• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • PFRDA ने दी बड़ी राहत, e-NPS सब्सक्राइबर्स के लिए एग्जिट प्रक्रिया हुई आसान

PFRDA ने दी बड़ी राहत, e-NPS सब्सक्राइबर्स के लिए एग्जिट प्रक्रिया हुई आसान

NPS सब्सक्राइबर्स के लिए एग्जिट प्रक्रिया हुई आसान

NPS सब्सक्राइबर्स के लिए एग्जिट प्रक्रिया हुई आसान

पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (PFRDA) ने ई-NPS सब्सक्राइबर्स को नेशनल पेंशन स्कीम से बाहर निकलने के लिए ऑनलाइन ऑप्शन दिया है. पहले इसके लिए सब्सक्राइबर्स को ऑफलाइन ऑप्शन दिया था.

  • Share this:
    नई दिल्ली: पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (PFRDA) ने ई-NPS सब्सक्राइबर्स को नेशनल पेंशन स्कीम से बाहर निकलने के लिए ऑनलाइन ऑप्शन दिया है. पहले इसके लिए सब्सक्राइबर्स को ऑफलाइन ऑप्शन दिया था. अपनी विद्ड्रॉल रिक्वेस्ट की प्रोसेसिंग के लिए NPS अकाउंट को इंटर सेक्टर शिफ्टिंग (ISS) के जरिए ई-NPS से बैंक-POP में शिफ्ट करना होता है. विड्रॉल फॉर्म्स को जरूरी डॉक्युमेंट्स के साथ वैलिडेशन के लिए बैंक-POP को शिफ्ट करना होता है. इसके बाद यह CRA एग्जिट प्रोसेस में आगे बढ़ता है. लेकिन, PFRDA के इस फैसले के बाद ई-एनपीएस सब्सक्राइबर्स ऑनलाइन भी नेशनल पेंशन स्कीम से बाहर निकल सकेंगे.

    सभी पर लागू होगी ये प्रक्रिया
    PFRDA ने बताया कि ऑनलाइन एग्जिट की य​ह विकल्प प्री-मैच्योर और सामान्य एग्जिट दोनों पर लागू होगा. PFRDA ने यह भी बताया कि इस विकल्प को जल्द ही लागू कर दिया जाएगा. प्राप्त जानकारी के अनुसार, यह प्रक्रिया मौजूदा ऑनलाइन ई-एनपीएस प्लेटफॉर्म जैसी ही होगी, जिसका पहले से ही NPS अकाउंट्स खोलने के लिए बैंक-POP के ग्राहकों द्वारा इस्तेमाल किया जा रहा है.

    यह भी पढ़ें: कल तक 6 करोड़ लोगों को मिल सकती है खुशखबरी! पीएफ अकाउंट में आ सकता है 8.5 फीसदी ब्याज

    क्या होता है NPS?
    नेशनल पेंशन सिस्टम (NPS) को जनवरी 2004 में सरकारी कर्मचारियों के लिए शुरू किया गया था. इसे 2009 में सभी कैटगरी के लोगों के लिए खोल दिया गया. कोई भी व्यक्ति अपने कामकाजी जीवन के दौरान पेंशन खाते में नियमित रूप से योगदान दे सकता है. 60 साल की उम्र पर पहुंचने पर इकठ्ठा हुई धन राशि के एक हिस्से को वह एक बार में निकाल भी सकता है और बची हुई राशि का इस्तेमाल रिटायरमेंट के बाद नियमित आय प्राप्त करने के लिए कर सकता है.

    नेशनल पेंशन सिस्टम (एनपीएस) में 2 तरह के खाते खोलने की सुविधा मिलती है. इसमें टियर-1 अकाउंट पेंशन अकाउंट होता है. वहीं, टियर-2 अकाउंट वॉलंटियरी सेविंग्स अकाउंट है. जिन एनपीएस सब्सक्राइबर का टियर-1 अकाउंट है, वे टियर-2 अकाउंट खोल सकते हैं. इसके लिए ऑफलाइन या एनपीएस पोर्टल का इस्तेमाल किया जा सकता है.

    NPS में ऑफलाइन खाता कैसे खोल सकते हैं-
    >> NPS खाता ऑफलाइन या मैन्युअल रूप से खोलने के लिए, व्यक्ति को पहले PoP-Point of Presence (यह बैंक भी हो सकता है) खोजना होगा.
    >> अपने नजदीकी PoP से एक सब्सक्राइबर फॉर्म लीजिए और इसे KYC पेपर्स के साथ जमा करें.
    >> एक बार जब आप प्रारंभिक निवेश करते हैं (500 रुपये या 250 रुपये मासिक या 1,000 रुपये से कम नहीं), तो PoP आपको एक PRAN – स्थायी रिटायरमेंट खाता संख्या भेजेगा.
    >> इस संख्या और पासवर्ड की मदद से आप अपने खाते को चला सकते हैं.
    >> इस प्रक्रिया के लिए Rs.125 का एक बार रजिस्ट्रेशन फीस का भुगतान करना होगा.
    >> देश के 5 बैंकों के FD रेट, जानें कितने साल पर दे रहे हैं कितना ब्याज

    यह भी पढ़ें: SBI ने आज शुरू कर दी घरों की नीलामी, आप भी खरीद सकते हैं सस्ती प्रापर्टी, जानें कैसे

    ऑनलाइन प्रक्रिया
    अगर आप अपने खाते को अपने पैन, आधार/ या मोबाइल नंबर से जोड़ते हैं, तो ऑनलाइन खाता खोलना आसान है. आप अपने मोबाइल पर भेजे गए ओटीपी का उपयोग करके रजिस्ट्रेशन को मान्य कर सकते हैं. इसके बाद आपको एक PRAN (स्थायी सेवानिवृत्ति खाता संख्या) मिलेगी जिसकी मदद से आप NPS लॉग इन के लिए कर सकते हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज