• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • Petrol-Diesel की कीमतों को लेकर पेट्रोलियम मंत्री ने कही बड़ी बात, जानें क्या है सरकार का प्लान?

Petrol-Diesel की कीमतों को लेकर पेट्रोलियम मंत्री ने कही बड़ी बात, जानें क्या है सरकार का प्लान?

पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री (Petroleum minister) हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri)

पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री (Petroleum minister) हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri)

पेट्रोल-डीजल (Petrol-Diesel Price Today) की कीमतों को लेकर केंद्र सरकार ने बड़ा ऐलान किया है. पेट्रोल, डीजल की कीमतों का निर्धारण वैश्विक बाजार में चल रहे रेट के आधार पर किया जाता है.

  • Share this:
    नई दिल्ली: हर दिन बढ़ रही पेट्रोल-डीजल (Petrol-Diesel Price Today) की कीमतों को लेकर केंद्र सरकार ने बड़ा ऐलान किया है. सरकार के इस खास फैसले से तेल की कीमतों से आम जनता को राहत मिल सकती है. पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री (Petroleum minister) हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने लोकसभा में बयान जारी कर इस बारे में जानकारी दी है. सरकार ने सोमवार को कहा कि पूरे देश में पेट्रोल एवं डीजल की कीमतों को एकसमान बनाये रखने के लिये कोई योजना विचाराधीन नहीं है और अभी तक जीएसटी परिषद ने तेल और गैस को जीएसटी में शामिल करने की कोई सिफारिश नहीं की है.

    केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि पेट्रोल, डीजल की कीमतों का निर्धारण वैश्विक बाजार में चल रहे रेट के आधार पर किया जाता है. उन्होंने कहा कि भारत अपनी ईंधन की कुल जरूरतों का करीब 85 फीसदी दूसरे देशों से आयात करता है और वैश्विक बाजार में कीमतों का निर्धारण तेल का आयात उत्पादन और निर्यात करने वाले देश करते हैं.

    यह भी पढ़ें: Petrol-Diesel Price Today: अब सस्ते में फुल कराएं अपनी गाड़ी की टंकी, चेक करें 1 लीटर पेट्रोल-डीजल का भाव

    एकसमान बनाए रखने के लिए नहीं है कोई योजना
    लोकसभा में उदय प्रताप सिंह और रोडमल नागर के प्रश्न के लिखित उत्तर में पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने यह जानकारी दी. सदस्यों ने पूछा था कि क्या सरकार पूरे देश में पेट्रोल एवं डीजल की कीमतों को एकसमान बनाये रखने के लिये कोई योजना तैयार कर रही है.

    इस पर केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा, ‘‘ ऐसी कोई योजना सरकार के समक्ष विचाराधीन नहीं है.’’ उन्होंने कहा कि पेट्रोल एवं डीजल के मूल्य, वैट (मूल्य वर्धित कर), स्थानीय वसूलियों जैसे घटकों के कारण विभिन्न बाजारों में अलग-अलग होते हैं.

    यह भी पढ़ें: Mutual Fund: 29 जुलाई से 12 अगस्त तक यहां लगाएं सिर्फ 5000 रुपये, मिलेगा मोटा फायदा, जानें कैसे?

    एक अन्य पूरक प्रश्न के उत्तर में केंद्रीय मंत्री ने कहा कि साल 2010 से संप्रग सरकार के समय से ही पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतें अंतरराष्ट्रीय बाजार की कीमतों के आधार पर तय होती हैं. उन्होंने कहा कि केंद्रीय उत्पाद शुल्क के रूप में 32 रूपये लिये जाते हैं और इसका उपयोग 80 करोड़ लोगों को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत सहायता देने के अलावा लोगों को नि:शुल्क टीका लगाने, न्यूनतम समर्थन मूल्य प्रदान करने और प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि आदि में किया जाता है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज