जल्द आने वाले हैं PM Kisan स्कीम के पैसे, 30 जून से पहले करा लें रजिस्ट्रेशन मिलेंगे 4000 रुपये

जल्द आने वाले हैं PM Kisan स्कीम के पैसे, 30 जून से पहले करा लें रजिस्ट्रेशन मिलेंगे 4000 रुपये
जल्द आने वाले हैं PM Kisan स्कीम के पैसे, 30 जून से पहले करा लें रजिस्ट्रेशन

पीएम किसान स्कीम के तहत अगली किस्त 1 अगस्त 2020 से किसानों के खातों में ट्रांसफर हो जाएगी. अगर आप भी इस स्कीम का फायदा उठाना चाहते हैं तो तो 30 जून से पहले जरूर करा लें रजिस्ट्रेशन. इसमें फायदा ये होगा कि अगर 30 जून तक पीएम किसान योजना में आपका रजिस्ट्रेशन हो जाता है तो इस साल की दोनो किस्त यानी 4000 रुपये आपके खाते में आ जाएंगी.

  • Share this:
नई दिल्ली. सरकार की किसानों के लिए सबसे बड़ी योजना प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम (Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi scheme) के तहत खेती करने के लिए 6000 रुपये मुफ्त में पाने का मौका है. पीएम किसान स्कीम के तहत अगली किस्त 1 अगस्त 2020 से किसानों के खातों में ट्रांसफर हो जाएगी. आपको बता दें कि देश के 9 करोड़, 87 लाख 46 हजार किसान (Farmer) इस स्कीम में रजिस्टर्ड हो चुके हैं. अगर आप भी इस स्कीम का फायदा उठाना चाहते हैं तो तो 30 जून से पहले जरूर करा लें रजिस्ट्रेशन. इसमें फायदा ये होगा कि अगर 30 जून तक पीएम किसान योजना में आपका रजिस्ट्रेशन हो जाता है तो इस साल की दोनो किस्त यानी 4000 रुपये आपके खाते में आ जाएंगी. पीएम किसान के तहत जो नियम हैं, अगर आप जून में आवेदन करते हैं और यह स्वीकार हो जाता है तो अगली 2 किस्त आपको मिल जाएगी.

स्कीम का फायदा उठाने के लिए चाहिए होंगे ये डाक्यूमेंट और देनी होगी ये जानकारियां 
>> नाम और उम्र
>> जेंडर और कटेगिरी (SC/ST)
>> बैंक खाता नंबर और IFSC कोड
>> मोबाइल नंबर


>> आधार नंबर की सही जानकारी (आसाम, मेघालय, J&K और लद्दाख जैसे राज्यों को छोड़कर जहां ज्यादातर नागरिकों को आधार नंबर जारी नहीं हुए हैं. यहां आधार की जानकारी देने के लिए अभी कुछ दिनों की छूट है.) ऐसे राज्यों में जिनके पास आधार है, उनसे इनकी जानकारी ली जा रही है. लेकिन जिनके पास नहीं है, उन्हें राज्य या केंद्र से मिला कोई अल्टरनेट वैलिड डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिए देना होगा. आधार एनरॉलमेंट नंबर भी मान्य है.
>> इस कंडीशन में ड्राइविंब लाइसें, वोटर कार्ड, NREGA जॉब कार्ड भी मान्य होगा.

ऐसे होती है लाभ पाने वालों की पहचान
केंद्र ने राज्य/UT सरकारों को “मौजूदा भूमि स्वामित्व प्रणाली” का उपयोग करने के लिए कहा है ताकि लाभार्थियों की पहचान की जा सके और पीएम-किसान पोर्टल पर परिवार के विवरण अपलोड होने के बाद उनके खाते में पैसे भेजें जा सकें. इसमें कहा गया है कि पात्र लाभार्थी किसानों की पहचान करने और पीएम-किसान पोर्टल पर उनका विवरण अपलोड करने की जिम्मेदारी पूरी तरह से राज्य सरकारों की है. एक बार आवेदन करने के बाद राज्य/UT सरकारों को उस बारे में जांच करने का अधिकार है. सब कुछ सही पाए जाने पर ही इस योजना के तहत लाभ का हकदार माना जाता है.

1 साल में आती हैं 3 किस्त 
बता दें कि सरकार 1 साल में 3 किस्त के जरिए किसानों को 6000 रुपये कह मदद करती है. अलग अलग 3 किस्तों में किसानों के खाते में 2000-2000 रुपये ट्रांसफर किया जाता है. पहली किस्त 1 दिसंबर से 31 मार्च के बीच आती है. दूसरी किस्त एक अप्रैल से 31 जुलाई और तीसरी किस्त 1 अगस्त से 30 नवंबर तक किसानों के खाते में डायरेक्ट ट्रांसफर कर दी जाती है. ऐसे में 30 जून तक योजना में जुड़ जाते हैं तो 1 अगस्त से पहले योजना में आवेदन करते हैं तो 1 अगस्त और 1 दिसंबर वाली किस्त आपको मिल सकती है.

ज्यादा जानकरी के लिए यहां करें संपर्क
>> पीएम किसान हेल्पलाइन – 155261

>> पीएम किसान टोल फ्री – 1800115526

>> पीएम किसान लैंड लाइन नंबर: 011-23381092, 23382401

>> इसके अलावा मेल आईडी pmkisan-ict@gov.in पर ईमेल भी कर सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading