31 साल पुराने इस मॉडल का इस्तेमाल जल्द बंद कर देगा Railway, सरकार कर रही है इन बदलावों की भी तैयारी

रेल मंत्री पीयूष गोयल (Railways Minister Piyush Goyal) ने बुधवार को कहा कि मोदी सरकार (Modi Government) कार्बन उत्सर्जन (Carbon Emission) में कमी लाने के लिए रेलवे (Indian Railways) का 100 प्रतिशत विद्युतीकरण (100% Electrification) करेगी.

भाषा
Updated: August 29, 2019, 4:09 PM IST
31 साल पुराने इस मॉडल का इस्तेमाल जल्द बंद कर देगा Railway, सरकार कर रही है इन बदलावों की भी तैयारी
भारतीय रेलवे ने अगले 10 सालों में ये प्रयोग पूरी तरह से बंद करने का लक्ष्य रखा है
भाषा
Updated: August 29, 2019, 4:09 PM IST
मोदी सरकार (Modi Government) ने कार्बन उत्सर्जन (Carbon Emission) में कमी लाने के इरादे से रेलवे (Indian Railways) का 100 प्रतिशत विद्युतीकरण (100% Electrification) का निर्णय किया है. रेल मंत्री पीयूष गोयल (Railways Minister Piyush Goyal) ने बुधवार को यह जानकारी दी. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने यह भी कहा कि उन्होंने अगले 10 साल में रेलवे को नवीकरणीय ऊर्जा (Renewable Energy) से चलाने का मिशन रखा है.

हम बन जाएंगे 100% इलेक्ट्रिफिकेशन वाले दुनिया के पहले रेलवे
उन्होंने उद्योग मंडल सीआईआई (CII) के एक कार्यक्रम में कहा, ‘‘हमने रेलवे के शत प्रतिशत विद्युतीकरण का निर्णय किया है. करीब 1,20,000 किलोमीटर ट्रैक के साथ हम दुनिया के पहले सबसे बड़े रेलवे होंगे जो पूर्ण रूप से विद्युतीकृत होगा. आप इससे कल्पना कर सकते हैं कि पूरे वातावरण से कार्बन उत्सर्जन में कितनी कमी आएगी.’’



बिना ATM घर बैठे फ्री में निकालें अपना पैसा! जानें कैसे...

गोयल ने कहा कि नयी दिल्ली आने वाली आधी से अधिक ट्रेन डीजल (Diesel Train) पर चल रही हैं लेकिन मंत्रालय (Ministry) उनके विद्युतीकरण पर काम कर रहा हे. अगर ऐसा हो जाता है 2029 तक भारत में चलने वाली सारी ट्रेनें इलेक्ट्रिक इंजन वाली होंगीं और इससे पर्यावरण को बहुत अधिक फायदा होगा. साथ ही भारत की कार्बन उत्सर्जन के क्षेत्र में रैंकिंग में भी सुधार आएगा.

पर्यावरण संरक्षण के लिए कई कदम उठा रहा है रेलवे
Loading...

उन्होंने कहा, ‘‘अगले एक साल में नयी दिल्ली में आने वाली ट्रेनें विद्युतीकृत होंगी. हम यह सुनिश्चित कर रहे हैं, वे सभी बिजली से चलें.’’ उन्होंने यह भी कहा कि रेल मंत्रालय कार्बन उत्सर्जन (Carbon Emission) में कमी लाने और पर्यावरण संरक्षण (Environment Conservation) को लेकर कई कदम उठा रहा है.

वित्त वर्ष 2018-19 में भारतीय रेलवे ने अपनी ऊर्जा जरूरतों के लिये 20.44 अरब यूनिट बिजली और 3.1 अरब लीटर ‘हाई स्पीड डीजल’ की खपत की.

यह भी पढ़ें: सरकार की तैयारी! इन ट्रेनों में सफ़र करना होगा 25 फीसदी सस्ता

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा, ‘‘मेरा एक मिशन हैं अगले 10 साल में भारतीय रेलवे शून्य कार्बन उत्सर्जन करेगी....100 प्रतिशत विद्युतीकृत और 100 प्रतिशत अक्षय ऊर्जा (Renewable Energy) चालित होगी.’ मंत्री ने कहा कि अपने आप पर भरोसा होना चाहिए. उन्होंने यह भी कहा कि स्टार्टअप (Startup) को इस क्षेत्र में बड़ी भूमिका निभानी है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 29, 2019, 7:42 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...