इस RPF कॉन्स्टेबल ने चलती ट्रेन में बच्चे के लिए पहुंचाया था दूध, अब पीयूष गोयल ने अवॉर्ड देने का ऐलान किया

इस RPF कॉन्स्टेबल ने चलती ट्रेन में बच्चे के लिए पहुंचाया था दूध, अब पीयूष गोयल ने अवॉर्ड देने का ऐलान किया
RPF कॉन्स्टेबल ने 4 महीने के बच्चे के लिए चलती ट्रेन के पीछे दौड़कर दुध पहुंचाया था

4 महीने के एक बच्चे के लिए दूध पहुंचाने वाले RPF कॉन्स्टेबल का एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है. इंदर सिंह यादव के इस नेक काम के लिए रेल मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने कैश अवार्ड देने का ऐलान किया है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्ली. एक दिन पहले ही श्रमिक स्पेशल ट्रेन में 4 महीने के एक बच्चे के लिए रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स (RPF) कॉन्स्टेबल का एक वीडियो वायरल हुआ था. अब रेल मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने इस कॉन्स्टेबल के काम की सराहना करते हुए कैश अवार्ड देने का ऐलान किया किया है. इंदर सिंह यादव बेलगॉम-गोरखपुर श्रमिक स्पेशल ट्रेन के लिये अनाउन्समेंट कर रहे थे. इसी दौरान एक महिला पैसेंजर ने उनसे दूध के लिए ​अनुरोध किया.

भोपाल के स्टेशन पर जैसे ही यह ट्रेन प्लेटफॉर्म नंबर एक पर रुकी, साफिया हाशमी ने आरपीएफ कॉन्सटेबल से अपने रोते हुए 4 महीने के नवजाब बच्चे के लिए दूध की व्यवस्था करने को कहा. महिला ने बताया कि वो बेलगॉम रेलवे स्टेशन से दूध प्राप्त करने की कोशिश कर रही हैं, लेकिन उन्हें कहीं भी दूध नहीं मिल सका. यादव ने उन्हें दो मिनट रुकने के लिए बोलकर स्टेशन के बाहर एक छोटी सी दुकान से दूध लाने चले गये.

यह भी पढ़ें: ट्रेन में चढ़ने से पहले अब ऐसे चेक होगा टिकट! जरूरी हुए ये दो काम



सीसीटीवी फुटेज में दिखा पूरा वाकया



सीसीटीव फुटेज में देखा जा सकता है कि यादव अपने एक हाथ में अपनी सर्विस राइफल और दूसरे हाथ में दूध का पाउच पकड़े चलती ट्रेन के पीछे दौड़ रहे हैं. 12वीं पास इंदर सिंह यादव ने कहा कि उन्हें भरोसा था कि वो दूध का पाउच दे पायेंगे. यह मामला चार दिन पहले का है. नवजात की मां ने यादव को शुक्रिया किया और उन्हें 'सच्चा हीरो' बताया.

पीयूष गोयल ने ट्वीट कर कैश अवार्ड देने का ऐलान किया
इस पर रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर कहा, 'रेल परिवार द्वारा यह सराहनीय कार्य है. आरपीएफ कॉन्स्टेब इंदर सिंह यादव ने अपनी ड्यूटी से एक उदाहरण दिया है, जब वो ट्रेन के पी​छे दोड़ते हुए दुध पहुंचाये. मैनें गर्व से इस नेक काम के लिए कैश रिवॉर्ड देने का ऐलान किया है.'



पहले भी कर चुके हैं मदद
इंदर सिहं यादव पिछले 5 साल से भोपाल आरपीएफ स्टेशन पर पोस्टेड हैं. इसके पहले वो लखनउ में थे. तीन साल पहले ही उन्होंने दो बच्चों की मदद की थी, भोपाल स्टेशन पर छूट गये थे.

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस लॉकडाउन के बीच आम आदमी के लिए आई अच्छी खबर! सस्ती हुई ये चीज़ें
First published: June 4, 2020, 9:06 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading