राहत! मोदी सरकार कोरोना में अनाथ हुए बच्चों को दे रही 10 लाख का फंड, फ्री शिक्षा और कई सहायता

केंद्र सरकार ने बच्चों की शिक्षा के लिए किया बड़ा ऐलान

PM Cares For Children Fund: कोरोना वायरस महामारी में अपने माता पिता को खोने वाले अनाथ बच्चों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बड़ी राहत दी है. ऐसे बच्चों को ‘पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रेन’ स्‍कीम के तहत मुफ्त शिक्षा, इलाज, बीमा और स्टाइपेंड की सुविधा मिलेगी.

  • Share this:
    नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने कोरोना (Covid-19) में माता पिता खोने वाले बच्चों के लिए बड़ा ऐलान किया है. ऐसे बच्चों को मुफ्त शिक्षा और इलाज की सुविधा मिलेगी. 18 वर्ष का होने पर मासिक आर्थिक सहायता (स्टाइपेंड) और 23 वर्ष का होने पर 10 लाख रुपये की आर्थिक मदद मिलेगी. पीएम मोदी ने घोषणा की है कि कोरोना के कारण माता पिता या अभिभावक दोनों को खोने वाले सभी बच्चों को पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना (PM CARES for Children scheme) के तहत सहायता दी जाएगी.

    शुरू की केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना
    PMO ने बयान जारी कर कहा कि केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना के तहत कोविड के कारण अनाथ हुए बच्चे जब 18 साल के हो जाएंगे तो एक स्पेशल स्कीम के तहत 10 लाख रुपये का एक फंड बनाया जाएगा और हर महीने उन्हें उसमें से स्टाइपेंड मिलेगा, ताकि शिक्षा के दौरान वे अपनी पर्सनल जरूरतें पूरी कर सकें. वहीं, 23 साल की उम्र होने पर इस फंड में बचा हुआ अमाउंट उन्हें एकमुश्त दिया जाएगा.

    ये भी पढ़ें: सरकार ने किया बड़ा ऐलान! 21 हजार तक सैलरी वालों को मिलेगी पेंशन, ESIC की पारिवारिक पेंशन योजना का इन लोगों को होगा लाभ

    शिक्षा का खर्च उठाएगी सरकार
    पीएम मोदी ने कहा कि ऐसे 10 साल से कम उम्र के अनाथ बच्चों को नजदीक के केंद्रीय विद्यालय में एडमिशन दिलाया जाएगा. प्राइवेट स्कूल में एडमिशन होने पर उनकी फीस पीएम केयर्स फंड से केंद्र सरकार जमा कराएगी. इसके अलावा बच्चों की किताबें, स्कूल ड्रेस आदि का खर्च भी केंद्र सरकार उठाएगी. वहीं, 11 साल से अधिक उम्र के बच्चों का दाखिला सैनिक स्कूल और नवोदय विद्यालय में कराया जाएगा.

    आयुष्मान भारत योजना के तहत मिलेगा 5 लाख रुपये का हेल्थ इंश्योरेंस
    हाइयर एजुकेशन में ऐसे अनाथ बच्चों के एजुकेशन लोन पर लगने वाला इंटरेस्ट केंद्र सरकार वहन करेगी. इसके साथ ही उनकी कोर्स फीस और ट्यूशन फीस भी पीएम केयर्स फंड से दिया जाएगा. साथ ही सभी अनाथ बच्चों को आयुष्मान भारत योजना के तहत 5 लाख रुपये का हेल्थ इंश्योरेंस मिलेगा. 18 साल की उम्र तक उसका प्रीमियम केंद्र सरकार भरेगी.

    ये भी पढ़ें: केंद्र सरकार दे रही 5 लाख रुपये जीतने का मौका, बस 25 जून से पहले करना होगा ये काम

    इन योजनाओं की घोषणा करते हुए पीएम ने कहा कि बच्चे देश का भविष्य हैं. उनकी मदद करने के लिए सरकार हरसंभव कोशिश करेगी. सरकार चाहती है कि वे मजबूत नागरिक बनें और उनका भविष्य उज्ज्वल हो.