुए है. कमोडिटी एक्सपर्ट्स का कहना है कि अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में कच्चे तेल के दाम 10 महीने के टॉप पर पहुंच गए हैं. साथ ही, भारतीय रुपये में शुक्रवार को भारी गिरावट देखने को मिली है. इसीलिए कीमतों में तेजी आई है. आने वाले दिनों में पेट्रोल-डीज़ल की कीमतों में और तेजी देखने को मिल सकती है.

अब क्या होगा - एसकोर्ट सिक्योरिटी के रिसर्च हेड आसिफ इकबाल का मानना है कि अगर ईरान अमेरिका पर जवाबी कार्रवाई करता है तो इस तिमाही में कच्चे तेल की कीमत 75 से 78 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच सकती है. इससे रुपया डॉलर के मुकाबले 75 तक फिसल सकता है. ऐसा होता है तो पेट्रोल के दाम एक बार फिर 90 रुपए प्रति लीटर पहुंच सकते हैं.

पेट्रोल-डीज़ल के दाम-देश की सबसे बड़ी ऑयल मार्केटिंग कंपनी IOC की वेबसाइट पर जारी नए रेट्स के मुताबिक, देश के चार प्रमुख महानगरों दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल और डीज़ल की कीमतों में तेजी आई है.



ये भी पढ़ें-ईरान और अमेरिका की लड़ाई में भारत को कितना होगा नुकसान! इससे आपका क्या बिगड़ेगा, फटाफट जानिए
(1) दिल्ली में पेट्रोल के दाम बढ़कर 75.45 रुपये प्रति लीटर हो गए है.
वहीं, डीज़ल के दाम बढ़कर 68.40 रुपये प्रति लीटर हो गए है.
जबकि, एक्सट्रा प्रीमियम पेट्रोल के दाम 78.25 रुपये प्रति लीटर है.

(2) मुंबई पेट्रोल के दाम बढ़कर 81.04 रुपये प्रति लीटर हो गए है.
वहीं, डीज़ल के दाम बढ़कर डीज़ल 71.72 रुपये प्रति लीटर हो गए है.
जबकि, एक्सट्रा प्रीमियम पेट्रोल के दाम 83.79 रुपये प्रति लीटर है.



(3) चेन्नई में पेट्रोल के दाम बढ़कर 78.39 रुपये प्रति लीटर हो गए है.
वहीं, डीज़ल के दाम बढ़कर डीज़ल 72.28 रुपये प्रति लीटर हो गए है.
जबकि, एक्सट्रा प्रीमियम पेट्रोल के दाम 81.33 रुपये प्रति लीटर है.

(4) कोलकाता में पेट्रोल के दाम 78.04 रुपये प्रति लीटर हो गए है.
वहीं, डीज़ल के दाम बढ़कर डीज़ल 70.76 रुपये प्रति लीटर हो गए है.
जबकि, एक्सट्रा प्रीमियम पेट्रोल के दाम 81.57 रुपये प्रति लीटर है.

(5) नोएडा में पेट्रोल के दाम 76.60 रुपये प्रति लीटर हो गए है.
वहीं, डीज़ल के दाम बढ़कर डीज़ल 68.67 रुपये प्रति लीटर हो गए है.
जबकि, एक्सट्रा प्रीमियम पेट्रोल के दाम 79.10 रुपये प्रति लीटर है.

(6) गुरुग्राम में पेट्रोल के दाम 74.80 रुपये प्रति लीटर हो गए है.
वहीं, डीज़ल के दाम बढ़कर 67.32 रुपये प्रति लीटर हो गए है.
जबकि, एक्सट्रा प्रीमियम पेट्रोल के दाम 77.55 रुपये प्रति लीटर है.



क्यों महंगा हुआ कच्चा तेल- ईरान की क़ुद्स फ़ोर्स के प्रमुख जनरल क़ासिम सुलेमानी बगदाद इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर हवाई हमले में मारे गए हैं.

इस हमले की जिम्मेदारी अमरीकी ने ली है. इस हमले में कताइब हिजबुल्लाह के कमांडर अबू महदी अल-मुहांदिस भी मारे गए हैं. इस खबर के बाद अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतें 10 महीने के शिखर पर पहुंच गई है.

ये भी पढ़ें-टैक्सपेयर्स के लिए खुशखबरी! मोदी सरकार ने इस स्कीम की अंतिम तारीख बढ़ाई

कमोडिटी एक्सपर्ट्स का कहना है कि अमेरिका और ईरान के बीच तनाव बढ़ने से कच्चे तेल की सप्लाई में कमी आ सकती है. इसीलिए क्रूड के दाम बढ़ गए है.

ग्लोबल फाइनेंशियल सर्विसेज कंपनी नोमुरा के अनुमान के मुताबिक, कच्चे तेल की कीमतों में 10 डॉलर प्रति बैरल की बढ़ोतरी से भारत के राजकोषीय घाटे और करंट अकाउंट बैलेंस पर असर होता है.

कैसे तय होते हैं पेट्रोल-डीज़ल के दाम
जिस कीमत पर हम पेट्रोल पंप से पेट्रोल खरीदते हैं उसका करीब 48 फीसदी बेस प्राइस यानी आधार मूल्य होता है.इसके बाद बेस मूल्य पर करीब 35 फीसदी एक्साइज ड्यूटी, 15 फीसदी सेल्स टैक्स और दो फीसदी कस्टम ड्यूटी लगाई जाती है.

क्या है ईंधन का बेस प्राइस? तेल के बेस प्राइस में कच्चे तेल की कीमत, प्रोसेसिंग चार्ज और कच्चे तेल को रीफाइन करने वाली रिफाइनरियों का चार्ज शामिल होता है.

अब तक ईंधन को GST में शामिल नहीं किया गया है. इस वजह से इस पर एक्साइज ड्यूटी भी लगती है और वैट भी. केंद्र सरकार पेट्रोल की बिक्री पर एक्साइज ड्यूटी वसूलती है, जबकि राज्य सरकारें वैट वसूलती हैं.

ऐसे पता करें अपने शहर में पेट्रोल-डीज़ल के दाम- अगर आप सुबह 6 बजे के बाद पेट्रोल-डीज़ल का रेट चेक करना चाहते हैं तो 92249 92249 नंबर पर sms भेजकर भी पेट्रोल-डीजल के भाव के बारे में पता कर सकते हैं.

इसके लिए आपको RSP<स्पेस> पेट्रोल पंप डीलर का कोड लिखकर 92249 92249 पर भेजना पड़ेगा. मतलब साफ है कि आप अगर दिल्ली में हैं और मैसेज के जरिये पेट्रोल-डीजल का भाव जानना चाहते हैं तो आपको RSP 102072 लिखकर 92249 92249 पर भेजना होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज