PM KISAN Scheme: आपके खाते में आएंगे 2000 रुपये, सरकार किस तारीख को देगी पैसा जल्दी करें चेक!

आपके खाते में आएंगे 2000 रुपये

आपके खाते में आएंगे 2000 रुपये

केंद्र सरकार किसानों को हर साल पीएम-किसान योजना (PM-KISAN) के तहत 6000 रुपये देती है, ताकि उनकी आमदनी (Farmers' Income) बढ़ाई जा सके. ये 6,000 रुपये 2,000 रुपये की तीन किस्‍तों में सीधे किसानों के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर (DBT) किए जाते हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली: किसानों (Indian Farmer) के लिए खुशखबरी है उनके खाते में जल्द ही 2000 रुपये की किस्त आने वाली है. केंद्र सरकार की ओर से देश के पीएम किसान सम्मान निधि (Pm Kisan Scheme) के तहत किसानों को 6000 रुपये की आर्थिक सहायता दी जाती है. आपको 8वीं किस्त का पैसा जल्द ही मिल जाएगा. इस योजना के तहत करीब 9.5 करोड़ लाभार्थी किसानों के खाते में एक किस्त के रूप में 2,000 रुपये आते हैं.

आपको बता दें हर साल आमतौर पर प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (PM-Kisan Yojana) की पहली किस्त 20 अप्रैल तक आ जाती है. नियम के मुताबिक पहली किस्त 1 अप्रैल से 31 जुलाई के बीच कभी भी आ सकती है.

यह भी पढ़ें: अपनी बेटी को 15 लाख रुपये का तोहफा, पढ़ाई हो या शादी सबमें आएगा काम, पूरा होगा ‘सुपरगर्ल’ बनने का सपना!

किन किसानों को मिलेगा फायदा?
पीएम किसान सम्मान निधि के तहत केवल उन्हीं किसानों को इसका फायदा मिलता है जिनके पास 2 हेक्टेयर यानी 5 एकड़ कृषि योग्य खेती हो. अब सरकार ने जोत की सीमा को खत्म कर दी है. खेती योग्य जमीन जिसके नाम से हैं, उन्हीं को पैसे मिलते हैं, लेकिन अगर कोई इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करता है तो उसे पीएम किसान सम्मान निधि से बाहर रखा गया है. इसमें वकील, डॉक्टर, सीए आदि भी इस योजना से बाहर हैं.

घर बैठे हो जाएगा रजिस्ट्रेशन

आपको बता दें इस स्कीम में आप घर बैठे रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. इसके लिए आपके पास अपने खेत की खतौनी, आधार कार्ड, मोबाइल नंबर और बैंक अकाउंट नंबर होना जरूरी है. आइए आपको बताते हैं कि आप कैसे करा सकते हैं रजिस्ट्रेशन-



इस तरह करा सकते हैं रजिस्ट्रेशन

1. आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in पर जाएं

2. अब Farmers Corner पर जाइए.

3. यहां आपको 'New Farmer Registration' पर क्लिक करें

4. आधार नंबर डालना होगा.

5. कैप्चा कोड डालकर राज्य को चुनना होगा और फिर प्रोसेस को आगे बढ़ाना होगा.

6. अपनी पर्सनल जानकारी भरनी होगी.

7. साथ ही बैंक अकाउंट का विवरण और खेत से जुड़ी जानकारी भरनी होगी.

8. इसके बाद आप फॉर्म सबमिट कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें: इस तरह शुरू करें आइसक्रीम पार्लर, 3 महीने में ही हो जाएगी लाखों की कमाई, जानें कैसे

आखिर आने में क्यों हो रही है देरी

आपको बता दें सूत्रों का कहना है कि कोरोना संकट की वजह से लाभार्थियों के वैरिफिकेशन की प्रक्रिया में देरी हो रही है. इसके अलावा जिन अपात्र किसानों को पहले इसका लाभ मिला है उनसे पैसा वसूलने की प्रक्रिया भी शुरू हो गई है. प्रक्रिया पूरी होने के बाद करीब 9.5 करोड़ किसानों को पहली किस्त के रूप में कुल 19,000 करोड़ रुपये की राशि जारी कर दी जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज