10 फीसदी सस्ता हो जाएगा पेट्रोल, अगर सरकार लागू करेगी ये योजना

10 फीसदी सस्ता हो जाएगा पेट्रोल, अगर सरकार लागू करेगी ये योजना
पेट्रोल, डीजल को फिलहाल GST के दायरे में लाने की योजना नहीं, राज्य-केंद्र पक्ष में नहीं

अगर कार में 15 फीसदी मिथेनॉल मिला पेट्रोल इस्तेमाल करना अनिवार्य कर दिया गया तो आपके हर महीने पेट्रोल खर्च में 10 फीसदी की कमी आ जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 3, 2018, 3:30 PM IST
  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
अगर कार में 15 फीसदी मिथेनॉल मिला पेट्रोल इस्तेमाल करना अनिवार्य कर दिया गया तो आपके हर महीने पेट्रोल खर्च में 10 फीसदी की कमी आ जाएगी. नीति आयोग इस प्रस्ताव को कैबिनेट के पास भेजेगा.  मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, नीति आयोग ने 'मिथेनॉल इकोनॉमी' के लिए महत्वाकांक्षी प्लान बनाया है. इस प्लान में साल 2030 तक क्रूड के आयात खर्च में सालाना 100 अरब डॉलर की कमी का लक्ष्य रखा गया है. अगर परिवहन और खाना बनाने के लिए 15 फीसदी मिथेनॉल मिश्रित ईंधन का इस्तेमाल किया जाए तो यह लक्ष्य हासिल हो सकता है.

आपको बात दें कि मिथनॉल कोयले से बनता है. फिलहाल पेट्रोल-डीजल में इथेनॉल मिलाया जाता है जिसकी लागत प्रति लीटर 42 रुपये आती है. वहीं, मिथनॉल की लागत 20 रुपये प्रति लीटर आती है.(ये भी पढ़ें-पेट्रोल-डीजल पर GST के अलावा लग सकता यह टैक्स, पर आपको मिलेगा 20% सस्ता)

क्या है मामला- अंग्रेजी बिजनेस न्यूज पेपर इकोनॉमिक टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक, इस बारे में जुलाई के अंतिम हफ्ते में चर्चा हुई थी. कैबिनेट सेक्रेटरी पी के सिन्हा खुद इस मामले की प्रगति पर नजर रख रहे हैं. अभी देश में गाड़ियों में 10 फीसदी इथेनॉल मिश्रित ईंधन का इस्तेमाल होता है. इथेनॉल की लागत प्रति लीटर 42 रुपये आती है. मिथेनॉल की कीमत प्रति लीटर 20 रुपये से भी कम रहने का अनुमान है. 15 फीसदी मिथेनॉल मिलाने से एक लीटर पेट्रोल की कीमत में करीब 10 फीसदी की कमी आएगी.



पेट्रोल भरवाते वक्त इन 6 बातों का रखें ध्‍यान, वरना लग सकता है चूना





कारों के इंजन में क्या बदलाव करना होगा?- सोसायटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्यूफैक्चरर्स (सियाम) के डायरेक्टर जनरल विष्णु माथुर ने अखबार को बताया कि इंडस्ट्री को यह जानने के लिए रिसर्च एवं अनुसंधान करना पड़ेगा कि गाड़ियों के इंजन में कितना बदलाव करना पड़ेगा. इन दिनों ज्यादातर चारपहिये 8 से 20 फीसदी मिश्रित ईंधन के हिसाब से बनाए जाते हैं. अभी इथेनॉल का मिश्रण होता है.(ये भी पढ़ें-GST लगने पर 30 रुपए सस्‍ता हो सकता है पेट्रोल! फैसला अगले महीने संभव)

इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के आरएंडडी डायरेक्टर डॉ एसएसवी रामकुमार ने कहा कि तकनीकी रूप से मिथेनॉल मिश्रित पेट्रोल का इस्तेमाल किया जा सकता है. इसमें दो तरह की चुनौतियां हैं. पहला, मिश्रित ईंथन की आपूर्ति में स्थिरता जरूरी है. दूसरा, इंजन का इसके मुताबिक होना जरूरी है.
First published: August 3, 2018, 2:29 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading