• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • हर महीने 5 हजार रुपये तक बढ़ जाएगी आपकी इनकम, बस करना होगा ये छोटा सा काम

हर महीने 5 हजार रुपये तक बढ़ जाएगी आपकी इनकम, बस करना होगा ये छोटा सा काम

इस वित्त वर्ष में नहीं छपे 2000 रु के नोट,तो क्या RBI बंद करने वाली है ये नोट?

इस वित्त वर्ष में नहीं छपे 2000 रु के नोट,तो क्या RBI बंद करने वाली है ये नोट?

रेगुलर इनकम के अलावा हर महीने एक तय इनकम पाने के लिए पोस्ट ऑफिस के मंथली इनकम स्कीम (PO MIS) में निवेश किया जा सकता है. इस स्कीम के तहत ज्वाइंट अकाउंट भी खुलवाया जा सकता है, जिसमें और भी ज्यादा ब्याज मिलेगा.

  • Share this:
    नई दिल्ली. आज के समय में किसी व्यक्ति की कमाई सैलरी से आती हो या बिजनेस से, उन्हें एक ​अतिरिक्त इनकम सोर्स की चाह जरूर होती है. ऐसे लोगों के लिए पोस्ट ऑफिस की मंथली इनकम स्कीम (PO MIS) एक बेहतर विकल्प साबित हो सकती है. इस स्कीम के तहत अगर कोई व्यक्ति ज्वाइंट अकाउंट खुलवाता है तो इससे होने वाली उनकी कमाई दोगुनी हो जाती है. ऐसे में इस स्कीम का लाभ उठाने का मौका आपके पास भी है.

    टैक्स और इन्वेस्टमेंट की बात करें तो इस लिहाज से भी यह विकल्प बेहतर है. कोरोना वायरस महामारी की वजह से कई लोगों की नौकरी जा चुकी है या उनकी सैलरी में हर महीने कटौती हो रही है. हालांकि, पहले इस स्कीम का लाभ रिटायर्ड लोगों के लिए ही था, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि पोस्ट आॅफिस की यह स्कीम केवल सीनियर सिटिजंस के लिए ही है.

    यह भी पढ़ें: इन 10 बैंकों में एफडी पर सबसे ज्यादा रिटर्न मिलता है, टैक्स की भी होगी बचत

    ज्वाइंट अकाउंट में 9 लाख रुपये इन्वेस्ट करने का मौका
    यह स्कीम उनके लिए सबसे बेहतर है जो वन टाइम इन्वेस्टमेंट करने के बाद रेगुलर इनकम प्राप्त करना चाहते हैं. इस स्कीम के तहत एक व्यक्ति 4.5 लाख रुपये तक का वन टाइम इन्वेस्टमेंट कर सकता है. हालांकि, ज्वाइंट अकाउंट के तहत यह लिमिट 9 लाख रुपये की हो जाती है. ज्वाइंट अकाउंट पति/पत्नी के साथ मिलकर खुलवाया जा सकता है.

    कैसे होगी हर महीने 5 हजार की कमाई?
    वर्तमान में पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम पर 6.6 फीसदी की दर से ब्याज मिलता है. इसका मतलब है कि इस स्कीम के तहत उस व्यक्ति को सालाना 29,700 रुपये का फायदा होगा. हालांकि, ज्वाइंट अकाउंट खोलने और 9 लाख रुपये का इन्वेस्टमेंट करने पर यह रिटर्न दोगुनी होकर 59,400 रुपये की हो जाएगी. अगर इसमें हम 12 महीनों में बराबर बांटे तो हर महीने रिटर्न के तौर पर 4,950 रुपये हो मिल सकता है. अगर आप इस स्कीम रिटर्न को विड्रॉ नहीं करते हैं तो सालाना 59,400 रुपये के इंटरेस्ट को अकाउंट में छोड़ देते हैं तो इससे भी ज्यादा रकम ब्याज के तौर पर इकट्ठा हो सकती है.

    यह भी पढ़ें:  इस सरकारी बैंक ने लॉन्च की कोरोना कवच पॉलिसी, 300 रुपए में लें 5 लाख तक का कवर

    दरअसल, इन्वेस्टर्स इस रकम पर ब्याज प्राप्त करेंगे और उन्हें कम्पाउंंडिंग का लाभ मिल सकेगा. इस प्रकार 6.6 फीसदी की दर से इस 59,400 रुपये पर भी आपको सालाना 3,920.40 रुपये का ब्याज मिलेगा. अगले दो साल में 9 लाख रुपये का इन्वेस्टमेंट बढ़कर 9,63,320.40 रुपये हो जाएगा.

    कौन खोल सकता है खाता?
    आप अपने बच्चे के नाम से भी अकाउंट खोल सकते हैं. अगर बच्चा 10 साल से कम उम्र का है तो उसके नाम पर उसके माता-पिता या लीगल गार्जियन की ओर से अकाउंट खोला जा सकता है. बच्चे की उम्र 10 साल होने पर वह खुद भी अकाउंट के संचालन का अधिकार पा सकता है. वहीं, एडल्ट होने पर उसे खुद जिम्मेदारी मिल जाती है.

    कैसे खुलेगा खाता?
    आप अपनी सुविधा के अनुसार किसी भी पोस्ट ऑफिस में जाकर अकाउंट खुलवा सकते हैं. इसके लिए आपको आधार कार्ड, वोटर आईडी, पैन कार्ड, राशन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस में से किसी एक की फोटो कॉपी जमा करनी होगी. इसके अलावा एड्रेस प्रूफ जमा करना होगा, जिसमें आपका पहचान पत्र भी काम आ सकता है. इसके अलावा आपको 2 पासपोर्ट साइज के फोटोग्राफ जमा करने होंगे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज