चालू तिमाही में शेयर बिक्री से 3,200 करोड़ रुपये जुटाएगा PNB

पंजाब नेशनल बैंक

पंजाब नेशनल बैंक

सार्वजनिक क्षेत्र का पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank) अपना पूंजी आधार मजबूत करने के लिए चालू तिमाही में शेयर बिक्री से 3,200 करोड़ रुपये जुटाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 6, 2021, 4:48 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. सार्वजनिक क्षेत्र का पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank) अपना पूंजी आधार मजबूत करने के लिए चालू तिमाही में शेयर बिक्री से 3,200 करोड़ रुपये जुटाएगा. पीएनबी ने शनिवार को इस बात की जानकारी दी. बैंक ने दिसंबर में पात्र संस्थागत नियोजन (क्यूआईपी) से 3,788.04 करोड़ रुपये जुटाए हैं. इसके बाद बैंक में सरकार की हिस्सेदारी 85.59 प्रतिशत से घटकर 76.87 प्रतिशत रह गई है. बैंक इक्विटी और ऋण से 14,000 करोड़ रुपये जुटाने की मंजूरी हासिल कर चुका है. योजना के तहत बैंक ने एटी-1 बांड से 3,000 करोड़ रुपये और टियर-दो बांड से 4,000 करोड़ रुपये और क्यूआईपी से 7,000 करोड़ रुपये जुटाने का फैसला किया है.

दिसंबर तक टियर-दो बांड से जुटाए 4,000 करोड़ रु- पीएनबी के प्रबंध निदेशक एस एस मल्लिकार्जुन राव ने कहा, हम दिसंबर के अंत तक टियर-दो बांड से 4,000 करोड़ रुपये और क्यूआईपी से 3,788 करोड़ रुपये जुटा चुके हैं. जनवरी में हमने एटी-1 से 500 करोड़ रुपये और जुटाए हैं. मुझे पूरा विश्वास है कि अतिरिक्ति टियर-1 बांड से हम 31 मार्च से पहले शेष 2,500 करोड़ रुपये और जुटा लेंगे.

बैंक के तिमाही नतीजों के बाद मीडिया से बातचीत में राव ने कहा कि हम क्यूआईपी से शेष 3,200 करोड़ रुपये जुटाने को बाजार में उपयुक्त समय पर उतरेंगे. यह इसी वित्त वर्ष में हो सकता है. उन्होंने कहा कि बैंक का पूंजी पर्याप्तता अनुपात सिर्फ मार्च, 2021 की जरूरत को पूरा करने के लिए नहीं, बल्कि अगले वित्त वर्ष के लिए भी पर्याप्त है.

ये भी पढ़ें: समय पर नहीं किया Credit Card Bill का पेमेंट, उठाना पड़ सकता है ये 4 नुकसान
पीएनबी का एकल आधार पर शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में 506.03 करोड़ रुपये रहा. फंसे कर्ज में कमी से बैंक का लाभ बढ़ा है. इससे पूर्व वित्त वर्ष 2019-20 की इसी तिमाही में बैंक को 492.28 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था. पीएनबी ने शुक्रवार को शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि बैंक की कुल आय आलोच्य तिमाही में बढ़कर 23,298.53 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले 2019-20 की तीसरी तिमाही मे 15,967.49 करोड़ रुपये था
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज