Post Office की इन दो स्कीम में लगाएं पैसा, बैंक FD से ज्यादा मिलेगा मुनाफा

पोस्ट ऑफिस (Post Office) विभिन्न प्रकार की डाक सेवाओं के साथ कई तरह की बैंकिंग सेवाएं भी मुहैया करवाता है.

News18Hindi
Updated: June 20, 2019, 8:46 AM IST
Post Office की इन दो स्कीम में लगाएं पैसा, बैंक FD से ज्यादा मिलेगा मुनाफा
पोस्ट ऑफिस की इन दो स्कीम में बनेगा पैसा, बैंक FD से मिलता है ज्यादा ब्याज
News18Hindi
Updated: June 20, 2019, 8:46 AM IST
पोस्ट ऑफिस (Post Office) विभिन्न प्रकार की डाक सेवाओं के साथ कई तरह की बैंकिंग सर्विस भी मुहैया करवाता है. पोस्ट ऑफिस में पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) समेत 9 प्रकार की स्मॉल सेविंग स्कीम की पेशकश की जाती है जो सरकार की तरफ से प्रायोजित निवेश स्कीम हैं. पोस्ट ऑफिस की इन स्कीमों में दो स्कीम ऐसी हैं, जिसकी ब्याज दर 8 फीसदी से ज्यादा है यानी इन दो स्कीम में निवेश करने पर ज्यादा मुनाफा कमाया जा सकता है.

1. सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम
पोस्ट ऑफिस की वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (SCSS) वरिष्ठ नागरिकों के लिए है. इस स्कीम में बैंक की फिक्स्ड डिपॉजिट से ज्यादा ब्याज मिलता है. वरिष्ठ नागरिकों के लिए पोस्ट ऑफिस की यह स्कीम सबसे सुरक्षित निवेश का जरिया है. इस स्कीम के तहत 5 साल के लिए पैसा निवेश किया जा सकता है. मैच्योरिटी के बाद इस स्कीम को 3 साल के लिए बढ़ाया जा सकता है. इस योजना के तहत आप अधिकतम 15 लाख रुपये तक का निवेश कर सकते हैं.

मोदी सरकार का किसान प्लान: बांस लगाईए, चैन की बंसी बजाईए!

सालाना 8.7 फीसदी ब्याज दर
वरिष्ठ नागरिक बचत योजना में निवेश की गई पूंजी पर सालाना 8.7 फीसदी का ब्याज मिलता है. हालांकि, इस ब्याज पर टैक्स देना होता है. इस स्कीम के तहत निवेश करने पर 1 अप्रैल, 2007 से इनकम टैक्स एक्ट 1961 (Income Tax Act, 1961) के सेक्शन 80C के अंतर्गत टैक्स छूट का लाभ मिल रहा है.


Loading...

कब खोल सकते हैं अकाउंट
सीनियर सिटीजन रिटायरमेंट के बाद SCSS अकाउंट खोल सकते हैं. 60 वर्ष या उससे अधिक आयु के बाद अकाउंट खोला जा सकता है. VRS लेने वाला व्यक्ति जो 55 वर्ष से अधिक लेकिन 60 वर्ष से कम है वो भी इस अकाउंट को खोल सकता है. इस अकाउंट का मैच्योरिटी पीरियड 5 वर्ष है. इस अकाउंट को नकद और चेक के जरिये खोला जा सकता है. 1 लाख रुपये से कम की नकद रकम पर इस अकाउंट को खोला जा सकता है. अगर 1 लाख रुपये से अधिक रकम से आप अकाउंट खोलना चाहते हैं तो चेक देना अनिवार्य है.

ये भी पढ़ें: बजट 2019: किसानों को ये सौगात दे सकती है मोदी सरकार!

2. सुकन्या समृद्धि स्कीम
सुकन्या समृद्धि स्कीम के तहत आपको बेटी के लिए अकाउंट खोलने का मौका मिलता है. इस स्कीम के तहत खाता खोलने के लिए एक वित्त वर्ष में कम से कम एक हजार रुपये और अधिकतम 1.5 लाख रुपये की जरूरत होती है. सालाना 1.5 लाख रुपये के निवेश पर आप टैक्स छूट का फायदा उठा सकते हैं. अगर किसी वित्त वर्ष में आपके खाते में एक हजार रुपये जमा नहीं होते हैं, तो आपका खाता बंद हो जाएगा. ऐसी स्थिति में आप पर जुर्माना लगेगा, जिसके बाद आपका खाता दोबारा शुरू होगा.

8.5 फीसदी ब्याज दर
सुकन्या समृद्धि स्कीम में सालाना 8.5 फीसदी ब्याज मिलता है. इसके साथ ही सेक्शन 80C के तहत इस योजना में निवेश करने पर टैक्स छूट का भी लाभ मिलता है. स्कीम से मिलने वाला रिटर्न भी टैक्स फ्री है.

कौन खुलवा सकता है इस स्कीम में खाता
यह खाता बेटी के माता-पिता या कानूनी अभिभावक उसके नाम से खुलवा सकते हैं. इसे बेटी के जन्म से उसके 10 साल का होने तक खुलवाया जा सकता है. नियमों के मुताबिक, एक बच्ची के लिए एक ही खाता खोला जा सकता है और उसमें पैसा जमा किया जा सकता है. यानी एक बच्ची के लिए दो खाते नहीं खोले जा सकते हैं. खाता खुलवाते समय बेटी का बर्थ सर्टिफिकेट पोस्ट ऑफिस या बैंक में देना जरूरी है. इसके साथ ही बेटी और अभिभावक के पहचान और पते का प्रमाण भी देना पड़ता है.

आम बजट 2019 की सही और सटीक खबरों के लिए न्यूज18 हिंदी पर आएं. खबरों और वीडियो के लिए यहां क्लिक करें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 20, 2019, 7:17 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...