Home /News /business /

महंगे पेट्रोल-डीजल की गुत्‍थी सुलझाने में जुटे PM नरेंद्र मोदी, तेल-गैस कंपनियों के CEOs के साथ की उच्‍चस्‍तरीय बैठक

महंगे पेट्रोल-डीजल की गुत्‍थी सुलझाने में जुटे PM नरेंद्र मोदी, तेल-गैस कंपनियों के CEOs के साथ की उच्‍चस्‍तरीय बैठक

पीएम नरेंद्र मोदी ने दुनिया की बड़ी तेल व गैस कंपनियों के सीईओ के साथ बैठक की. (सांकेतिक फोटो)

पीएम नरेंद्र मोदी ने दुनिया की बड़ी तेल व गैस कंपनियों के सीईओ के साथ बैठक की. (सांकेतिक फोटो)

पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की उच्‍चस्‍तरीय बैठक में रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड (RIL) के चेयरमैन व प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी (CMD Mukesh Ambani) समेत दुनिया की बड़ी तेल व गैस कंपनियों के सीईओ शामिल रहे.

    नई दिल्‍ली. देश में पेट्रोल और डीजल के दाम (Petrol-Diesel Prices) इस समय आसमान छू रहे हैं. हाल-फिलहाल ईंधन की कीमतों के घटने की कोई उम्‍मीद भी नजर नहीं आ रही है. इस बीच, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Pm Narendra Modi) ने दुनिया की प्रमुख तेल व गैस कंपनियों के मुख्‍य कार्यकारी अधिकारियों (Oil & Gas Companies CEOs) के साथ बैठक की. इसमें पेट्रोल और डीजल की कीमतों पर अंकुश लगाने के लिए समाधान निकल को लेकर चर्चा हुई.

    ये सीईओ रहे उच्‍चस्‍तरीय बैठक में शामिल
    पीएम मोदी की उच्‍चस्‍तरीय बैठक में रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड (RIL) के चेयरमैन व प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी (CMD Mukesh Ambani), रूस की रॉसनेफ्ट (Rosneft) के चेयरमैन व सीईओ डॉ. इगोर सेचिन (Dr. Igor Sechin) और सऊदी अरामको (Sudi Aramco) के प्रेसिडेंड व सीईओ अमीन नासेर (Amin Nasser) शामिल रहे. इनके अलावा बैठक में ब्रिटेन की ब्रिटिश पेट्रोलियम के सीईओ बर्नार्ड लूनी, अमेरिका की श्लमबर्जर लिमिटेड के सीईओ ओलिवर ली पेच, यूओपी की हनीवैल के प्रेसिडेंट और सीईओ ब्रायन ग्‍लोवर ने भी शिरकत की.

    ये भी पढ़ें- पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों की वजह से नहीं ले रहे कार तो ये 5 फ्यूल एफिशिएंट कारें हैं बेहतर विकल्‍प, देखें डिटेल्‍स

    इन मुद्दों पर भी बैठक में हुई चर्चा
    प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) के मुताबिक, यह छठी वार्षिक बातचीत है, जो 2016 में शुरू हुई थी. इसमें तेल व गैस क्षेत्र के ग्‍लेाबल लीडर्स शामिल होते हैं. वे इस क्षेत्र के प्रमुख मुद्दों और भारत के साथ सहयोग तथा निवेश के संभावित क्षेत्रों का पता लगाने के लिए विचार-विमर्श करते हैं. बातचीत के दौरान भारत में हाइड्रोकार्बन क्षेत्र में खोज व उत्पादन को प्रोत्साहित करने, ऊर्जा आत्मनिर्भरता, गैस आधारित अर्थव्यवस्था, स्वच्छ व ऊर्जा कुशल समाधानों के जरिये उत्सर्जन में कमी, हरित हाइड्रोजन अर्थव्यवस्था और जैव ईंधन उत्पादन में बढ़ोतरी जैसे क्षेत्रों पर भी चर्चा हुई.

    ये भी पढ़ें – देश में फिर लौटेगा ऊंची सैलरी का दौर! पहले से ज्‍यादा होगी वेतन वृद्धि, कंपनियां भी करेंगी बंपर नियुक्तियां

    क्‍या दूसरे प्राइस इंडेक्‍स पर हो सकती है तेल खरीद?
    पीएम मोदी की इस उच्‍चस्‍तरीय बैठक में तेल की कीमतों पर कैप लगाने यानी सीमा तय करने के लिए व्यवस्था बनाने पर बात हुई. सूत्राें के मुताबिक, केंद्र सरकार ने किसी दूसरे प्राइस इंडेक्स पर तेल की खरीद के विकल्‍प पर भी चर्चा की. बताया जा रहा है कि पेट्रोल-डीजल की कीमतों में अस्थिरता लंबे समय तक नहीं रहेगी. मांग और आपूर्ति का अंतर ज्‍यादा नहीं होने के कारण जल्‍द ही इसके सामान्‍य होने की उम्‍मीद जताई जा रही है.

    Tags: Crude oil, Crude oil prices, Mukesh ambani, Pm narendra modi, Reliance industries, Saudi arabia

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर