PNB ने RBI को दी एक और 3,688.58 करोड़ रुपये के फ्रॉड मामले की जानकारी! अब क्या होगा ग्राहकों का

PNB ने RBI को दी एक और 3,688.58 करोड़ रुपये के फ्रॉड मामले की जानकारी! अब क्या होगा ग्राहकों का
पंजाब नेशनल बैंक

देश के दूसरे सबसे बड़े बैंक पीएनबी (PNB- Punjab National Bank) ने एक और फॉर्ड की जानकारी RBI को दी है. आपको बता दें कि इससे पहले बैंक के साथ

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 10, 2020, 10:34 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पीएनबी यानी पंजाब नेशनल बैंक (PNB-Punjab National Bank) ने गुरुवार को कहा कि उसने दीवान हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड (DHFL) के एनपीए (NPA-Non Performing Assets) खाते में 3,688.58 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के बारे में जानकारी आरबीआई को दी है. इससे पहले साल 2018 में बिजनेसमैन नीरव मोदी ने पीएनबी के साथ 15000 करोड़ रुपये का फॉर्ड किया था.  PNB ने स्टॉक एक्सचेंज को दी गई सूचना में DHFL फॉर्ड की जानकारी दी है. आपको बता दें कि  बैंकिंग रेगुलेटर आरबीआई द्वारा तय नियमों के मुताबिक अगर इस तरह के खाता का चार तिमाही तक रिकवरी नहीं हो पाया तो इसका 100 फीसदी प्रोविजन करना होता है.

अब क्या होगा ग्राहकों का- एक्सपर्ट्स का कहना है कि इससे बैंक के ग्राहकों को पर कोई असर नहीं होगा. उनका पैसा पूरी तरह से सुरक्षित है. लेकिन, शेयर में गिरावट आ सकती है. ऐसे में निवेशकों को कुछ नुकसान हो सकता है.

क्या है DHFL मामला-डीएचएफएल देश की पहली फाइनेंशियल कंपनी है जिसे बैंकरप्सी कोर्ट में ले जाया गया. इसका कुल कर्ज 85,000 करोड़ रुपए से ज्यादा का है. इसके प्रमोटर कपिल वधावन पर आरोप हैं कि वे मनी लांड्रिंग करते थे.



ये भी पढ़ें-सरकार दे रही है बाजार भाव से 2000 रुपये तक सस्ता सोना खरीदने का मौका! आज है लास्ट दिन
इस मामले में वधावन बंधुओं पर ईडी कार्रवाई कर रहा है. सीरियस फ्रॉड इनवेस्टिगेशन डीएचएफएल की जांच कर रहा है. फॉरेंसिक रिपोर्ट के अनुसार इस कंपनी ने अपने से जुड़ी कंपनियों और प्रमोटर्स को लोन दिया था.ऐसी 65 कंपनियों को करीबन 24,594 करोड़ रुपए का कर्ज दिया गया था। इन कंपनियों के पास सही डाक्यूमेंट भी नहीं थे.

PNB ने कहा है कि डीएचएफएल खाते के 3,688.58 करोड़ रुपए के धोखाधड़ी की जानकारी आरबीआई को दे दी है. बैंक ने तय नियमों के तहत पहले ही 1,246.58 करोड़ रुपए का प्रोविजन किया था. इससे पहले भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) और यूनियन बैंक ने भी डीएचएफएल को फ्रॉड अकाउंट घोषित किया था. निजी क्षेत्र के बैंक इंडसइंड बैंक ने भी इसी तरह का फैसला किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading