PM किसान सम्मान निधि स्कीम: इस बार सबसे ज्यादा किसानों के अकाउंट में आएंगे 2-2 हजार रुपये

PM किसान सम्मान निधि स्कीम: इस बार सबसे ज्यादा किसानों के अकाउंट में आएंगे 2-2 हजार रुपये
एक अगस्त से आएगी पीएम किसान स्कीम की किश्त

10 करोड़ 22 लाख किसानों को मिलेगी 2-2 हजार रुपये की किश्त, इतने किसानों का दुरुस्त है सारा रिकॉर्ड. इस साल की तीसरी किश्त 1 अगस्त से 30 नवंबर के बीच ट्रांसफर की जाएगी.

  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम (PM-Kisan Samman Nidhi scheme) के तहत इस बार सबसे ज्यादा लोगों को फायदा मिलेगा. 28 जुलाई तक 10 करोड़ 22 लाख किसानों का रजिस्ट्रेशन और वेरीफिकेशन हो चुका है. इनके रिकॉर्ड में कोई गड़बड़ी नहीं है. ऐसे में ये सब लोग अगस्त में 2000 हजार रुपये की किश्त पाने के हकदार होंगे. यानी इस बार 20 हजार करोड़ रुपये से अधिक की रकम खर्च होगी. केंद्रीय कृषि मंत्रालय किश्त भेजने की पूरी तैयारी कर चुका है. यह किश्त 1 अगस्त से 30 नवंबर के बीच किसानों के खाते में ट्रांसफर की जाएगी.

मोदी सरकार ने सभी 14.5 करोड़ किसानों के लिए भले ही स्कीम लागू कर दी है फिर भी कुछ शर्तें लगाई गईं हैं. जिन लोगों के लिए कंडीशन लागू है वो यदि गलत तरीके से फायदा उठा रहे हैं तो आधार वेरीफिकेशन (Aadhar verification) में पता चल जाएगा. पति-पत्नी और 18 वर्ष तक की उम्र के बच्चों को एक इकाई माना जाएगा.

इसे भी पढ़ें: फसल बीमा प्रीमियम निकालने का ये है सबसे आसान तरीका 



योजना के लिए कंडीशन अप्लाई 
-एमपी, एमएलए, मंत्री और मेयर को भी लाभ नहीं दिया जाएगा, भले ही वो किसानी भी करते हों. यदि इन्होंने आवेदन किया है तो पैसा नहीं आएगा. मल्टी टास्किंग स्टाफ/चतुर्थ श्रेणी/समूह डी कर्मचारियों को छोड़कर केंद्र या राज्य सरकार में किसी भी अधिकारी या कर्मचारी को लाभ नहीं मिलेगा. यदि ऐसे लोगों ने लाभ लिया तो आधार अपने आप बता देगा.

पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम, किसान समाचार, पीएम-किसान हेल्पलाइन, कृषि मंत्रालय, मोदी सरकार, pm kisan samman nidhi scheme, PM-Kisan helpline, 6th installment news, farmers news, Modi government
पीएम किसान स्कीम के बारे में जानिए


-पेशेवर, डॉक्टर, इंजीनियर, सीए, वकील, आर्किटेक्ट, जो कहीं खेती भी करता हो उसे लाभ नहीं मिलेगा.इनकम टैक्स देने वालों और 10 हजार से अधिक पेंशन पाने वाले किसानों को भी लाभ से वंचित रखने का प्रावधान है. यदि किसी आयकर देने वाले ने स्कीम की दो किश्त ले भी ली है तो वो तीसरी बार में पकड़ा जाएगा. क्योंकि आधार वेरीफिकेशन हो रहा है.

चेक कर लें अपना रिकॉर्ड

फिलहाल, जिन लोगों ने हाल ही में अप्लाई किया है वे भी अपना रिकॉर्ड चेक कर लें. आधार, अकाउंट नंबर और बैंक अकाउंट नंबर में नाम आदि चेक कर लें. गलती है तो उसे दुरुस्त कर लें, ताकि पैसा मिलने में दिक्कत न हो. रिकॉर्ड में कोई भी गड़बड़ी होगी तो निश्चित तौर पर आपको योजना का लाभ नहीं मिल पाएगा. पहले ही 1.3 करोड़ किसानों को आवेदन करने के बाद भी सिर्फ इसलिए पैसा नहीं मिल सका क्योंकि या तो उनके रिकॉर्ड में गड़बड़ी है या फिर आधार कार्ड नहीं है.

इसे भी पढ़ें: पढ़िए, बासमती चावल के जीआई टैग विवाद की पूरी कहानी 

ऐसे चेक करें रिकॉर्ड ठीक है या नहीं

पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम की ऑफीशियल वेबसाइट (pmkisan.gov.in) है. बेवसाइट को लॉग इन करना होगा. इसमें दिए गए ' Farmers Corner' वाले टैब में क्लिक करना होगा.

अगर आपने पहले आवेदन किया है और आपका आधार ठीक से अपलोड नहीं हुआ है या किसी वजह से आधार नंबर गलत दर्ज हो गया है तो इसकी जानकारी इसमें मिल जाएगी.

पीएम किसान हेल्पलाइन

-पीएम किसान स्कीम में अगर कोई किसान सीधे कृषि मंत्रालय से संपर्क करना चाहता है तो इसका भी इंतजाम किया गया है. जब आपकी कहीं पर सुनवाई न हो तो सीधे हेल्पलाइन नंबर 011-24300606, टोल फ्री नंबर: 18001155266 या पीएम किसान लैंडलाइन नंबर: 011—23381092, 23382401 पर बात कर सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading